Sunday, July 21, 2024
Homeदेश-समाज'अगला नंबर निशांत शर्मा का…' : पंजाब में हिंदूवादी नेताओं को मिली जान से...

‘अगला नंबर निशांत शर्मा का…’ : पंजाब में हिंदूवादी नेताओं को मिली जान से मारने की धमकी, विदेश से आई कॉल; कहा- पीतल भर देंगे

निशांत शर्मा ने अपनी जान का खतरा बताते हुए कहा है कि उन्हें व्हाट्सएप पर ऑडियो और वीडियो कॉल कर के धमकी दी जा रही है। धमकियाँ देने वाले नंबर विदेशी हैं। निशांत के अनुसार हिंदू नेता सुधीर सूरी की हत्या के बाद वो खालिस्तानियों ने निशाने पर हैं।

पंजाब में एक और हिंदूवादी नेता ने खुद को जान से मारने की धमकी मिलने की शिकायत दर्ज करवाई है। शिवसेना हिन्द के राष्ट्रीय अध्यक्ष निशांत शर्मा ने बताया कि उन्हें विदेश के नम्बरों से लगातार धमकियाँ आ रहीं हैं। इस बीच एक वीडियो भी सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है जिसमें एक संदिग्ध व्यक्ति हाथ में AK-47 ले कर निशांत शर्मा को गाली देते हुए हवाई फायरिंग कर रहा है। निशांत के अलावा अमित अरोड़ा, पवन गुप्ता और अन्य हिंदूवादी नेता भी खालिस्तानियों के निशाने पर बताए जा रहे हैं।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक निशांत शर्मा ने अपनी जान का खतरा बताते हुए कहा है कि उन्हें व्हाट्सएप पर ऑडियो और वीडियो कॉल कर के धमकी दी जा रही है। धमकियाँ देने वाले नंबर विदेशी हैं। निशांत के अनुसार हिंदू नेता सुधीर सूरी की हत्या के बाद वो खालिस्तानियों ने निशाने पर हैं। उन्होंने अपने परिवार और रिश्तेदारों के नाम से भी धमकी भरे कॉल आने की शिकायत की है। अपने ऊपर चल रहे खतरे को देखते हुए निशांत जनवरी 2023 में ही अलग-अलग पुलिस स्टेशनों ने 3 केस दर्ज करवा चुके हैं।

जिन नामों से निशांत को सबसे ज्यादा धमकाया जा रहा है उसमें जग्गू भगवानपुरिया और गोल्डी बराड़ प्रमुख हैं। इन धमकियों में पीतल भर देंगे जैसी बातें भी शामिल हैं। सुधीर सूरी की हत्या के बाद खालिस्तानी गोपाल सिंह चावला की एक वीडियो पाकिस्तान में वायरल हुई थी। वायरल वीडियो में गोपाल सिंह ने सुधीर सूरी के कातिल को मुबारकबाद दी थी और अगला नंबर निशांत शर्मा व अमित अरोड़ा का बताया था। निशांत का यह भी कहना है कि पंजाब पुलिस ने उन्हें सुरक्षा दी है और वो लगातार पंजाब पुलिस के सम्पर्क में भी हैं।

अपनी FIR में निशांत ने बताया है कि उन्हें लश्कर-ए-खालसा नामक संगठन से लगातार धमकी मिल रही है। उन्होंने बताया है कि पूर्व में भी उनकी जान लेने का प्रयास किया गया है। निशांत के साथ रहने वाले परमिंदर भट्‌टी और एक पत्रकार को भी खालिस्तानियों ने मार डालने की धमकी दी है। हाईकोर्ट में डाली गई एक याचिका में भी निशांत के मुताबिक जेलों में बंद गैंगस्टरों की जल्द से जल्द सुनवाई कर के उन्हें सजा दी जाए वरना उन्हें भारी भरकम सुरक्षा के बीच कोर्ट लाने से कई युवा प्रभावित होते हैं।

गौरतलब है कि जनवरी 2023 में ही दिल्ली के भलस्वा इलाके से पकड़े गए नौशाद और जगजीत ने भी पाकिस्तान से पंजाब के हिंदूवादी नेताओं को खत्म करने का टारगेट मिलने की जानकारी दी थी। इसके लिए उन्हें बाकायदा हथियार और पैसे भी भेजे जा चुके थे।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘कमाल का है PM मोदी का एनर्जी लेवल, अनुच्छेद-270 हटाने के लिए चाहिए था दम’: बोले ‘दृष्टि’ वाले विकास दिव्यकीर्ति – आर्य समाज और...

विकास दिव्यकीर्ति ने बताया कि कॉलेज के दिनों में कई मुस्लिम दोस्त उनसे झगड़ा करते थे, क्योंकि उन्हें RSS के पक्ष से बहस करने वाला माना जाता था।

हर दिन 14 घंटे करो काम, कॉन्ग्रेस सरकार ला रही बिल: कर्नाटक में भड़का कर्मचारियों का संघ, पहले थोपा था 75% आरक्षण

आँकड़े कहते हैं कि पहले से ही 45% IT कर्मचारी मानसिक समस्याओं से जूझ रहे हैं, 55% शारीरिक रूप से दुष्प्रभाव का सामना कर रहे हैं। नए फैसले से मौत का ख़तरा बढ़ेगा।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -