Thursday, April 25, 2024
Homeदेश-समाजदिल्ली में सोशल डिस्टेंसिंग की उड़ी धज्जियाँ, ईद से पहले जामा मस्जिद के पास...

दिल्ली में सोशल डिस्टेंसिंग की उड़ी धज्जियाँ, ईद से पहले जामा मस्जिद के पास मार्केट में दिखी भारी भीड़

जामा मस्जिद के ठीक सामने मटिया महल बाजार में भारी भीड़ दिखी। ईद से पहले बड़ी संख्या में खरीदारी करने के लिए लोग सड़कों पर निकले। इस दौरान दिल्ली पुलिस लगातार लोगों से अपील करती रही कि वो सार्वजनिक जगहों पर इकट्ठा न हों। लेकिन इसका असर होता नहीं दिखा।

सोमवार (मई 25, 2020) को देश भर में ईद मनाई जाएगी। उससे पहले आज (मई 24, 2020) दिल्ली में सोशल डिस्टेंसिंग की जमकर धज्जियाँ उड़ाई गई। जामा मस्जिद के पास मार्केट में भारी संख्या में पहुँचे लोगों की भीड़ ने कोरोना के मद्देनजर जारी दिश-निर्देशों को ताक पर रख दिया।

जामा मस्जिद के ठीक सामने मटिया महल बाजार में भारी भीड़ दिखी। ईद से पहले बड़ी संख्या में खरीदारी करने के लिए लोग सड़कों पर निकले। इस दौरान दिल्ली पुलिस लगातार लोगों से अपील करती रही कि वो सार्वजनिक जगहों पर इकट्ठा न हों। सामाजिक दूरी का ध्यान रखें।

लेकिन पुलिस की अपील का लोगों पर कोई खास असर पड़ता नहीं दिखा। कोरोना का संक्रमण लगातार बढ़ रहा है। ऐसे में ये भीड़ डराने वाली है। ईद की खरीददारी के लिए हजारों की संख्या में लोग सड़कों पर उतरे और उन्होंने कोरोना संक्रमण के प्रसार का डर और भी बढ़ा दिया।

सैकड़ों की संख्या में लोग बाजार में खरीददारी कर रहे थे। इसलिए ये कहना गलत नहीं होगी कि कहीं ना कहीं लॉकडाउन 3 के बाद सरकार द्वारा दी गई रियायतों का लोग गलत फायदा उठा रहे हैं। इस भीड़ को देखकर अंदाजा लगाया जा सकता है कि अगर इनमें एक भी कोरोना पॉजिटिव शख्स हुआ तो हालात कितने खराब हो सकते हैं।

कोरोना वायरस के लगातार बढ़ते मामलों को देखते हुए पुलिस-प्रशासन सतर्क है। दिल्ली पुलिस ने लोगों से अपील की है कि वो इस बार सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान रखते हुए ईद मनाएँ और गले न मिलें। इसके साथ ही उन्होंने लोगों से घर पर ही नमाज पढ़ने की अपील की है, ताकि कोरोना संक्रमण को फैलने से रोका जा सके। इसके अलावा दिल्ली पुलिस जामिया में निगरानी के लिए ड्रोन कैमरे का इस्तेमाल भी कर रही है।

गौरतलब है कि इसी तरह का नज़ारा मुंबई के भिंडी बाजार में देखने को मिला। ‘एबीपी न्यूज़’ की ख़बर के अनुसार, भिंडी बाजार में बड़ी संख्या में ईद की ख़रीददारी के लिए निकले लोगों ने सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने से इनकार कर दिया। हालाँकि, उलेमाओं और मजहबी नेताओं से अपील करवाई गई थी कि लोग ईद की नमाज घर में ही पढ़ें और बाहर न निकलें। बावजूद इसके मुंबई में रोजदारों ने उनकी बातें नहीं सुनी।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

इंदिरा गाँधी की 100% प्रॉपर्टी अपने बच्चों को दिलवाने के लिए राजीव गाँधी सरकार ने खत्म करवाया था ‘विरासत कर’… वरना सरकारी खजाने में...

विरासत कर देश में तीन दशकों तक था... मगर जब इंदिरा गाँधी की संपत्ति का हिस्सा बँटने की बारी आई तो इसे राजीव गाँधी सरकार में खत्म कर दिया गया।

जिस जज ने सुनाया ज्ञानवापी में सर्वे करने का फैसला, उन्हें फिर से धमकियाँ आनी शुरू: इस बार विदेशी नंबरों से आ रही कॉल,...

ज्ञानवापी पर फैसला देने वाले जज को कुछ समय से विदेशों से कॉलें आ रही हैं। उन्होंने इस संबंध में एसएसपी को पत्र लिखकर कंप्लेन की है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
282,677FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe