Sunday, July 14, 2024
Homeदेश-समाजजर्मन हथियार-गोली, 5kg सोना, ₹5 करोड़ नगद, देश-विदेशी में संपत्ति: INLD नेता दिलबाग सिंह...

जर्मन हथियार-गोली, 5kg सोना, ₹5 करोड़ नगद, देश-विदेशी में संपत्ति: INLD नेता दिलबाग सिंह के घर छापा, अवैध खनन मामले में कॉन्ग्रेस विधायक भी

ED की छापेमारी कॉन्ग्रेस विधायक सुरेंद्र पंवार और इंडियन नेशनल लोक दल के पूर्व MLA दिलबाग सिंह के 20 ठिकानों पर की गई। इसमें INLD नेता के घर से करोड़ों रुपए की नगदी और विदेशी हथियार मिले हैं।

प्रवर्तन निदेशालय ने गुरुवार (4जनवरी 2024) को हरियाणा में अवैध खनन से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग केस में छापेमारी की। ये छापेमारी कॉन्ग्रेस विधायक सुरेंद्र पंवार और इंडियन नेशनल लोक दल (INLD) के पूर्व MLA दिलबाग सिंह के ठिकानों पर की गई। इसके तहत दोनों नेताओं और उनसे जुड़े यमुनानगर, सोनीपत, मोहाली, फरीदाबाद, चंडीगढ़ के 20 ठिकानों में छापेमारी की गई। इसमें INLD नेता के घर से करोड़ों रुपए की नगदी और विदेशी हथियार मिले हैं।

ईडी की छापेमारी में INLD के पूर्व MLA दिलबाग सिंह और उसके सहयोगियों के ठिकानों से लगभग 5 करोड़ रुपए की नगदी बरामद की गई। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार बरामद की गई नगदी की गिनती अभी भी जारी है।

यहीं नहीं अवैध जर्मनी मेड हथियार, 300 कारतूस, 100 से अधिक शराब की बोतलें भी छापेमारी में मिलीं हैं। INLD नेता दिलबाग सिंह के घर से ईडी को जाँच के दौरान 4-5 किलो सोना के साथ-साथ भारत और विदेशों में चल-अचल संपत्ति से जुड़े दस्तावेज भी बरामद हुए हैं।

ईडी के मुताबिक, धन शोधन निवारण अधिनियम (PMLA) के प्रावधानों के तहत ये कार्रवाई की गई है। बताते चलें कि सुरेंद्र पंवार सोनीपत से कॉन्ग्रेस के विधायक हैं। जबकि दिलबाग सिंह यमुनानगर सीट से INLD के विधायक रह चुके हैं। मनी लॉन्ड्रिंग का ये केस हरियाणा पुलिस में दर्ज एफआईआर से जुड़ा है।

खनन की लीज खत्म होने और अदालत के आदेशों को दरकिनार कर यमुनानगर और आसपास के जिलों में बोल्डर, बजरी और रेत के कथित अवैध खनन की जाँच के लिए FIR दर्ज की गई थी। इसी को लेकर अब ईडी की कार्रवाई की गई।

इस मामले में केंद्रीय एजेंसी ईडी ‘ई-रावण’ योजना में कथित धोखाधड़ी की भी जाँच कर रही है। दरअसल ये एक ऑनलाइन पोर्टल है, जिसे रॉयल्टी और करों के संग्रह को आसान बनाने और खनन क्षेत्रों में कर चोरी को रोकने के लिए 2020 में हरियाणा सरकार लेकर आई थी।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

US में पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को लगी गोली, हमलावर सहित 2 की मौत: PM मोदी ने जताया दुख, कहा- ‘राजनीति में हिंसा की...

गोलीबारी के दौरान सुरक्षाबलों ने हमलावर को मार गिराया। इस हमले में डोनाल्ड ट्रंप घायल हो गए और उनके कान से निकला खून उनके चेहरे पर दिखा।

छात्र झारखंड के, राष्ट्रगान बांग्लादेश-पाकिस्तान का, जनजातीय लड़कियों से ‘लव जिहाद’, फिर ‘लैंड जिहाद’: HC चिंतित, मरांडी ने की NIA जाँच की माँग

झारखंड में जनजातीय समाज की समस्या पर भाजपा विरोधी राजनीतिक दल भी चुप रहते हैं, जबकि वो खुद को पिछड़ों का रहनुमा कहते नहीं थकते हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -