Thursday, July 18, 2024
Homeदेश-समाजअब ₹603 में गैस सिलेंडर, मोदी सरकार ने बढ़ाई पीएम उज्ज्वला योजना के लाभार्थियों...

अब ₹603 में गैस सिलेंडर, मोदी सरकार ने बढ़ाई पीएम उज्ज्वला योजना के लाभार्थियों के लिए सब्सिडी

उज्ज्वला योजना पर सरकार पहले से 200 रुपए की सब्सिडी दे रही थी। अब 100 रुपए की सब्सिडी बढ़ा दी गई है। इस तरह से 1103 रुपए में मिलने वाला सिलेंडर उज्ज्वला योजना के लाभार्थियों को 603 रुपए में मिलेगा।

मोदी सरकार ने प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के लाभार्थियों के लिए सब्सिडी राशि 200 रुपए से बढ़ाकर 300 रुपए प्रति एलपीजी सिलेंडर कर दिया है। उज्ज्वला योजना के लाभार्थियों को मौजूदा समय में प्रति 14.2 किलोग्राम सिलेंडर के लिए 703 रुपए का भुगतान करना पड़ता है, जबकि बाजार मूल्य 903 रुपए है। केंद्रीय मंत्रिमंडल के फैसले के बाद, उन्हें अब 603 रुपए का भुगतान करना होगा।

केंद्रीय कैबिनेट की बैठक में ये फैसला लिया गया। कैबिनेट बैठक के बाद केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने कहा कि उज्ज्वला लाभार्थियों के लिए एलपीजी सिलेंडर पर सब्सिडी राशि 100 रुपए बढ़ा दी गई है। उन्होंने कहा कि पिछले माह रक्षाबंधन के समय जब घरेलू रसोई गैस की कीमतों में 200 रुपए प्रति सिलेंडर की कमी की थी।

उज्ज्वला योजना पर सरकार पहले से 200 रुपए की सब्सिडी दे रही थी। अब 100 रुपए की सब्सिडी बढ़ा दी गई है। इस तरह से 1103 रुपए में मिलने वाला सिलेंडर उज्ज्वला योजना के लाभार्थियों को 603 रुपए में मिलेगा।

वहीं सामान्य उपभोक्ताओं को घरेलू गैस के सिलेंडर 903 रुपए में मिलते रहेंगे। पहले ये कीमतें 1103 रुपए प्रति सिलेंडर थी, लेकिन रक्षाबंधन के समय सरकार ने सिलेंडर की कीमतों में 200 रुपए प्रति सिलेंडर की कमी की थी

बता दें कि केंद्रीय मंत्रिमंडल ने पिछले महीने वित्तीय वर्ष 2023-24 से 2025-26 तक तीन वर्षों में 75 लाख एलपीजी कनेक्शन जारी करने के लिए पीएमयूवाई के विस्तार को मंजूरी दी थी। 75 लाख अतिरिक्त उज्ज्वला कनेक्शन से पीएमयूवाई लाभार्थियों की कुल संख्या 10.35 करोड़ हो जाएगी।

साल 2016 में पीएम मोदी ने की थी शुरुआत

बताते चलें कि प्रधानमंत्री उज्ज्वला य़ोजना की शुरुआत मई 2016 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने की थी। इस योजना के तहत गरीबी रेखा के नीचे रहने वाले परिवारों की महिलाओं को मुफ्त में गैस कनेक्शन दिए जाते हैं। यह कनेक्शन अनिवार्य रूप से महिला के ही नाम से जारी किए जाते हैं।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

साथियों ने हाथ-पाँव पकड़ा, काज़िम अंसारी ने ताबतोड़ घोंपा चाकू… धराया VIP अध्यक्ष मुकेश सहनी के पिता का हत्यारा, रात के डेढ़ बजे घर...

घटना की रात काज़िम अंसारी ने 10-11 बजे के बीच रेकी भी की थी जो CCTV में कैद है। रात के करीब डेढ़ बजे ये लोग पीछे के दरवाजे से घर में घुसे।

प्राइवेट नौकरियों में 75% आरक्षण वाले बिल पर कॉन्ग्रेस सरकार का U-टर्न, वापस लिया फैसला: IT कंपनियों ने दी थी कर्नाटक छोड़ने की धमकी

सिद्धारमैया के फैसले का भारी विरोध भी हो रहा था, जिसकी वजह से कॉन्ग्रेसी सरकार बुरी तरह से घिर गई थी। यही नहीं, इस फैसले की जानकारी देने वाले ट्वीट को भी मुख्यमंत्री को डिलीट करना पड़ा था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -