Saturday, July 20, 2024
Homeदेश-समाजलड़की के जबड़े पर मारी लात ही लात, बेहोश होने तक पीटा: Video वायरल...

लड़की के जबड़े पर मारी लात ही लात, बेहोश होने तक पीटा: Video वायरल होने के बाद MP पुलिस ने युवक को पकड़ा, घर पर चला बुलडोजर

दो दिन पहले सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल होनी शुरू हुई थी। इसमें दिख रहा था कि लड़का कितनी बेरहमी से लड़की को मार रहा था। कई लोगों ने इस पर कार्रवाई की माँग की। अब खबर है कि आरोपित पकड़ लिया गया और उसके घर पर बुलडोजर चल सकता है।

मध्यप्रदेश के रीवा के मऊगंज थाने के ढेरा से वायरल हुई लड़की की पिटाई की वीडियो मामले में पुलिस ने आरोपित लड़के को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपित की पहचान पंकज त्रिपाठी के तौर पर हुई है। पुलिस ने उसे उत्तर प्रदेश के मिर्जापुर से शनिवार (24 दिसंबर 2022) से पकड़ा। घटना के संबंध में लापरवाही बरतने पर थाना प्रभारी निरीक्षक श्वेता मौर्या को निलंबित को किया गया।

बता दें कि दो दिन पहले सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल होनी शुरू हुई थी। इस वीडियो में युवती, युवक से शादी की बात कर रही थी। इसी बीच लड़के ने वीडियो बनाने वाले से कहा कि वो वीडियो बनाना बंद करे और उसके बाद वो उस लड़की को पीटने लगा। लड़के ने पहले लड़की को पकड़कर नीचे गिराया उसके बाद मुँह पर लात ही लात मारी। जब उसे लगा कि लड़की बेहोश हो गई है तो उसने उसे खड़ा करके चेक भी किया।

घटना की वीडियो वायरल होने के बाद सोशल मीडिया पर आरोपित के खिलाफ सख्त कार्रवाई की माँग उठ रही थी। पुलिस पर आरोपितों को पकड़ने का दबाव था। पुलिस ने रातोंरात टीम बनाकर उसे मिर्जापुर से गिरफ्तार कर लिया। इसके बाद राजस्व व पुलिस अधिकारियों की टीम आरोपित के घर ढेरा पहुँची, जहाँ उसके घर की नपाई हुई और घर पर बुलडोजर चलाया गया।

सीएम शिवराज सिंह चौहान ने लिखा, “रीवा जिले के मऊगंज क्षेत्र में युवती के साथ हुई बर्बरता की घटना में अपराधी पंकज त्रिपाठी को गिरफ्तार कर उसके घर पर बुलडोजर चलाया गया। ड्राइवर पंकज का लाइसेंस भी कैंसल कर दिया गया है। मध्यप्रदेश की धरती पर महिलाओं पर अत्याचार करने वाला कोई बख्शा नहीं जायेगा।”

एसपी नवनीत भसीन ने इस संबंध में बताया कि उन्होंने थाना प्रभारी श्वेता मौर्या को सस्पेंड कर दिया है। केस की जाँच एडिशनल एसपी मऊगंज विवेक कुमार लाल को सौंप दी गई है। मामले के संबंध में पुलिस ने पीड़िता के परिजनों की शिकायत पर केस को धारा 366, 294, 323, 506 सहित 363 और आईटी एक्ट के तहत दर्ज किया गया है। वहीं वीडियो वायरल करने वाला आरोपित भारत साकेत भी पकड़ लिया गया है। कहा जा रहा है कि पहले लड़की के घरवालों ने इस संबंध में शिकायत करने से पहले मना कर दिया था। हालाँकि बाद में वीडियो वायरल हुई तो कार्रवाई की माँग तेज हो गई। लोगों ने आरोपित पंकज को हैवान कहकर उसपर एक्शन लेने की माँग उठाई।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

फैक्ट चेक’ की आड़ लेकर भारत में ‘प्रोपेगेंडा’ फैलाने की तैयारी कर रहा अमेरिका, 1.67 करोड़ रुपए ‘फूँक’ तैयार कर रहा ‘सोशल मीडिया इन्फ्लूएंसर्स’...

अमेरिका कथित 'फैक्ट चेकर्स' की फौज को तैयार करने की योजना को चतुराई से 'डिजिटल लिटरेसी' का नाम दे रहा है, लेकिन इनका काम होगा भारत में अमेरिकी नरेटिव को बढ़ावा देना।

मुस्लिम फल विक्रेताओं एवं काँवड़ियों वाले विवाद में ‘थूक’ व ‘हलाल’ के अलावा एक और पहलू: समझिए सच्चर कमिटी की रिपोर्ट और असंगठित क्षेत्र...

काँवड़ियों के पास ये विकल्प क्यों नहीं होना चाहिए, अगर वो सिर्फ हिन्दू विक्रेताओं से ही सामान खरीदना चाहते हैं तो? मुस्लिम भी तो लेते हैं हलाल?

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -