Thursday, July 29, 2021
Homeदेश-समाजकेरल बाढ़ के नाम पर वामपंथियों ने जनता से पैसा लिया, लेकिन CM राहत...

केरल बाढ़ के नाम पर वामपंथियों ने जनता से पैसा लिया, लेकिन CM राहत कोष में नहीं दिया: RTI से खुलासा

इस कॉन्सर्ट को करवाने वाले मुख्य प्रबंधक मलयायम फिल्म इंडस्ट्री के मशहूर गायक बिजिबल हैं। ये वही बिजिबल हैं, जो इन दिनों सीपीआईएम के साथ खड़े होकर सीएए के विरोध प्रदर्शन में अपना समर्थन दे रहे हैं।

केरल बाढ़ पीड़ितों की सहायता के लिए मुख्यमंत्री राहत कोष में फंड जमा करवाने के नाम पर वामपंथियों का असली चेहरा उजागर हुआ है। टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के मुताबिक कोच्चि म्यूजिक फाउंडेशन ने 1 नवंबर 2019 को बाढ़ पीड़ितों को राहत प्रदान करने हेतु एक कॉन्सर्ट किया था। इसका उद्देश्य पैसा इकट्ठा कर बाढ़ प्रभावित लोगों की आर्थिक मदद करना था। मगर, ताजा जानकारी के अनुसार इस कॉन्सर्ट के तीन महीने बीत जाने के बाद भी सीएमडीआरएफ (मुख्यमंत्री राहत कोष) में कोई पैसा जमा नहीं हुआ। एक आरटीआई के जरिए इस तथ्य का खुलासा हुआ, जिसमें राज्य आर्थिक विभाग ने स्वंय इसकी पुष्टि की।

दरअसल, सोमवार को वामपंथी नेता सीताराम येचुरी ने आरएसएस और भाजपा पर निशाना साधने के लिए ट्वीट किया। अपने ट्वीट में येचुरी ने कहा कि आरएसएस और भाजपा राजनैतिक फायदा पाने के लिए हमारे लोकतंत्र की विश्वसनीयता को खतरनाक कानूनों का प्रयोग करके नष्ट कर कर रहे हैं। फिर चाहे कफील खान पर एनएसए हो या कश्मीरी पॉलिटिकल लीडर्स पर पीएसए।

इस ट्वीट के बाद त्रिपुरा के बिपलब कुमार देब ने उस पर अपनी प्रतिक्रिया दी। उन्होंने येचुरी के ट्वीट को इंगित करते हुए उन पर तंज कसा और कहा कि अगर ये ट्वीट एक किताब होती, तो ये FICTION AND FANTASY (उपन्यास, कल्पना) की श्रेणी में आती।

अब हालाँकि, इस ट्वीट के बाद बहुत लोगों ने उस पर वामपंथियों की टांग खींची और खिल्ली उड़ाई। मगर, एक यूजर ने त्रिपुरा सीएम के सामने सीपीआईएम समर्थकों का असली चेहरा उजागर किया। उस यूजर ने टाइम्स ऑफ इंडिया द्वारा 6 फरवरी को की गई एक खबर का हवाला देकर लिखा, “बिपलब जी, सीपीआईएम समर्थक एक्टर और डायरेक्टर्स ने केरल बाढ़ पीड़ितों के लिए एक म्यूजिक फेस्टिवल का आयोजन 1 नवंबर को किया था। मगर उससे इकट्ठा हुआ रुपया मुख्यमंत्री राहत कोष में नहीं दिया गया। इसका खुलासा आरटीआई से हुआ।”

गौरतलब है कि इस टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के अनुसार राज्य के आर्थिक विभाग ने 6 फरवरी को एक आरटीआई के जवाब में बताया है कि करुणा म्यूजिक कॉन्सर्ट के नाम पर कोच्चि म्यूजिक फाउंडेशन की ओर से किसी तरह की कोई डोनेशन CMDRF को प्राप्त नहीं हुई है।

यहाँ बता दें कि इस कॉन्सर्ट को करवाने वाले मुख्य प्रबंधक मलयायम फिल्म इंडस्ट्री के मशहूर गायक बिजिबल हैं। ये वही बिजिबल हैं, जो इन दिनों सीपीआईएम के साथ खड़े होकर सीएए के विरोध प्रदर्शन में अपना समर्थन दे रहे हैं। इन्होंने इस तथ्य का खुलासा होने के बाद माना कि उन्होंने इस कॉन्सर्ट के जरिए उम्मीद से ज्यादा पैसे एकत्रित किए थे, लेकिन अभी तक उन्होंने इसे मुख्यमंत्री राहत कोष में जमा नहीं करवाया है। सवाल पूछे जाने पर उन्होंने कहा है कि वह कॉनसर्ट से प्राप्त हुए फंड को इस साल मार्च तक जमा करवाएँगे। खबर के अनुसार, बिजिबल ने बातचीत में टाइम्स को बताया कि उन्हें इस कॉन्सर्ट के टिकट बिक्री से जीएसटी हटाकर 6,30,000 रुपए का राजस्व प्राप्त हुआ था।

केरल में ABVP की बढ़ती लोकप्रियता से कुढ़े SFI के गुंडों ने किया छात्रों पर जानलेवा हमला

केरल की कम्युनिस्ट सरकार ने अपने बजट दस्तावेज पर छापी महात्मा गाँधी की हत्या वाली तस्वीर, मचा हंगामा

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

Tokyo Olympics: 3 में से 2 राउंड जीतकर भी हार गईं मैरीकॉम, क्या उनके साथ हुई बेईमानी? भड़के फैंस

मैरीकॉम का कहना है कि उन्हें पता ही नहीं था कि वह हार गई हैं। मैच होने के दो घंटे बाद जब उन्होंने सोशल मीडिया देखा तो पता चला कि वह हार गईं।

मीडिया पर फूटा शिल्पा शेट्टी का गुस्सा, फेसबुक-गूगल समेत 29 पर मानहानि केस: शर्लिन चोपड़ा को अग्रिम जमानत नहीं, माँ ने भी की शिकायत

शिल्पा शेट्टी ने छवि धूमिल करने का आरोप लगाते हुए 29 पत्रकारों और मीडिया संस्थानों के खिलाफ बॉम्बे हाईकोर्ट में मानहानि का केस किया है। सुनवाई शुक्रवार को।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,882FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe