Monday, June 24, 2024
Homeदेश-समाजचामुंडा माता मंदिर की बाउंड्री बनाने पर मुस्लिम पक्ष ने मचाया हंगामा, पुलिस पर...

चामुंडा माता मंदिर की बाउंड्री बनाने पर मुस्लिम पक्ष ने मचाया हंगामा, पुलिस पर भी किया पथराव: अब्दुल्ला-रहीस सहित 34 पर FIR, 5 गिरफ्तार

उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद जिले में चमुंडा मंदिर की बाउंड्री का निर्माण करने पर अब्दुल्ला और रहीस ने अपने साथियों के साथ विरोध किया और बवाल बढ़ने पर जब पुलिस ने मामला शांत कराने की कोशिश की तो पुलिस पर पथराव भी किया। पथराव करने वालों में मुस्लिम महिलाएँ भी शामिल थीं। पुलिस ने 5 को लिया हिरासत में लिया है।

उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद जिले में मंदिर की बाउंड्री के निर्माण को लेकर दो समुदाय आमने-सामने आ गए। इससे सांप्रदायिक तनाव फैल गया है। इस दौरान मामले को शांत कराने गई पुलिस पर भी पत्थरबाजी की गई। पुलिस ने अब्दुल्ला और रहीस सहित कुल 34 आरोपितों पर FIR दर्ज करके 5 लोगों को गिरफ्तार किया है। गाँव में तनाव को देखते हुए अतिरिक्त फ़ोर्स तैनात कर दी गई है। घटना मंगलवार (19 दिसंबर 2023) की बताई जा रही है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, मामला मुरादाबाद के मूढ़ापांडे थाना क्षेत्र का है। यहाँ के रौंडा में माता चामुंडा देवी का मंदिर है, जो आसपास के हिन्दुओं की आस्था का प्रतीक है। मंदिर की चारदीवारी जर्जर है, जिसको बनवाने के लिए श्रद्धालु पिछले काफी समय से प्रयास कर रहे हैं। 25 नवंबर 2023 को जब चारदीवारी के निर्माण का काम हो रहा था, तभी मुस्लिम पक्ष आकर विरोध करने लगा। तब मौके पर पहुँची पुलिस ने निर्माण काम रुकवा दिया था।

इस बीच 19 दिसंबर 2023 (मंगलवार) को एक बार फिर से मंदिर की चारदीवारी का निर्माण काम शुरू किया गया। इसी दौरान भी मुस्लिम पक्ष के लोग वहाँ जमा हो गए। इन्होंने निर्माण का विरोध किया। विरोध करने वालों में मुस्लिम महिलाएँ भी शामिल थीं। उन्होंने मंदिर निर्माण को नहीं रोकने पर अपने मजहबी स्थल पर निर्माण शुरू करने का एलान कर दिया। इसके बाद हालत तनावपूर्ण हो गए। इसके बाद पुलिस मौके पर पहुँच गई।

आरोप है कि बातचीत के दौरान ही मुस्लिम पक्ष पत्थरबाजी करने लगा जिसका वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। जब पुलिस ने बल प्रयोग करके उपद्रवियों को काबू करना चाहा तो पत्थरबाज पुलिस से ही भिड़ गए। पत्थरबाजी की चपेट में महिला कॉन्स्टेबल भी आईं। हालाँकि, पुलिस ने उपद्रवियों को काबू किया। चौकी इंचार्ज सब इंस्पेक्टर सुरेंद्र कुमार की तहरीर पर कुल 34 आरोपितों के खिलाफ FIR दर्ज कर ली गई है।

इसमें अब्दुल्ला और रहीस के नाम प्रमुख हैं। इन सभी पर पुलिस टीम से अभद्रता, सरकारी कार्य में बाधा डालना और क्रिमिनल एक्ट के तहत कार्रवाई की गई है। अभी तक 5 आरोपितों की गिरफ्तारी की सूचना है। वहीं, कई आरोपित फरार हैं।

मामला 2 समुदायों से जुड़ा होने के चलते गाँव में अतिरिक्त पुलिस फ़ोर्स के साथ PAC बल तैनात कर दिया गया है। स्थानीय पत्रकार सुमित टंडन द्वारा ऑपइंडिया को भेजे गए वीडियो में मुस्लिम पक्ष की भीड़ इंस्पेक्टर से बहस करती दिख रही है। इस बहसबबाजी में कई महिलाएँ भी शामिल हैं। भीड़ इंस्पेक्टर पर भी कार्रवाई कराने की धमकी दे रही है। बहस करती भीड़ हिन्दू पक्ष की तरफ बढ़ने पर आमादा थी।

वीडियो में मुस्लिम पक्ष से जमा भीड़ में मारने-पीटने की बातें भी सुनी जा सकती हैं। मुस्लिम पक्ष की तरफ से जैबुन्निशा नाम की महिला वकील ने ये तो माना कि मंदिर पहले से बना है, लेकिन उनका आरोप है कि हिन्दू पक्ष मंदिर का विस्तार कर रहा है। जैबुन्निशा ने खुद को कानून की जानकर बताया है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

राहुल पाण्डेय
राहुल पाण्डेयhttp://www.opindia.com
धर्म और राष्ट्र की रक्षा को जीवन की प्राथमिकता मानते हुए पत्रकारिता के पथ पर अग्रसर एक प्रशिक्षु। सैनिक व किसान परिवार से संबंधित।

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

किसानों के आंदोलन से तंग आ गए स्थानीय लोग: शंभू बॉर्डर खुलवाने पहुँची भीड़, अब गीदड़-भभकी दे रहे प्रदर्शनकारी

किसान नेताओं ने अंबाला शहर अनाज मंडी में मीडिया बुलाई, जिसमें साफ शब्दों में कहा कि आंदोलन खराब नहीं होना चाहिए। आंदोलन खराब करने वाला खुद भुगतेगा।

‘PM मोदी ने किया जी अयोध्या धाम रेलवे स्टेशन का उद्घाटन, गिर गई उसकी दीवार’: News24 ने फेक न्यूज़ परोस कर डिलीट की ट्वीट,...

अयोध्या धाम रेलवे स्टेशन से जुड़े जिस दीवार के दिसंबर 2023 में बने होने का दावा किया जा रहा है, वो दावा पूरी तरह से गलत है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -