Tuesday, July 16, 2024
Homeदेश-समाजभगवा पहन छत्तीसगढ़ में रेकी कर रहे थे UP के दो मुस्लिम: पुलिस ने...

भगवा पहन छत्तीसगढ़ में रेकी कर रहे थे UP के दो मुस्लिम: पुलिस ने कड़ाई की तो बताई सचाई, स्वीकारा- बच्चा चोरी करने का था इरादा

पुलिस का कहना है कि वह जाँच कर रही है कि दोनों आरोपित किसके लिए काम कर रहे थे। बच्चा चोरी के बाद वे उसका क्या करने वाले थे। पुलिस का कहना है कि वह आरोपितों का रिमांड लेने की कोशिश कर रही है।

छत्तीसगढ़ के बालोद जिले के गुरूर में भगवा चोला पहन कर घूम रहे दो मुस्लिमों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। मुसाफिर जोगी और याद अली नाम के दोनों योगियों की गतिविधियों को संदिग्ध पाने पर लोगों ने उनसे पूछताछ शुरू कर दी। इसके बाद पुलिस ने उनसे गायत्री मंत्र और महामृत्युंजय मंत्र सुनाने को कहा तो वे हड़बड़ा गए।

जब पुलिस ने उनसे सख्ती से पूछताछ की तो दोनों ने माना कि वे मुस्लिम हैं। उसमें एक ने अपनी पहचान झगरू पिता मुसाफिर जोगी और दूसरे ने याद अली उर्फ माले सज्जन बताई। दोनों उत्तर प्रदेश के प्रतापगढ़ जिले के थाना पट्टी के नवादा गाँव के कहने वाले हैं।

साधु का वेश धर कर घूमने के आरोप में पुलिस ने दोनों के खिलाफ भारतीय दण्ड संहिता (IPC) की कई धाराओं में मुकदमा दर्ज कर गिरफ्तार कर लिया। इसके बाद पुलिस ने दोनों को न्यायालय में पेश किया। अदालत ने दोनों आरोपितों को न्यायिक हिरासत में भेज दिया है।

नईदुनिया की रिपोर्ट के मुताबिक, गुरुर थाना की पुलिस ने बताया कि उसे मुखबिर से सूचना मिली दो संदिग्ध लोग भगवा पहन कर घूम रहे हैं। इसके बाद पुलिस ने दोनों को बस स्टैंड के पास से पकड़ लिया और पूछताछ के लिए थाने ले गए। पूछताछ के दौरान ने दोनों ने खुद को हिंदू बताया और कहा कि वे भिक्षा माँग रहे थे।

हालाँकि, पुलिस को उन दोनों की बातों पर विश्वास नहीं हुआ और दोनों से कड़ाई से पूछताछ की। इसके बाद दोनों ने गायत्री मंत्र और महामृत्युंजय मंत्र बताने के लिए कहा तो वे हड़बड़ा गए। इसके बाद पुलिस ने कड़ाई की तो वे असली बात बताए। पुलिस का कहना है कि बच्चा चोरी करने के दोनों रेकी कर रहे थे। उन्होंने साधु का वेश इसलिए बनाया ताकि कोई शक ना कर सके।

पुलिस का कहना है कि वह जाँच कर रही है कि वे किसके लिए काम कर रहे थे। बच्चा चोरी के बाद वे उसका क्या करने वाले थे। पुलिस का कहना है कि वह आरोपितों का रिमांड लेने की कोशिश कर रही है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

जम्मू-कश्मीर के डोडा में 4 जवान बलिदान, जंगल में छिपे थे इस्लामी आतंकवादी: हिन्दू तीर्थयात्रियों पर हमला करने वाले आतंकी समूह ने ली जिम्मेदारी

जम्मू कश्मीर के डोडा में हुए आतंकी हमले में एक अफसर समेत 4 जवान वीरगति को प्राप्त हुए हैं। इस हमले की जिम्मेदारी कश्मीर टाइगर्स ने ली है।

‘जम्मू-कश्मीर की पार्टियों ने वोट के लिए आतंक को दिया बढ़ावा’: DGP ने घाटी के सिविल सोसाइटी में PAK के घुसपैठ की खोली पोल,...

जम्मू कश्मीर के DGP RR स्वेन ने कहा है कि एक राजनीतिक पार्टी ने यहाँ आतंक का नेटवर्क बढ़ाया और उनके आका तैयार किए ताकि उन्हें वोट मिल सकें।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -