Tuesday, July 27, 2021
Homeदेश-समाजमनीष सिसोदिया के खिलाफ चुनाव लड़ने वाले नेता की कार को मारी टक्कर, 5...

मनीष सिसोदिया के खिलाफ चुनाव लड़ने वाले नेता की कार को मारी टक्कर, 5 के साथ तोड़ा दम

मृतकों में विक्रम भी शामिल हैं। त्रिलोकपुरी से इस बार विधानसभा चुनाव लड़ने वाले विक्रम को मात्र 259 वोट मिले थे। हादसा सोमवार की रात लखनऊ-आगरा एक्सप्रेसवे पर हुआ।

उत्तर प्रदेश में एक सड़क हादसे में दिल्ली के दो नेताओं की मौत हो गई। हादसा सोमवार (फरवरी 17, 2020) की रात लखनऊ-आगरा एक्सप्रेसवे पर हुआ। दुर्घटना में कुल 6 लोगों की मौत हो गई। मृतकों में शामिल सुरजीत सिंह और विक्रम ने हाल ही में दिल्ली विधानसभा चुनाव में भी ताल ठोकी थी। सुरजीत ने दिल्ली के उप-मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी के कद्दावर नेता मनीष सिसोदिया के ख़िलाफ़ निर्दलीय चुनाव लड़ा था

पटपड़गंज विधानसभा क्षेत्र से सिसोदिया मात्र 3201 वोटों से जीत पाए थे। निर्दलीय सुरजीत को इस चुनाव में 215 वोट आए थे। दूसरे मृतक विक्रम ने त्रिलोकपुरी विधानसभा क्षेत्र से चुनाव लड़ा था। विक्रम ने जनशक्ति पार्टी (राष्ट्रीय) से चुनावी ताल ठोकी थी। उन्हें मात्र 259 मत ही प्राप्त हो सके। इस सीट से आम आदमी पार्टी की विजय हुई और भाजपा उम्मीदवार किरण दूसरे स्थान पर रहीं।

कॉलेज से राजनीति में आए सुरजीत सिंह बहुजन समाज पार्टी से दिल्ली के मयूर विहार से निगम पार्षद चुने गए थे।उनके परिवार में उनकी माँ, दो पत्नियाँ, तीन बच्चे और तीन भाई हैं। सुरजीत ने दिल्ली नगर निगम चुनाव 2017 में बसपा का दामन छोड़ कर भाजपा ज्वाइन कर ली थी। वो लगातार भाजपा से ही जुड़े थे लेकिन टिकट न मिलने के कारण उन्होंने निर्दलीय चुनावी समर में उतरने का फ़ैसला लिया था।

ख़बर के अनुसार, दिल्ली स्थित एक साईं मंदिर के संस्थापक सुरजीत रविवार को अपने साथियों के साथ उत्तर प्रदेश के प्रतापगढ़ निकले थे। रविवार की रात वह एक विवाह कार्यक्रम में शामिल भी हुए थे। उसके 1 दिन बाद उन्होंने यूपी के एक मंत्री से मुलाक़ात की थी। रात को वह कार से दिल्ली लौट रहे थे, तभी ‘बिहार रोडवेज’ की एक बस ने उनकी कार को टक्कर मार दी। इस सड़क दुर्घटना में उनकी मौत हो गई। लखनऊ-आगरा एक्सप्रेसवे पर कुछ दिनों पहले हुई एक बस दुर्घटना में 16 लोगों की जान चली गई थी।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

तालिबान ने कंधारी कॉमेडियन की हत्या से पहले थप्पड़ मारने का वीडियो किया शेयर, जमीन पर कटा मिला था सिर

"वीडियो में आप देख सकते हैं कि कंधारी कॉमेडियन खाशा का पहले तालिबानी आतंकियों ने अपहरण किया। फिर इसके बाद आतंकियों ने उन्हें कार के अंदर कई बार थप्पड़ मारे और अंत में उनकी जान ले ली।"

समर्थन ले लो… सस्ता, टिकाऊ समर्थन: हर व्यक्ति, संस्था, आंदोलन और गुट के लिए है राहुल गाँधी के पास झऊआ भर समर्थन!

औसत नेता समर्थन लेकर प्रधानमंत्री बनता है, बड़ा नेता बिना समर्थन के बनता है पर राहुल गाँधी समर्थन देकर बनना चाहते हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,488FollowersFollow
393,000SubscribersSubscribe