Tuesday, July 23, 2024
Homeदेश-समाजआँध्र प्रदेश में 2 महीने में तीसरी बार गैस लीक: 2 मजदूरों की मौत,...

आँध्र प्रदेश में 2 महीने में तीसरी बार गैस लीक: 2 मजदूरों की मौत, 4 अस्पताल में भर्ती

"दो लोगों की मौत हुई है और चार लोगों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। अब हालात पूरी तरह से काबू में है। जिन दो लोगों की मौत हुई, वे साइट पर ही मौजूद थे। गैस का फैलाव अन्य किसी जगह पर नहीं हुआ है।"

आँध्र प्रदेश के विशाखापत्तनम में मंगलवार (जून 30, 2020) की सुबह एक फैक्ट्री में गैस लीकेज के कारण 2 मजदूरों की मौत हो गई। घटना सेनर लाइफ साइंसेस प्राइवेट लिमिटेड कंपनी में घटी। यहाँ बेन्जीमिडेजोल गैस लीक हुई और फैक्ट्री पर काम कर रहे मजदूर इसकी चपेट में आ गए। हालाँकि, गैस के रिसाव के कुछ समय बाद हालात पर काबू पा लिया गया

न्यूज एजेंसी एएनआई के मुताबिक परवाडा पुलिस थाने के इंस्पेक्टर उदय कुमार ने बताया, “दो लोगों की मौत हुई है और चार लोगों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। अब हालात पूरी तरह से काबू में है। जिन दो लोगों की मौत हुई, वे साइट पर ही मौजूद थे। गैस का फैलाव अन्य किसी जगह पर नहीं हुआ है।”

बताया जा रहा है जिस समय गैस लीक का यह हादसा हुआ, उस समय फार्मा कंपनी में 30 लोग काम कर रहे थे। अचानक छह वर्करों को चक्कर आया और वे बेहोश होकर गिर पड़े। सभी बेहोश कर्मचारियों को अस्पताल ले जाया गया जहाँ दो की मौत हो गई। चार का इलाज अस्पताल में चल रहा है। मारे गए कर्मचारियों की पहचान नरेंद्र और गौरी शंकर के रूप में हुई है।

अब इस मामले के संबंध में राज्य के मुख्यमंत्री वाईएस जगन मोहन रेड्डी ने जाँच के आदेश दिए हैं। प्रदेश मुख्यमंत्री कार्यालय के अनुसार, फैक्ट्री में यह हादसा देर रात साढ़े 11 बजे हुआ। इसके तुरंत बाद फैक्ट्री को बंद कर दिया गया और जरूरी कदम उठाए गए। गैस लीक कैसे हुई इसकी जाँच चल रही है। फिलहाल प्रथम दृष्टया में तकनीकी कारण से गैस लीक होना बताया जा रहा है।

गौरतलब है कि पिछले 2 महीने में प्रदेश में लीकेज की यह तीसरी घटना है। इससे पहले 7 मई को विशाखापट्टनम के करीब एक फैक्ट्री में लीक से 11 लोगों की मौत हुई थी। इस घटना में सीएम जगन मोहन रेड्डी ने मारे गए लोगों के परिजनों को 1 करोड़ रुपए की सहायति राशि देने का ऐलान किया था। इसके बाद इसी महीने 27 तारीख को कुर्नूल में भी एक हादसा हुआ था। जहाँ कंपनी के मैनेजर की मौत हो गई थी।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘एंजेल टैक्स’ खत्म होने का श्रेय लूट रहे P चिदंबरम, भूल गए कौन लेकर आया था: जानिए क्या है ये, कैसे 1.27 लाख StartUps...

P चिदंबरम ने इसके खत्म होने का श्रेय तो ले लिया, लेकिन वो इस दौरान ये बताना भूल गए कि आखिर ये 'एंजेल टैक्स' लेकर कौन आया था। चलिए 12 साल पीछे।

पत्रकार प्रदीप भंडारी बने BJP के राष्ट्रीय प्रवक्ता: ‘जन की बात’ के जरिए दिखा चुके हैं राजनीतिक समझ, रिपोर्टिंग से हिला दी थी उद्धव...

उन्होंने कर्नाटक स्थित 'मणिपाल इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी' (MIT) से इलेक्ट्रॉनिक एवं कम्युनिकेशंस में इंजीनियरिंग कर रखा है। स्कूल में पढ़ाया भी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -