Sunday, July 21, 2024
Homeदेश-समाजअब कंडोम भी मुफ्त में देना पड़ेगा... बिहार में कार्यक्रम का नाम 'सशक्त बेटी',...

अब कंडोम भी मुफ्त में देना पड़ेगा… बिहार में कार्यक्रम का नाम ‘सशक्त बेटी’, छात्रा ने माँगे सैनिटरी पैड तो भड़की IAS ने कहा – पाकिस्तान चली जाओ

वह आगे कहती हैं, "अच्छा यह बताओ, तुम्हारे घर में अलग से शौचालय है। हर जगह अलग से बहुत कुछ माँग करोगी तो कैसे चलेगा।"

बिहार की बेटियों को जागरुक करने के लिए मंगलवार (27 सितंबर, 2022) को ‘सशक्त बेटी समृद्ध बिहार’ वर्कशॉप का आयोजन किया गया। वर्कशॉप का उद्देश्य लैंगिक असमानता मिटाने वाली सरकारी योजनाओं से बच्चियों को जागरुक कराना था, लेकिन जब छात्राओं ने महिला आईएएस (IAS) ऑफिसर हरजोत कौर बम्हरा से इन्हीं योजनाओं से जुड़े सवाल पूछे तो उन्हें बेहद संवेदनहीन जवाब दिए गए। इस दौरान वर्कशॉप में शामिल सभी लोग हैरान हो गए। इसका वीडियो भी वायरल हो रहा है।

रिपोर्ट्स के मुताबिक, ‘सशक्त बेटी, समृद्ध बिहार: टुवर्ड्स एन्हान्सिंग द वैल्यू ऑफ गर्ल चाइल्ड’ विषय पर आधारित इस वर्कशॉप को महिला एवं बाल विकास निगम द्वारा यूनिसेफ, सेव द चिल्ड्रेन एवं प्लान इंटरनेशनल ने संयुक्त रूप से आयोजित किया था। वर्कशॉप में एक लड़की ने पूछा कि स्कूल का शौचालय टूटा है और अक्सर लड़के यहाँ घुस जाते हैं। लड़कियों ने कहा कि शौचालय न जाना पड़े, इसलिए वो कम पानी पीती हैं। इसके बाद छात्रा ने कहा कि क्या सरकार 20-30 रुपए का सैनिटरी पैड नहीं दे सकती?

इसके जवाब में महिला एवं बाल विकास निगम की एमडी हरजोत कौर बम्हरा ने कहा कि इस माँग का कोई अंत नहीं है। उन्होंने कहा, “20-30 रुपए का सैनिटरी पैड दे सकते हैं। कल को जींस-पैंट दे सकते हैं। परसों सुंदर जूते क्यों नहीं दे सकते हैं? जब परिवार नियोजन की बात आएगी तो निरोध भी मुफ्त में भी देना पड़ेगा। खुद सक्षम बनो।” वह आगे कहती हैं, “अच्छा यह बताओ, तुम्हारे घर में अलग से शौचालय है। हर जगह अलग से बहुत कुछ माँग करोगी तो कैसे चलेगा।”

इस पर छात्रा कहती है कि जो सरकार के हित में है, कम से कम उसे तो दे। छात्रा ने कहा कि सरकार को पैसा इसलिए देना चाहिए, क्योंकि वह हमसे वोट लेने आती है। इस सवाल पर आगबबूला होते हुए हरजोत कौर ने कहा, “बेवकूफी की भी हद होती है। मत दो वोट। चली जाओ पाकिस्तान। वोट तुम पैसों के लिए देती हो क्या! सुविधाओं के बदले में देती हो क्या! बताओ!” इस पर छात्रा ने बड़ी ही बेबाकी से कहा, “मैं हिन्दुस्तानी हूँ, तो पाकिस्तान क्यों जाऊँ।”

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

आरक्षण के खिलाफ बांग्लादेश में धधकी आग में 115 की मौत, प्रदर्शनकारियों को देखते ही गोली मारने के आदेश: वहाँ फँसे भारतीयों को वापस...

बांग्लादेश में उपद्रवियों को देखते ही गोली मारने के भी आदेश दिए गए हैं। वहाँ हिंसा में अब तक 115 लोगों की जान जा चुकी है और 1500+ घायल हैं।

काशी विश्वनाथ मंदिर और महाकालेश्वर मंदिर परिसर के दुकानदारों को लगाना होगा नेम प्लेट: बिहार के बोधगया की दुकानों में खुद ही लगाया बोर्ड,...

उत्तर प्रदेश के बाद मध्य प्रदेश के महाकालेश्वर मंदिर परिसर में स्थित दुकानदारों को अपना नेम प्लेट लगाने का आदेश दिया गया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -