Tuesday, July 23, 2024
Homeदेश-समाजअब नसीरुद्दीन शाह की बीवी ने बेचा 'डर', कहा- काम मिलने में हो रही...

अब नसीरुद्दीन शाह की बीवी ने बेचा ‘डर’, कहा- काम मिलने में हो रही दिक्कतें… लोग घर पर पत्थर फेंकने लगेंगे

रत्ना पाठक ने सिद्धार्थ कानन के साथ अपने इंटरव्यू के दौरान टिप्पणी की। उन्होंने कहा कि जब भी नसीरुद्दीन शाह कोई बेबाक बयान देते हैं तो वह डरती हैं कि कहीं कोई आकर उनके घरों पर पत्थर न फेंकने लगे।

वरिष्ठ अभिनेत्री रत्ना पाठक ने एक साक्षात्कार में अपने पति और अभिनेता नसीरुद्दीन शाह के बड़बोलेपन को लेकर बात की। उन्होंने स्वीकार करते हुए कहा कि वह अपने पति की अत्यधिक मुखरता से डरती हैं। उन्हें डर है कि शाह के बातों से आहत लोग अगर उनके घर पर पत्थर फेंकने लगे तो वह क्या करेंगी। इसलिए उन्होंने अपने पति को संयम के साथ बात करने की सलाह दी है।

पाठक ने सिद्धार्थ कानन के साथ अपने साक्षात्कार के दौरान यह टिप्पणी की। साक्षात्कार में 11:50 के बाद, पाठक ने शाह के बड़बोलेपन से लगने वाले डर के बारे में बात की और बताया कि कैसे वह उन्हें अपनी राय व्यक्त करने से रोक रही हैं।

यह पूछे जाने पर कि नसीरुद्दीन शाह डंके जी चोट पर अपनी बात कहते हैं, आप भी कहती हो, क्या आपने कभी उन्हें रोकने की कोशिश की है? इसपर उन्होंने कहा, “हाँ, मैं उन्हें रोकती हूँ। आज के जमाने में कोई भी घर के सामने पत्थर लेकर खड़ा हो जाएगा। फिर आप क्या करेंगे। वैसे भी हम सभी को काम मिलना मुश्किल हो रहा है। काम नहीं मिलने के कई कारण हैं।” हालाँकि उन्होंने कहा कि लोगों को सार्वजनिक रूप से अपनी राय व्यक्त करने में समझदारी दिखानी चाहिए और डरना नहीं चाहिए।

उन्होंने कहा, “डर लगता है। पर क्या करें। दुनिया में बहुत कुछ गलत हो रहा है। अगर हम उन्हें नहीं बताएँगे तो वे कैसे सुधरेंगे।” इसके बाद सिद्धार्थ पूछते हैं कि एक विकल्प है कि या तो आप जो हैं वह रहें या फिर कुछ न बोलें और जिंदगी शांति से गुजर जाएगी। क्या आप दोनों बैठकर इस बारे में बात करते हैं। पाठक कहती हैं, ”सामान्य लाइन या है कि हम जो हैं, वही रहना चाहते हैं। जहाँ तक हो इसकी कोशिश करते हैं। हमें नहीं लगता कि हम अनावश्क खतरे को उठाने वाले हैं। अभी तक तो नैया डूबी नहीं है। आगे क्या होगा देखा जाएगा।बस इसी सोच के साथ जी रही हूँ।”

पाठक का यह नुपूर शर्मा केस के महीनों बाद आया है। पिछले साल जून में भाजपा की पूर्व प्रवक्ता नूपुर शर्मा को टाइम्स नाउ की एक डिबेट के दौरान अपने धार्मिक आस्था पर अडिग रहने के कारण इस्लामवादियों की ओर से सर कलम करने की सैकड़ों धमिकयाँ मिली थी। AltNews के सह-संस्थापक मोहम्मद जुबैर जैसे लोगों ने मामले को भड़काने का काम किया था। तभी नसीरुद्दीन शाह का भी बयान आया था। उन्होंने कहा था कि पीएम मोदी उन लोगों को फॉलो करते हैं जो जहर फैलाते हैं। इस बयान के बाद उनकी काफी आलोचना हुई थी और उनके पुराने बयान भी चर्चा में आए थे।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

एयरपोर्ट, मेडिकल कॉलेज, खेल के मैदान, गंगा पर पुल, पॉवर प्लांट… बजट 2024 में बिहार की बल्ले-बल्ले, एक्सप्रेसवे का बिछेगा जाल

वित्त मंत्री ने बिहार में सड़क के लिये 26 हजार करोड़ रुपये का आवंटन रखा है। पटना-पूर्णिया के लिए एक्सप्रेस-वे बनेगा. बक्सर-भागलपुर के लिए एक्सप्रेस-वे बनेगा।

जनजातीय समाज के 63000 गाँवों का विकास, कामकाजी महिलाओं के लिए हॉस्टल, छोटे कारीगरों के लिए अंतरराष्ट्रीय बाजार: जानिए बजट 2024 में और क्या-क्या

महिलाओं एवं कन्याओं से संबंधित योजनाओं के लिए 3 लाख करोड़ रुपए की व्यवस्था की गई है। उत्तर-पूर्व में भारतीय डाक के 100 से अधिक शाखाएँ खोली जाएँगी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -