Sunday, July 14, 2024
Homeदेश-समाजमथुरा के इकरार ने अमित बनकर धोखे से रचाई आगरा की हिन्दू युवती से...

मथुरा के इकरार ने अमित बनकर धोखे से रचाई आगरा की हिन्दू युवती से शादी, 9 साल बाद पत्नी और बच्चों को बनाना चाहता है मुस्लिम, गिरफ्तार

हिन्दू युवती की तहरीर पर धोखाधड़ी, धर्मांतरण अधिनियम और अन्य धाराओं में मुकदमा दर्ज कर आवश्यक कार्रवाई की गई। पुलिस ने आरोपित को हिरासत में ले लिया और उससे मामले में पूछताछ की।

आगरा में लव जिहाद का एक नया मामला सामने आया है। हिन्दू महिला का आरोप है कि 9 साल पहले मथुरा के फरह के रहने वाले एक मुस्लिम युवक इकरार ने उसके साथ हिंदू अमित बनकर शादी की थी। अब इतने साल बाद उसकी सच्चाई खुली है कि वह एक मुस्लिम युवक है। महिला आरोप लगाया कि उसे झूठे प्रेम जाल में फँसा कर उससे शादी की अब वह जबरन मुस्लिम मुस्लिम बनने का दबाव डाल रहा है। यही नहीं वह अपने बच्चों का नाम भी बदलकर उनका खतना कराना चाहता है।

मामले में हिन्दू पीड़िता ने आगरा के जगदीशपुरा थाने में पति इकरार के खिलाफ धोखाधड़ी और धर्मांतरण अधिनियम की धारा के तहत मुकदमा दर्ज कराया।। वहीं FIR के आधार पर पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया है।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, आगरा के जगदीशपुरा थाना के प्रभारी निरीक्षक देवेंद्र शंकर पांडेय ने बताया कि फरह निवासी इकरार ने वर्ष 2013 में जगदीशपुरा क्षेत्र की युवती से शादी की थी। तब अपना नाम अमित बताकर हिंदू रीति रिवाज से शादी की। उनके दो बेटे भी हैं। शादी के 9 साल बाद युवती को युवक का असली नाम इकरार पता चला।

पुलिस के अनुसार, मामला तब खुला जब इकरार हिन्दू युवती पर भी इस्लाम कबूल करने का दबाव बनाने लगा। आरोपित कह रहा है कि वह अपने मजहब के अनुसार ही अपने समाज में रहेगा। यहाँ तक कि दोनों बेटों के नाम भी बदलने और खतना करवाने को कहने लगा। शनिवार (18 जून, 2022) को युवती थाने आई। युवती की तहरीर पर धोखाधड़ी, धर्मांतरण अधिनियम और अन्य धाराओं में मुकदमा दर्ज कर आवश्यक कार्रवाई की गई। पुलिस ने आरोपित को हिरासत में ले लिया और उससे मामले में पूछताछ की।

वहीं एक दूसरे मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, बताया जा रहा है कि पीड़िता को अपने पति के मुस्लिम होने की जानकारी वर्ष 2021 में हो गई थी। तभी से वह कई बार थाने के चक्कर काट रही थी। लेकिन उसे कई बार पूर्व इंस्पेक्टर ने थाने से भगा दिया गया था वहीं शनिवार को एक बार फिर महिला जब थाने आई तो उसकी सुनवाई हो सकी है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

मांस-मछली से मुक्त हुआ गुजरात का पातिलाना, इस्लाम और ईसाइयत से भी पुराना है इस शहर का इतिहास: जैन मंदिर शहर के नाम से...

शत्रुंजय पहाड़ियों की यह पवित्रता और शीर्ष पर स्थित धार्मिक मंदिर, साथ ही जैन धर्म का मूल सिद्धांत अहिंसा है जो पालिताना में मांस की बिक्री और खपत पर प्रतिबंध लगाने की मांग का आधार बनता है।

US में पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को लगी गोली, हमलावर सहित 2 की मौत: PM मोदी ने जताया दुख, कहा- ‘राजनीति में हिंसा की...

गोलीबारी के दौरान सुरक्षाबलों ने हमलावर को मार गिराया। इस हमले में डोनाल्ड ट्रंप घायल हो गए और उनके कान से निकला खून उनके चेहरे पर दिखा।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -