Thursday, July 25, 2024
Homeदेश-समाजकुश्ती का विवाद भारतीय ओलंपिक संघ तक पहुँचा, पीटी उषा को पत्र लिख रखे...

कुश्ती का विवाद भारतीय ओलंपिक संघ तक पहुँचा, पीटी उषा को पत्र लिख रखे 4 डिमांड: बृजभूषण शरण सिंह का इस्तीफे से इनकार

यौन शोषण समेत कई गंभीर आरोप झेल रहे कुश्ती महासंघ के अध्यक्ष बृजभूषण शरण सिंह ने साफ कर दिया है कि वे इस्तीफा नहीं देंगे। उन्होंने कहा, "मैं किसी की कृपा से अध्यक्ष नहीं बना हूँ। यदि मैंने मुँह खोला तो सुनामी आ जाएगी।"

दिल्ली के जंतर-मंतर पर विनेश फोगाट, बजरंग पूनिया, साक्षी मलिक समेत लगभग 30 पहलवानों के धरने का आज तीसरा दिन है। पहलवानों और खेल मंत्री अनुराग ठाकुर के बीच एक बार फिर से बैठक होगी। इसके पहले गुरुवार (20 जनवरी, 2023) रात पहलवानों ने उनके साथ डिनर किया था और मामले को लेकर चर्चा की थी। पहलवानों ने आज भारतीय ओलंपिक संघ की अध्यक्ष पीटी उषा को पत्र लिखा है। पत्र में कुश्ती संघ (WFI) के अध्यक्ष बृजभूषण सिंह पर कई आरोप लगाए गए हैं। बृजभूषण सिंह ने इस्तीफा देने से इनकार कर दिया है।

धरने के तीसरे दिन पहलवान बजरंग पुनिया ने मीडिया से कहा कि उन्होंने सरकार के सामने अपनी माँगे रख दी हैं और उम्मीद जताई की मामले का निपटारा जल्द ही कर दिया जाएगा। उन्होंने कहा, “प्रधानमंत्री ने हमेशा खिलाड़ियों का सम्मान किया है। हम प्रधानमंत्री, गृह मंत्री और खेल मंत्री से निवेदन करेंगे कि इस मामले में जल्द से जल्द हमारी माँगों को सुना जाए।”

जानकारी के मुताबिक खेल मंत्री अनुराग ठाकुर और धरना दे रहे पहलवानों के बीच दोबारा बातचीत होगी। इसके पहले गुरुवार देर रात खेल मंत्री अनुराग ठाकुर और पहलवानों के बीच हुई बातचीत बेनतीजा रही थी। धरना दे रहे पहलवानों ने भारतीय ओलंपिक संघ को पत्र लिखा है। संघ की अध्यक्ष पीटी उषा के नाम इस पत्र में ब्रज भूषण शरण को हटाने समेत चार मुख्य माँगें रखी गई हैं। जो इस प्रकार हैं-

1- यौन उत्पीड़न की शिकायतों की जाँच के लिए कमेटी गठित की जाए।
2- WFI के अध्यक्ष से इस्तीफा लिया जाए।
3- WFI को भंग किया जाए।
4- कुश्ती महासंघ को चलाने के लिए पहलवानों की देख-रेख में एक नई कमेटी बनाई जाए।

खबरों के मुताबिक मामले को लेकर ओलंपिक संघ की बैठक होगी जिसमें पहलवानों की शिकायत पर चर्चा की जाएगी।

इसके पहले पहलवान विनेश फोगाट ने भाजपा नेता और पहलवान योगेश्वर दत्त पर फेडरेशन की गोद में बैठने का इल्ज़ाम लगाया था। योगेश्वर दत्त ने इस पर पलटवार किया है। उन्होंने कहा कि कहने को तो कोई भी कुछ भी बोल सकता है। 2017 में रेसलिंग छोड़ने के बाद आज तक सिर्फ एक बार फेडरेशन में गया हूँ। फेडरेशन के अध्यक्ष बृजभूषण से भी 1 या 2 बार ही मुलाकात हुई है। उन्होंने कहा कि यदि किसी बहन के साथ गलत हुआ है तो जाँच और कार्रवाई होनी चाहिए। कौन गोद में बैठता है और कौन नहीं, यह सभी जानते हैं।

यौन शोषण समेत कई गंभीर आरोप झेल रहे कुश्ती महासंघ के अध्यक्ष बृजभूषण शरण सिंह ने साफ कर दिया है कि वे इस्तीफा नहीं देंगे। उन्होंने कहा, “मैं किसी की कृपा से अध्यक्ष नहीं बना हूँ। यदि मैंने मुँह खोला तो सुनामी आ जाएगी।” रिपोर्टों के मुताबिक पहलवानों के आरोपों पर आज कुश्ती महासंघ भी जवाब दाखिल कर सकता है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘तुमलोग वापस भारत भागो’: कनाडा में अब सांसद को ही धमकी दे रहा खालिस्तानी पन्नू, हिन्दू मंदिर पर हमले का विरोध करने पर भड़का

आर्य ने कहा है कि हमारे कनाडाई चार्टर ऑफ राइट्स में दी गई स्वतंत्रता का गलत इस्तेमाल करते हुए खालिस्तानी कनाडा की धरती में जहर बोते हुए इसे गंदा कर रहे हैं।

मुजफ्फरनगर में नेम-प्लेट लगाने वाले आदेश के समर्थन में काँवड़िए, सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद बोले – ‘हमारा तो धर्म भ्रष्ट हो गया...

एक कावँड़िए ने कहा कि अगर नेम-प्लेट होता तो कम से कम ये तो साफ हो जाता कि जो भोजन वो कर रहे हैं, वो शाका हारी है या माँसाहारी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -