Thursday, July 29, 2021
Homeदेश-समाजदिल्ली हाईकोर्ट ने 'कॉमेडियन' से ट्रोल बने कुणाल कामरा की याचिका पर सुनवाई करने...

दिल्ली हाईकोर्ट ने ‘कॉमेडियन’ से ट्रोल बने कुणाल कामरा की याचिका पर सुनवाई करने से किया इंकार, लगाई फटकार

दिल्ली हाईकोर्ट ने कहा कि विमान में इस तरह का व्यवहार स्वीकार नहीं किया जा सकता। दरअसल, कामरा ने एक हवाई यात्रा के दौरान रिपब्लिक टीवी के संपादक अर्नब गोस्वामी से बदसलूकी की थी। इसके बाद इंडिगो इयरलाइंस ने यात्री कामरा पर 6 महीने का प्रतिबंध लगा दिया था।

दिल्ली हाईकोर्ट ने ‘कॉमेडियन’ से ट्रोल बने कुणाल कामरा की उस याचिका पर सुनवाई करने से इंकार कर दिया है, जिसमें कामरा ने अपने ऊपर लगे प्रतिबंधों को हटाने की माँग की थी। कोर्ट ने टिपप्णी करते कॉमेडियन को फटकार लगाते हुए एक टिप्पणी भी की है, जिसमें दिल्ली हाईकोर्ट ने कहा कि विमान में इस तरह का व्यवहार स्वीकार नहीं किया जा सकता। दरअसल, कामरा ने एक हवाई यात्रा के दौरान रिपब्लिक टीवी के संपादक अर्नब गोस्वामी से बदसलूकी की थी। इसके बाद इंडिगो इयरलाइंस ने यात्री कामरा पर 6 महीने का प्रतिबंध लगा दिया था।

ख़ुद को कॉमेडियन कहने वाले कुणाल कामरा ने एक हवाई यात्रा के दौरान ‘रिपब्लिक न्यूज़’ के संपादक अर्नब गोस्वामी के साथ बदतमीजी की थी। अर्नब अपनी सीट पर बैठे हुए थे और कान में हेडफोन लगाए हुए थे। कुणाल कामरा अर्नब के पास पहुँच गया और उसने उन्हें ‘डरपोक’ बताया था। उसने अपने इस घटिया हरकत का वीडियो भी शूट कर लिया। वीडियो में स्पष्ट दिख रहा है कि कुणाल कामरा अर्नब गोस्वामी पर लगातार तंज कसते हुए न सिर्फ़ उन्हें परेशान कर रहा है बल्कि बार-बार उन्हें ‘डरपोक’ भी बता रहा है। बाद में उसने ट्विटर पर इस वीडियो को डालते हुए गर्व के साथ लिखा कि वो रोहित वेमुला की माँ के लिए ऐसा कर रहा है। वो वीडियो में स्वीकार करता है कि वो जो कर रहा है, वो नियमानुसार सही नहीं है लेकिन फिर वो कहता है कि वो इसके लिए जेल जाने को भी तैयार है। वो अर्नब को कहता दिख रहा- ‘गेट द फकिंग टाइम और रोहित वेमुला की 10 पेज की सुसाइड नोट को पढ़ो।

इतना ही नहीं कामरा ने इसके बाद अर्णव को पर्सनल मैसेज भेजकर परेशान किया था। कामरा के इस व्यवहार के बाद इंडिगो एयरलाइन्स ने उपद्रवी यात्री कुणाल कामरा को 6 महीने के लिए प्रतिबंधित कर दिया था और इंडिगो ने कहा कि कुणाल कामरा का ये व्यवहार अस्वीकार्य है और उन्हें फ्लाइट में उड़ान भरने के लिए 6 महीनों के लिए प्रतिबंधित किया जाता है। बाद में कई और एयरलाइन्स ने भी कुणाल कामरा को प्रतिबंधित कर दिया था।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘पूरे देश में खेला होबे’: सभी विपक्षियों से मिलकर ममता बनर्जी का ऐलान, 2024 को बताया- ‘मोदी बनाम पूरे देश का चुनाव’

टीएमसी प्रमुख ममता बनर्जी ने विपक्ष एकजुटता पर बात करते हुए कहा, "हम 'सच्चे दिन' देखना चाहते हैं, 'अच्छे दिन' काफी देख लिए।"

कराहते केरल में बकरीद के बाद विकराल कोरोना लेकिन लिबरलों की लिस्ट में न ईद हुई सुपर स्प्रेडर, न फेल हुआ P विजयन मॉडल!

काँवड़ यात्रा के लिए जल लेने वालों की गिरफ्तारी न्यायालय के आदेश के प्रति उत्तराखंड सरकार के जिम्मेदारी पूर्ण आचरण को दर्शाती है। प्रश्न यह है कि हम ऐसे जिम्मेदारी पूर्ण आचरण की अपेक्षा केरल सरकार से किस सदी में कर सकते हैं?

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,743FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe