Monday, July 15, 2024
Homeदेश-समाजअरावली की पहाड़ियों में छिपा था नूहं हिंसा का आरोपित आमिर, पुलिस ने एनकाउंटर...

अरावली की पहाड़ियों में छिपा था नूहं हिंसा का आरोपित आमिर, पुलिस ने एनकाउंटर के बाद किया गिरफ्तार

आमिर के तावड़ू में अरावली की पहाड़ियों के बीच खंडहर में छिपे होने की सूचना पुलिस को मिली थी। गिरफ्तार करने आई पुलिस टीम पर आमिर ने फायरिंग शुरू कर दी। जवाबी कार्रवाई में पुलिस की गोली लगने से वह घायल हो गया।

हरियाणा के मेवात के नूहं में हुई हिंसा का आरोपित आमिर गिरफ्तार हो गया है। वह अरावली की पहाड़ियों में छिपा था। सोमवार (21 अगस्त, 2023) रात एनकाउंटर के बाद वह पकड़ा गया। उसके पैर में गोली लगी है। उसके पास से अवैध कट्टा समेत 5 कारतूस बरामद हुए हैं।

नूहं में 31 जुलाई 2023 को हिंदुओं की जलाभिषेक यात्रा पर मुस्लिम भीड़ ने हमला किया था। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, आमिर के तावड़ू में अरावली की पहाड़ियों के बीच सीलखो पहाड़ में बने एक खंडहर में छिपे होने की सूचना पुलिस को मिली थी। उसे गिरफ्तार करने के लिए पुलिस की एक टीम मौके पर पहुँची। आमिर ने पुलिस को देखते ही फायरिंग शुरू कर दी। जवाबी कार्रवाई में पुलिस ने भी फायरिंग की।

फायरिंग में पुलिस की एक गोली आमिर के दाएँ पैर में जा लगी। इसके बाद वह गिर गया और पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया। फिलहाल उसका इलाज नल्हड़ मेडिकल हॉस्पिटल में चल रहा है।

आज तक ने अपनी रिपोर्ट में आरोपित का नाम वसीम बताया है। उस पर ₹25000 का इनाम होने की जानकारी दी है। उस पर नूहं हिंसा के दौरान पुलिस से हथियार छीनकर फायरिंग करने का आरोप है। इसके अलावा तावड़ू में हत्या समेत दिल्ली-एनसीआर में करीब 100 आपराधिक घटनाओं में शामिल होने के भी आरोप हैं।

बता दें कि नूहं हिंसा के आरोपितों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस ने 10 अगस्त को भी एनकाउंटर किया था। पुलिस को सूचना मिली थी कि हिंदुओं की जलाभिषेक यात्रा पर हुए हिंसक हमले के 2 आरोपित राजस्थान से नूहं लौट रहे हैं। इसके बाद पुलिस ने कार्रवाई करते हुए 2 आरोपितों को गिरफ्तार किया था। इनकी पहचान मुनसैद और सैकूल के रूप में हुई थी। गिरफ्तारी से पहले पुलिस और आरोपितों के बीच एनकाउंटर भी हुआ था। इस दौरान भी एक आरोपित को गोली लगी थी। आरोपितों के पास से कट्टा, कारतूस और बाइक बरामद हुई थी।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

शराब घोटाले में दिल्ली CM के खिलाफ जाँच पूरी, अब ₹1100 करोड़ की प्रॉपर्टी कुर्क करने की तैयारी: रिपोर्ट में ED अधिकारी के हवाले...

शराब घोटाला मामले में प्रवर्तन निदेशालय ने दावा किया है कि उनकी इस केस में पार्टी के साथ-साथ अरविंद केजरीवाल के खिलाफ जाँच पूरी हो गई है।

जो प्रधानमंत्री है खालिस्तानी आतंकियों का ‘हमदर्द’, उसने अब दिलजीत दोसांझ को दिया ‘सरप्राइज’: PM ट्रुडो से मिलकर बोले भारतीय सिंगर- विविधता कनाडा की...

कनाडा पीएम ट्रुडो जो हमेशा से खालिस्तानी आतंकियों के 'हमदर्द' बनकर रहे उन्होंने हाल में दिलजीत दोसांझ को कनाडा में 'सरप्राइज' दिया।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -