Sunday, July 14, 2024
Homeदेश-समाजपाकिस्तान होता तो घर से उठा लेता तेरी बेटी को: किडनैपर नरूल अंसारी ने...

पाकिस्तान होता तो घर से उठा लेता तेरी बेटी को: किडनैपर नरूल अंसारी ने कहा- 2 लाख दो वरना बांग्लादेश बेच देंगे

"बाजार से खरीददारी कर जब मैं घर लौट रहा था तो एक बिना नंबर प्लेट वाली बोलेरो गाड़ी ने हमें बहरामपुर पंचायत के मोड़ पर रोक लिया। चारों ने हमें पकड़ लिया और धमकाते हुए कहा कि साले पाकिस्तान होता तो घर से ही उठा लेते। ये चारों एक ही परिवार के थे।"

बिहार के बेगूसराय में दिनेश पंडित की बेटी को चार लोगों ने पिस्तौल के दम पर रास्ते से ही गाड़ी से उतारकर अगवा कर लिया। दिनेश पंडित की 15 वर्षीय बेटी को अगवा करते हुए मोहम्मद नरूल अंसारी ने उनसे कहा कि अगर यह पाकिस्तान होता, तो वह लड़की को घर से ही अगवा कर लेता। लड़की के पिता दिनेश द्वारा दर्ज शिकायत में नरूल के अलावा अन्य का नाम इज़मुल खान उर्फ ​​नज़्मुल उर्फ ​​आर्यन, मोहम्मद मुनफ़र अंजुम अंसारी उर्फ ​​चाँद मोहम्मद और फ़रत है।

ऑपइंडिया से बातचीत में बेगूसराय, बछवाड़ा थाना स्थित गाँव भिखम चक के पीड़ित दिनेश पंडित (42) ने बताया कि उन्होंने अपनी बेटी के अपहरण के सम्बन्ध में थाने में शिकायत दर्ज कराई है। दिनेश पंडित ने बताया कि 26 जुलाई की शाम 5 बजे वो अपनी बेटी को लेकर घर लौट रहे थे, उसी समय चार लोगों ने उनका रास्ता रोककर उनकी बेटी का पिस्तौल के बल पर अपहरण कर लिया।

दिनेश ने कहा- “बाजार से खरीददारी कर जब मैं घर लौट रहा था तो एक बिना नंबर प्लेट वाली बोलेरो गाड़ी ने हमें बहरामपुर पंचायत के मोड़ पर रोक लिया। चारों ने हमें पकड़ लिया और धमकाते हुए कहा कि साले पाकिस्तान होता तो घर से ही उठा लेते। ये चारों एक ही परिवार के थे।”

दिनेश पंडित ने कहा कि इस बात की सार्वजनिक चर्चा के बजाए जब वो आरोपित नज़्मुल के घर उसकी माँ से अपनी बेटी को वापस माँगने गए तो उसकी माँ हसीना खातून और वहाँ मौजूद अन्य लोगों ने उसके साथ मारपीट और उनकी पत्नी के जेवर छीन लिए।

दिनेश के अनुसार, हसीना खातून ने उनकी पत्नी से बदसलूकी करते हुए कहा – “जाती है कुतिया यहाँ से या नहीं? तेरी बेटी को बाजार में बेच दूँगी, वैश्या बना दूँगी।”

दिनेश ने बताया कि इससे पहले भी नज़्मुल और उसकी माँ इस तरह की हरकत कर चुके हैं, इस कारण वो इस बदसलूकी के दौरान चुप रहे। इसके अगले दिन बृहस्पतिवार (जुलाई 30, 2020) को एक आदमी दिनेश पंडित को अपनी बिना नम्बर प्लेट की मोटरसाइकिल पर बिठाकर ले गया और आधे रास्ते में रुककर उनसे कहा कि अगर उन्हें अपनी बेटी वापस चाहिए तो 2 लाख रूपए देने होंगे।

उसने कहा कि ये 2 लाख रूपए नज़्मुल की माँ हसीना खातून के पास जमा कराने होंगे वरना उनकी बेटी को बांग्लादेश बेच दिया जाएगा। फिलहाल दिनेश पंडित पुलिस थाने में हैं और इस बारे में जाँच की अपील कर रहे हैं। दिनेश की तीन बेटियों में जिसका अपहरण किया गया है, वो सबसे छोटी बेटी है। वह इस साल अपनी कक्षा 10 की परीक्षा में शामिल हुई थी। उसकी दोनों बहनों की शादी हो चुकी है। उसका कोई भाई नहीं है।

बछवाड़ा पुलिस स्टेशन के एक पुलिसकर्मी ने आज सुबह (31 जुलाई) बताया कि कल देर रात (संख्या 58/2020) मामले में एफआईआर दर्ज की गई थी। नामजद आरोपितों पर अपहरण और चोट पहुँचाने का मामला दर्ज किया गया है। इस मामले में आईपीसी की धारा 366, 323, 341, 379, 384 और 504 लगाई गई हैं। उन्होंने कहा कि पुलिस ने POCSO अधिनियम लागू नहीं किया है क्योंकि अभी जाँच जारी है।

पीड़िता के पिता दिनेश पंडित द्वारा दर्ज की गई शिकायत की कॉपी –

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘बैकफुट पर आने की जरूरत नहीं, 2027 भी जीतेंगे’: लोकसभा चुनावों के बाद हुई पार्टी की पहली बैठक में CM योगी ने भरा जोश,...

लोकसभा चुनावों के बाद पहली बार भाजपा प्रदेश कार्यसमिति की लखनऊ में आयोजित बैठक में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कार्यकर्ताओं में जोश भरा।

जिसने चलाई डोनाल्ड ट्रंप पर गोली, उसने दिया था बाइडेन की पार्टी को चंदा: FBI लगा रही उसके मकसद का पता

पेंसिल्वेनिया के मतदाता डेटाबेस के मुताबिक, डोनाल्ड ट्रंप पर हमला करने वाला थॉमस मैथ्यू क्रूक्स रिपब्लिकन के मतदाता के रूप में पंजीकृत था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -