Tuesday, July 23, 2024
Homeदेश-समाजCM योगी का 'मिशन जून': UP के 75 जिलों में इस महीने 1 करोड़...

CM योगी का ‘मिशन जून’: UP के 75 जिलों में इस महीने 1 करोड़ लोगों के वैक्सीनेशन का लक्ष्य

“75 जिलों में जून महीने में 90 लाख से 1 करोड़ लोगों के टीकाकरण का लक्ष्य रखा गया है। इसके लिए 2100 बूथ बनाए गए हैं जहाँ 18 वर्ष से अधिक आयु के लोगों को टीके लगाए जाएँगे जबकि 45 वर्ष से अधिक आयु के लोगों के लिए 3000 से अधिक टीकाकरण केंद्र स्थापित किए गए हैं।“

उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार ने जून महीने में राज्य के 75 जिलों में 90 लाख से 1 करोड़ लोगों का टीकाकरण करने का लक्ष्य रखा है। इस वृहद टीकाकरण कार्यक्रम को नाम दिया गया है, ‘मिशन जून’।

उत्तर प्रदेश सरकार के द्वारा दी गई सूचना के अनुसार मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आदेशित किया है कि मिशन जून के अंतर्गत समाज के सभी तबकों का टीकाकरण किया जाना चाहिए। ट्विटर के माध्यम से सीएम आदित्यनाथ ने राज्य में 18 वर्ष से अधिक आयु के लोगों के लिए शुरू किए जा रहे टीकाकरण महाअभियान की जानकारी दी और लोगों से अपील की कि वो अधिक संख्या में अपनी ‘जीत का टीका’ लें।

सीएम आदित्यनाथ ने लखनऊ के केडी सिंह बाबू स्टेडियम की अपनी यात्रा का एक वीडियो भी शेयर किया जहाँ से आज (01 जून) मिशन जून की शुरुआत की गई। सोमवार (31 मई) को एक उच्च स्तरीय बैठक को संबोधित करते हुए सीएम आदित्यनाथ ने कहा, “75 जिलों में जून महीने में 90 लाख से 1 करोड़ लोगों के टीकाकरण का लक्ष्य रखा गया है। इसके लिए 2100 बूथ बनाए गए हैं जहाँ 18 वर्ष से अधिक आयु के लोगों को टीके लगाए जाएँगे जबकि 45 वर्ष से अधिक आयु के लोगों के लिए 3000 से अधिक टीकाकरण केंद्र स्थापित किए गए हैं।“ सीएम आदित्यनाथ ने कहा कि मिशन जून के अंतर्गत तय लक्ष्यों को पूरा करने के लिए प्रदेश में पर्याप्त टीके हैं।   

सीएम आदित्यनाथ ने यह भी सूचना दी कि पत्रकारों, सरकारी कर्मचारियों और न्यायपालिका के सदस्यों को टीके लगाने के लिए कैंप बनाए गए हैं। इसके अलावा उन्होंने यह भी बताया कि 12 साल से कम उम्र के बच्चों के माता-पिता के टीकाकरण के लिए सभी जिलों में 200 ‘गार्जियन बूथ’ बनाए गए हैं।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने घोषणा की है कि 15 जून से सामाजिक और आर्थिक तौर पर पिछड़े लोगों (ड्राइवर, दिहाड़ी मजदूर और रिक्शा चालक इत्यादि) के लिए विशेष टीकाकरण कार्यक्रम चलाया जाएगा।  

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘कोई भी कार्रवाई हो तो हमारे पास आइए’: हाईकोर्ट ने 6 संपत्तियों को लेकर वक्फ बोर्ड को दी राहत, सेन्ट्रल विस्टा के तहत इन्हें...

दिसंबर 2021 में सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने हाईकोर्ट को आश्वासन दिया था कि वक्फ बोर्ड की संपत्तियों को कोई नुकसान नहीं पहुँचाया जाएगा।

‘कागज़ पर नहीं, UCC को जमीन पर उतारिए’: हाईकोर्ट ने ‘तीन तलाक’ को बताया अंधविश्वास, कहा – ऐसी रूढ़िवादी प्रथाओं पर लगे लगाम

मध्य प्रदेश हाई कोर्ट ने कहा है कि समान नागरिक संहिता (UCC) को कागजों की जगह अब जमीन पर उतारने की जरूरत है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -