Thursday, July 25, 2024
Homeदेश-समाजरेप, प्राइवेट पार्ट पर चाकू से वार... यौन सुख के लिए हत्या करता था...

रेप, प्राइवेट पार्ट पर चाकू से वार… यौन सुख के लिए हत्या करता था मोहम्मद शफी, वामपंथी कार्यकर्ता के सामने ही उसकी बीवी से करता था सेक्स

मोहम्मद शफी यौन विकृति का शिकार है। वह यौन सुख के लिए किसी भी हद तक जा सकता था। वह रेप के बाद महिलाओं के प्राइवेट पार्ट पर चाकू से वार करता था। उनकी हत्या तक कर देता था।

केरल के कोच्चि में काले जादू के नाम पर दो महिलाओं की कुर्बानी के मामले ने पूरे देश को झकझोर दिया है। इस मामले में मुख्य आरोपित 52 साल का मोहम्मद शफी उर्फ रशीद है। इन हत्याओं में उसका साथ देने वाला CPI (M) कार्यकर्ता भगवल सिंह और उसकी बीवी लैला को भी पुलिस गिरफ्तार कर चुकी है। मामले की जाँच के लिए कोच्चि के डीसीपी एस शशिधरन के नेतृत्व में एसआईटी का गठन किया गया है।

मीडिया रिपोर्टों के अनुसार शफी यौन विकृति का शिकार है। वह यौन सुख के लिए किसी भी हद तक जा सकता था। वह रेप के बाद महिलाओं के प्राइवेट पार्ट पर चाकू से वार करता था। उनकी हत्या तक कर देता था। यह भी कहा जा रहा है कि वह भगवल के सामने ही लैला के साथ सेक्स करता था। दोनों भगवंत की हत्या की भी प्लानिंग कर रहे थे।

पुलिस के मुताबिक शफी उन उम्रदराज महिलाओं को झाँसे में लेता था, जिनकी आर्थिक स्थिति कमजोर होती थी। उन्हें वह मदद का भरोसा देता था। विश्वास में लेने के बाद उनकी हत्या कर देता था। वह अपनी यौन संतुष्टि के लिए महिलाओं को तकलीफ देता था, भले ही इसमें उनकी जान ही क्यों न चली जाए।

एक रिपोर्ट के मुताबिक शफी ने छठी तक पढ़ाई की है। वह 2 बेटियों का अब्बा है। उसने एक फर्जी फेसबुक एकाउंट बना रखा था। इसके जरिए आर्थिक परेशानी से जूझ रहे लोगों से सम्पर्क करने की अपील की थी। खुलासे के मुताबिक वह चीखों और खून को देखकर काफी उत्तेजित होता था। पुलिस के मुताबिक वह भगवल और उनकी पत्नी लैला के सम्पर्क में पिछले 3 सालों से था। भगवल सिंह 68 जबकि लैला 59 साल की है।

एक अन्य रिपोर्ट में शफी के पड़ोसी ने बताया कि उसका कोई घर नहीं है। वह किराए के मकान में रहता था। लेकिन उसके पास कई गाड़ियाँ है। शफी के दोस्त बिलाल के मुताबिक उसके पास एक प्राइवेट बस और स्कार्पिओ भी है। शफी का एक होटल भी बताया जा रहा है। कहा जा रहा है कि शफी का नशे के कारोबार से भी कनेक्शन है। शफी पर कुल 10 केस पेंडिंग हैं। इनमें से एक 75 साल की महिला से रेप और उसके प्राइवेट पार्ट पर चाकुओं से वार करने का भी है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

वकील चलाता था वेश्यालय, पुलिस ने की कार्रवाई तो पहुँचा हाई कोर्ट: जज ने कहा- इसके कागज चेक करो, लगाया ₹10000 का जुर्माना

मद्रास हाई कोर्ट में एक वकील ने अपने वेश्यालय पर कार्रवाई के खिलाफ याचिका दायर की। कोर्ट ने याचिका खारिज करके ₹10,000 का जुर्माना लगा दिया।

माजिद फ्रीमैन पर आतंक का आरोप: ‘कश्मीर टाइप हिंदू कुत्तों का सफाया’ वाले पोस्ट और लेस्टर में भड़की हिंसा, इस्लामी आतंकी संगठन हमास का...

ब्रिटेन के लेस्टर में हिन्दुओं के विरुद्ध हिंसा भड़काने वाले माजिद फ्रीमैन पर सुरक्षा एजेंसियों ने आतंक को बढ़ावा देने का आरोप लगाया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -