Friday, July 19, 2024
Homeदेश-समाजघर से स्कूल के लिए निकली, उज्जैन में खून से सने कपड़ों में भटकी:...

घर से स्कूल के लिए निकली, उज्जैन में खून से सने कपड़ों में भटकी: ऑटो ड्राइवर ने किया रेप, पुजारी ने मदद; अस्पताल आई कॉन्ग्रेस नेत्री को लौटाया

एनसीपीसीआर के अध्यक्ष प्रियांक कानूनगो का आरोप है कि कॉन्ग्रेस की एक महिला नेता बच्ची के रेप को राजनीतिक रूप देने की कोशिश कर रही है। अस्पताल में राजनैतिक दल के नेता वीडियो बनाने के लिए आ रहे हैं। आयोग की सदस्य ने ऐसी ही कॉन्ग्रेस पार्टी की एक नेत्री को वहाँ भीड़ न लगाने का आग्रह कर उनको वापस भेजा है।

मध्य प्रदेश के उज्जैन में बच्ची के साथ दरिंदगी करने वाले आरोपित भरत सोनी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। भरत सोनी उज्जैन की झुग्गी बस्ती में रहता है और ऑटो चलाने का काम करता है। पुलिस ने बताया कि आरोपित ने बच्ची के साथ जीवनखेड़ी में दुष्कर्म किया था। इससे पहले 5 ऑटो ड्राइवर को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया गया था।

पुलिस ने बताया कि जब आरोपित को जाँच के लिए मौके पर लेकर गई तो उसने भागने की कोशिश की। हालाँकि, पुलिस के जवानों ने उसका पीछा कर उसे पकड़ लिया। इस दौरान आरोपित गिर पड़ा और उसे चोट आ गई। वहीं, दो पुलिसकर्मी भी घायल हुए हैं। पुलिस आरोपित और घायल जवानों पर जिला अस्पताल लेकर गई।

रिपोर्ट में कहा जा रहा है कि बच्ची ने पुलिस को बताया कि वो अपने घर सतना से अच्छी जिंदगी की तलाश में भागकर उज्जैन आई थी। उसने यह भी बताया कि उसकी उम्र 12 साल नहीं, बल्कि 15 साल है। बच्ची की गुमशुदगी की रिपोर्ट सतना के जैतवारा थाने में दर्ज है।

आचार्य की सूचना पर उज्जैन पुलिस हरकत में आई

सोमवार (25 सितंबर 2023) को यह बच्ची खून से लथपथ होकर अर्धनग्न अवस्था में भागती नजर आई थी। बताया जा रहा है कि बच्ची 8 किलोमीटर तक सड़कों पर भागती फिर रही थी। इस दौरान उसने कई लोगों से मदद भी माँगी, लेकिन किसी ने मदद नहीं की।

इस बच्ची की मदद महाकाल थाना क्षेत्र में आने वाले दाँडी सेवा आश्रम के आचार्य राहुल शर्मा ने की थी। उन्हीं की वजह ये मामला उज्जैन पुलिस की नजर में आया। इसके बाद पुलिस प्रशासन हरकत में आया और उसने शहर की सड़कों के सीसीटीवी फुटेज खंगाले तो उसमें बच्ची 5 ऑटो ड्राइवर के साथ दिखी थीं।

‘बच्ची है खौफ और सदमे में’

इस बीच इंदौर के अस्पताल से आ रही खबरों में कहा गया है कि बच्ची की हालत अब खतरे से बाहर है। बच्ची से मिलकर आई राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग (NCPCR) की सदस्य दिव्या गुप्ता ने बताया, “मैं बच्ची की स्थिति देखकर आई हूँ। वह ठीक हो रही है और रिकवर कर रही है। घटना में लिप्त आरोपियों को उज्जैन पुलिस ने पकड़ा है।”

उन्होंने आगे कहा की कि बच्ची किसी से बात नहीं कर रही है। वह अनजान चेहरे को देखकर घबरा रही है और उसे हटाने के लिए कह रही है। दिव्या गुप्ता ने कहा कि वह चिकित्सीय रूप से रिकवर कर रही है, लेकिन भावनात्मक रूप से सदमे में है।

दादा ने दर्ज कराई थी गुमशुदगी की रिपोर्ट

उज्जैन के एसपी सचिन शर्मा के मुताबिक, पीड़ित बच्ची सतना रहने की रहने वाली है। वह 24 सितंबर को घर से लापता हो गई थी। उसकी गुमशुदगी की रिपोर्ट उसी दिन सतना के जैतवारा थाने में दर्ज की गई थी। पुलिस के मुताबिक, पीड़ित बच्ची ने जानकारी दी है कि वो सतना में जिंदगी से परेशान होकर अच्छी जिंदगी की तलाश में घर से निकली थी।

वहीं, जैतवारा पुलिस ने बताया कि बचपन में ही बच्ची की माँ उसे छोड़कर चली गई थी और उसके पिता अर्धविक्षिप्त हैं। वो अपने दादा और बड़े भाई के साथ गाँव में रहती है। वहीं की स्कूल में वह 8वीं कक्षा में पढ़ती है। उसके लापता होने पर दादा ने 24 सितंबर को गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई थी।

इस घटना के बाद सतना पुलिस की टीम भी उज्जैन के लिए रवाना हुई है। बच्ची ने पुलिस को बताया कि सुबह 3.15 से लेकर 5 बजे तक ऑटो ड्राइवर उसे घुमाता रहा था। वो बस (कुछ रिपोर्ट्स में ट्रेन) से उज्जैन आई थी और सोमवार तड़के 3 बजे उसने एक ऑटो ड्राइवर से कुछ बात की थी।

‘राजनैतिक दल के नेता बना रहे वीडियो’

एनसीपीसीआर के अध्यक्ष प्रियांक कानूनगो का आरोप है कि कॉन्ग्रेस की एक महिला नेता बच्ची के रेप को राजनीतिक रूप देने की कोशिश कर रही है। अस्पताल में राजनैतिक दल के नेता वीडियो बनाने के लिए आ रहे हैं। आयोग की सदस्य ने ऐसी ही कॉन्ग्रेस पार्टी की एक नेत्री को वहाँ भीड़ न लगाने का आग्रह कर उनको वापस भेजा है।

उन्होंने अपने एक्स हैंडल पर पोस्ट किया, “उज्जैन की रेप पीड़ित नाबालिग बच्ची का इलाज इन्दौर के अस्पताल में चल रहा है। एनसीपीसीआर की सदस्य डॉक्टर दिव्या गुप्ता ने आज (28 सितंबर) अस्पताल में डीन व अन्य चिकित्सकों से भेंट कर बच्ची की स्थिति की अपडेट ली है। बच्ची मानसिक ट्रॉमा में है। ऐसे में उससे भेंट नहीं की। “

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

फ्लाइट में साथ बैठे थे, पूछा मूवी देखती हो, दिखाने लगे पोर्न… जिंदल स्टील के CEO पर महिला यात्री ने लगाया इल्जाम, कहा- मुझे...

अनन्या छौछरिया नाम की महिला ने जिंदल स्टील के सीईओ दिनेश सारोगी के ऊपर यौन उत्पीड़न का इल्जाम लगाया है।

वाहन फूँके, पुलिस पर हमला… दंगों में जला ब्रिटेन का लीड्स: यहीं से सांसद चुना गया है गाजा समर्थक मोतिन अली, जीत के बाद...

ब्रिटेन के शहर लीड्स में दंगे भड़क गए हैं। प्रवासी दंगाइयों ने एक इलाके में जम का उत्पात मचाया और पुलिस की गाड़ियों को तोड़ आग लगा दी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -