Sunday, July 21, 2024
Homeदेश-समाज'प्लेन से उतरते ही करवाएँ FIR, सारी सूचना हमको दें': फ्लाइट में महिला सहयात्रियों...

‘प्लेन से उतरते ही करवाएँ FIR, सारी सूचना हमको दें’: फ्लाइट में महिला सहयात्रियों पर पेशाब की घटनाओं पर DGCA सख्त, एडवाइजरी जारी की

एयर इंडिया की फ्लाइट में महिला सहयात्रियों पर पेशाब करने की दो घटनाएँ सामने आने के बाद DGCA ने एयर इंडिया के मैनेजमेंट और क्रू मेंबर को नोटिस जारी किया था। अपने नोटिस में DGCA ने पूछा था कि इस मामले में उनके खिलाफ कार्रवाई क्यों नहीं की जानी चाहिए।

हाल ही में एयर इंडिया की फ्लाइट में एक यात्री द्वारा अपनी महिला सहयात्री पर पेशाब करने के 2 मामले सामने आए। इसके बाद नागरिक उड्डयन महानिदेशालय (DGCA) ने ऐसी हरकत करने वाले यात्रियों के खिलाफ कार्रवाई करने के लिए एयरलाइंस कंपनियों को एडवाइजरी जारी की है।

एयरलाइंस के हेड ऑफ ऑपरेशंस को भेजे गए दिशा-निर्देशों में डीजीसीए ने कहा, “हाल के दिनों में फ्लाइट के दौरान विमान में कुछ यात्रियों के बुरे-व्यवहार और अनुचित आचरण की घटनाओं पर DGCA ने ध्यान दिया है। इसमें यह देखा गया है कि पोस्ट होल्डर्स, पायलट और केबिन क्रू मेंबर ने उचित कार्रवाई नहीं की है।”

डीजीसीए (DGCA) ने यह भी कहा है कि किसी भी फ्लाइट का पायलट उड़ान के दौरान क्रू मेंबर, यात्रियों और कार्गो की सुरक्षा के साथ-साथ फ्लाइट में अनुशासन के लिए जिम्मेदार होता है। खासतौर से एक अनियंत्रित यात्री को सँभालने के लिए एक व्यक्ति की जिम्मेदारी तय की जाती है। इसके लिए एयरक्राफ्ट रूल 1937, डीजीसीए के नियमों, एयरलाइन के सर्कुलर और मैनुअल में भी बताया गया है।

डीजीसीए ने आगे कहा है कि किसी भी स्थिति को शांत करने की जिम्मेदारी क्रू मेंबर की होती है। साथ ही, यह भी कहा गया है कि निरोधक उपकरणों का उपयोग तभी किया जाना चाहिए, जब सुलह के सभी रास्ते बंद हो गए हों। फ्लाइट के कर्मचारियों को ऐसी सभी घटनाओं के बारे में डीजीसीए को सूचित करना चाहिए।

डीजीसीए ने यह भी कहा कि है विमान के उतरने पर एयरलाइन कर्मचारी हवाई अड्डे पर संबंधित सुरक्षा एजेंसी के पास FIR दर्ज कराएँगे। इसके बाद, अनियंत्रित यात्री को उन्हें सौंप दिया जाएगा।

इससे पहले, DGCA ने एयर इंडिया की फ्लाइट में हुई पेशाब वाली घटनाओं को लेकर एयर इंडिया के मैनेजमेंट और क्रू मेंबर को नोटिस जारी किया था। अपने नोटिस में DGCA ने पूछा था कि इस मामले में उनके खिलाफ कार्रवाई क्यों नहीं की जानी चाहिए।

दो घटनाओं के बाद DGCA को जारी करनी पड़ी एडवाइजरी

बीते दिनों एयर इंडिया की दो अलग-अलग फ्लाइट में यात्रियों द्वारा अन्य यात्री पर पेशाब करने का मामला सामने आया था। पहला मामला, 26 नवंबर 2022 का है। न्यूयॉर्क से दिल्ली आ रही फ्लाइट में एक शख्स ने शराब के नशे में धुत होकर 70 वर्षीय बुजुर्ग महिला पर पेशाब कर दी थी। घटना की शिकायत के बाद क्रू मेंबर्स ने खानापूर्ति करते हुए मामले को रफा-दफा कर दिया था।

वहीं, दूसरी घटना 6 दिसंबर 2022 की है। पेरिस से दिल्ली आने वाली फ्लाइट संख्या 142 में नशे में धुत होकर एक व्यक्ति ने महिला के कंबल में पेशाब कर दिया था। इस मामले में भी उस व्यक्ति पर कोई कार्रवाई नहीं की गई। फिलहाल, इन दोनों मामलों को लेकर नागरिक उड्डयन महानिदेशालय ( DGCA) काफी सख्त है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

बांग्लादेश में आरक्षण खत्म: सुप्रीम कोर्ट ने कोटा व्यवस्था को रद्द किया, दंगों की आग में जल रहा है मुल्क

प्रदर्शनकारी लोहे के रॉड हाथों में लेकर सेन्ट्रल डिस्ट्रिक्ट जेल पहुँच गए और 800 कैदियों को रिहा कर दिया। साथ ही जेल को आग के हवाले कर दिया गया।

‘कमाल का है PM मोदी का एनर्जी लेवल, अनुच्छेद-370 हटाने के लिए चाहिए था दम’: बोले ‘दृष्टि’ वाले विकास दिव्यकीर्ति – आर्य समाज और...

विकास दिव्यकीर्ति ने बताया कि कॉलेज के दिनों में कई मुस्लिम दोस्त उनसे झगड़ा करते थे, क्योंकि उन्हें RSS के पक्ष से बहस करने वाला माना जाता था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -