Sunday, June 16, 2024
Homeदेश-समाज'हिन्दू कीड़े-मकोड़े की तरह मसले जाएँगे… योगी ने कुछ नहीं किया, हमारी सरकार आने...

‘हिन्दू कीड़े-मकोड़े की तरह मसले जाएँगे… योगी ने कुछ नहीं किया, हमारी सरकार आने पर सब जाएँगे जेल’: अयान कुरैशी को UP पुलिस ने दबोचा

"इस्लाम जिंदा था, है और रहेगा भी... मुसलमानों की लड़ाई केवल यहूदियों से है। ये क्या हैं हिन्दू? ये कीड़े-मकोड़े की तरह मसले जाएँगे।"

सोशल मीडिया पर उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद जिले से एक वीडियो वायरल हो रहा है। इस वीडियो में खुद को अयान कुरैशी बता रहा एक मुस्लिम युवक हिन्दुओं को कीड़ा-मकोड़ा कहते हुए अपनी सरकार आने पर सब सफा (मतलब सारे विपक्षी साफ, सारे विरोधी साफ, सारे किए गए काम साफ इत्यादि) हो जाने जैसी बयानबाजी कर रहा है। आरोपित हिन्दुओं के त्योहारों पर बंद होने वाली मांस की दुकानों के फैसले पर भी आपत्ति जताता दिख रहा। पीछे मुस्लिम समुदाय के ही कुछ अन्य लोग भी दिखाई दे रहे हैं, जो अयान कुरैशी का समर्थन कर रहे हैं। पुलिस ने वायरल वीडियो का संज्ञान लेकर FIR दर्ज कर ली है। अयान कुरैशी हिरासत में ले लिया गया है।

यह वीडियो मसूरी थानाक्षेत्र का है। न्यूज़ गैलरी नाम के एक यूट्यूब चैलन ने इसे शनिवार (4 नवंबर 2023) को पब्लिश किया है। 7 मिनट 48 सेकेंड के इस यूट्यूब वीडियो में पत्रकार ने रफ़ीकाबाद में रहने वाले लोगों से सवाल-जवाब किए। इसी दौरान अयान कुरैशी ने भी जवाब दिया। अयान ने कहा, “भाई हिन्दू क्या है? तुम इंडिया में रहने के बाद सिर्फ हिन्दू-हिन्दू हो। कौन से देश में हैं हिन्दू, ये बताओ मुझे। बाबर का इतिहास और उसका इतिहास क्या कर रहे हो… आप कुछ भी कर लो बस इंडिया तक ही सीमित हो।”

सरकार द्वारा हिन्दू तीर्थस्थलों को उनके पौराणिक नाम फिर से देने पर भी अयान कुरैशी ने आपत्तिजनक बयानबाजी की। उसने कहा, “प्रयागराज का नाम वो रख दिया, ये रख दिया। भाई तुम्हारी सरकार है, तुम कुछ भी रख दो। जिस दिन हमारी सरकार आएगी, उस दिन सब सफा (मतलब सारे विपक्षी साफ, सारे विरोधी साफ, सारे किए गए काम साफ इत्यादि) हो जाएगा। जो पहले का था, वही रहेगा।”

कर्नाटक बुर्का विवाद पर भी अयान कुरैशी ने कहा कि मुस्लिम लड़कियों की मर्जी, वो कुछ भी पहनें। इस दौरान अजीब ढंग से अयान ने करवा चौथ जैसे हिन्दू त्योहारों का नाम लेते हुए इस दौरान बंद करवाई जाने वाली मांस की दुकानों पर आपत्ति जताई।

मुर्गे का मांस बेचने वाला अयान कुरैशी ने गायों के संरक्षण पर भी तंज कसा। उसने कहा कि जैसे गाय की चिंता की जा रही है वैसे ही बिल्ली, मुर्गे और भैंसे की भी फ़िक्र की जाए। अयान के मुताबिक योगी आदित्यनाथ ने एक भी काम अच्छा नहीं किया है। अंत में अयान ने कहा, “इस्लाम जिंदा था, है और रहेगा भी।”

इस पूरे इंटरव्यू के दौरान अयान कुरैशी के पीछे मौजूद कुछ लोगों की भीड़ इस बयानबाजी का समर्थन करते हुए बीच-बीच में नारेबाजी करती रही। कैमरे में नहीं दिख रहे बगल खड़े किसी शख्स ने यह भी कहा कि बाबर उनका है।

भारत में रहने, भारतीय लोगों के पैसों पर पलने वाले अयान कुरैशी ने हद तब कर दी, जब उसने कहा:

“मुसलमानों की लड़ाई केवल यहूदियों से है। ये क्या हैं हिन्दू? ये कीड़े-मकोड़े की तरह मसले जाएँगे।”

इस बयान पर पत्रकार ने आपत्ति जताई और ऐसा न बोलने की हिदायत दी। हालाँकि इस हिदायत का अयान कुरैशी पर कोई फर्क नहीं पड़ा और वो अपनी बात पर कायम रहा। इस दौरान एक अन्य व्यक्ति ने सरकार को ढोंगी कहा। अंत में अयान ने कहा, “ये सरकार जाने के बाद इन्हें छुपने की कहीं जगह नहीं मिलेगी। ये सब जेल में जाएँगे। एक-एक कर के। सफा बिलकुल। हम तो इतना जानते हैं।”

इस वायरल वीडियो का गाजियाबाद पुलिस ने संज्ञान लिया है। ACP मसूरी के मुताबिक वीडियो के आधार पर केस दर्ज कर लिया गया है। आरोपित अयान कुरैशी को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

दिल्ली पुलिस को पाइपलाइन की रखवाली के लिए लगाना चाहती है AAP सरकार, कमिश्नर को आतिशी ने लिखा पत्र: घोटाले का आरोप लगा BJP...

बीजेपी ने कहा कि अरविंद केजरीवाल ने जब से दिल्ली जल बोर्ड की कमान संभाली, उसके एक साल में जमकर धाँधली हुई और दिल्ली जल बोर्ड को बर्बाद कर दिया गया।

गलत वीडियो डालने वाले अब नहीं बचेंगे: संसद के अगले सत्र में ‘डिजिटल इंडिया बिल’ ला सकती है मोदी सरकार, डीपफेक पर लगाम की...

नरेंद्र मोदी सरकार आगामी संसद सत्र में डीपफेक वीडियो और यूट्यूब कंटेंट को लेकर डिजिटल इंडिया बिल के नाम से पेश किया जाएगा।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -