फतेहपुर: 16 वर्षीय दलित रेप पीड़िता को मिली ‘उन्नाव जैसे हश्र’ की धमकी, शिकायत दर्ज

लड़की के पिता का कहना है कि उनकी बेटी के साथ सामूहिक दुष्कर्म करने वाले चारों आरोपित उनके गाँव के हैं। जिस कारण उनके परिजन उनपर सुलह करने का दबाव बना रहे हैं।

उत्तरप्रदेश के फतेहपुर के गाजीपुर थाना क्षेत्र में गैंगरेप का शिकार हुई एक 16 वर्षीय नाबालिग लड़की को आरोपितों के परिजनों ने धमकी दी है कि वो उसका ‘उन्नाव जैसा हश्र’ कर देंगे।

हिंदुस्तान की रिपोर्ट के अनुसार पुलिस ने बताया कि करीब 20-25 दिन पहले 4 लड़कों ने दलित लड़की का अपहरण करके बलात्कार किया था। जिसके बाद इस मामले में सामूहिक दुष्कर्म से संबंधित मामला दर्ज हुआ और मुख्य आरोपित प्रदीप को जेल भेज दिया गया, जबकि बाकी तीनों अभी फरार हैं। उन्हें ढूँढने के लिए दबिश दी जा रही है।

इस बीच मंगलवार को पीड़िता अपने पूरे परिवार के साथ पुलिस अधीक्षक के ऑफिस पहुँची। जहाँ उसने आरोप लगाया कि आरोपित के परिजन उनसे सुलह करने का दबाव बना रहे हैं और समझौते से मना किए जाने पर उसका हाल ‘उन्नाव सामूहिक दुष्कर्म की शिकार लड़की’ जैसा करने को कह रहे है।

- विज्ञापन - - लेख आगे पढ़ें -

इस संबंध में पुलिस अधीक्षक ने लड़की की शिकायत की पुष्टि की है और बताया है कि मामले की जाँच जारी है। जाफरगंज के पुलिस उपाधीक्षक श्रीपाल यादव ने आश्वासन दिया है कि यदि शिकायत में उल्लिखित तथ्यों की पुष्टि होती है तो धमकी दिए जाने का एक और मामला दर्ज किया जाएगा।

लड़की के पिता का कहना है कि उनकी बेटी के साथ सामूहिक दुष्कर्म करने वाले चारों आरोपित उनके गाँव के हैं। जिस कारण उनके परिजन उनपर सुलह करने का दबाव बना रहे हैं। उन्होंने बताया, “आरोपितों के परिजन सुलह न करने पर लड़की और हमें उन्नाव घटना की तरह जलाकर मार डालने की धमकी दे रहे हैं।”

उन्नाव मामला

उन्नाव के बिहार थाना क्षेत्र के गौरा मोड के पास गुरुवार (5 दिसंबर) को सुबह तड़के एक गैंगरेप की पीड़िता अपने मुक़दमे की तारीख पर रायबरेली के लिए ट्रेन पकड़ने जा रही थी। इस बीच गैंगरेप के दो आरोपितों ने अपने तीन दोस्तों के साथ मिलकर अचानक पीड़िता पर हमला बोल दिया। उन्होंने पीड़िता पर लाठी-डंडे और चाकू से कई वार किए। हैवानियत के नशे में चूर आरोपित इतने पर भी नहीं रुके, उन्होंने पीड़िता पर मिट्टी का तेल डाला और आग लगा दी। आग लगने से पीड़िता चीखने-चिल्लाने लगी जिसके बाद घटना स्थल पर आसपास के लोग पहुँचे। लोगों की भीड़ को आता देख सभी आरोपित वहाँ से भाग निकले। पीड़िता को तुरंत अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती कराया गया, लेकिन वो इतनी झुलस चुकी थी कि उसने दो दिन बाद ही अपना दम तोड़ दिया।

उन्नाव रेप पीड़िता के ऊपर केरोसिन तेल डालकर जिंदा जलाकर मारने वाले हैवानों के चेहरे आए सामने
‘हैदराबाद के जैसा दौड़ा-दौड़ाकर गोली मारी जाए…’ – उन्नाव में जला कर मार दी गई बेटी के पिता का छलका दर्द
…एक और ‘प्रीति रेड्डी’, उन्नाव में गैंगरेप पीड़िता पर लाठी-डंडे-चाकू से वार, केरोसिन डाल जलाया ज़िंदा
समाज एनकाउंटर पर जश्न मनाता है, तो उसका कारण है: उन्नाव की बेटी भी कल मर गई
शेयर करें, मदद करें:
Support OpIndia by making a monetary contribution

बड़ी ख़बर

लोहरदगा हिंसा
मीडिया रिपोर्टों के मुताबिक हिंदुओं के घरों और संपत्ति को चुन-चुन कर निशाना बनाया गया। पथराव करने वालों में 8 से 12 साल तक के मुस्लिम बच्चे भी शामिल थे। 100 से ज्यादा घायलों में से कई की हालत गंभीर।

सबसे ज़्यादा पढ़ी गईं ख़बरें

ताज़ा ख़बरें

हमसे जुड़ें

143,804फैंसलाइक करें
35,951फॉलोवर्सफॉलो करें
163,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

ज़रूर पढ़ें

Advertisements
शेयर करें, मदद करें: