Thursday, July 18, 2024
Homeदेश-समाज'95 परीक्षा सेंटरों से हैं शीर्ष 100 टॉपर, लीक वाला वीडियो एडिटेड': NTA ने...

’95 परीक्षा सेंटरों से हैं शीर्ष 100 टॉपर, लीक वाला वीडियो एडिटेड’: NTA ने सुप्रीम कोर्ट को बताया – Answer Key के रिवीजन के बाद मात्र 17 छात्रों को फुल मार्क्स

NTA का कहना है कि टाइम स्टाम्प के साथ छेड़छाड़ की गई, ताकि ऐसा लगे कि 1 दिन पहले पेपर लीक हुआ। NTA ने बताया है कि उसने पेपर लीक की जाँच के लिए जो कमिटी बनाई है।

NEET की परीक्षा आयोजित करने वाली ‘राष्ट्रीय परीक्षा एजेंसी’ (NTA) ने सुप्रीम कोर्ट को बताया है कि एग्जाम से 1 दिन पहले 4 मई को जिस सामूहिक पेपर लीक के वीडियो को सबूत के रूप में पेश किया गया था, वो एडिटेड था और पेपर पहले आउट होने का भ्रम इससे फैला। NTA द्वारा दायर किए गए एफिडेविट में बताया गया है कि टेलीग्राम पर पेपर लीक की जो तस्वीर है वो 5 मई को 17:40 बजे का टाइम स्टाम्प दिख रहा है, 4 मई का नहीं।

उक्त टेलीग्राम चैनल में हुए डिस्कशन से भी पता चलता है कि उसके सदस्यों ने ही इस वीडियो को फेक बताया था। NTA का कहना है कि टाइम स्टाम्प के साथ छेड़छाड़ की गई, ताकि ऐसा लगे कि 1 दिन पहले पेपर लीक हुआ। NTA ने बताया है कि उसने पेपर लीक की जाँच के लिए जो कमिटी बनाई है, उसने गड़बड़ियों के 153 मामले पाए हैं। अब तक 81 अभ्यर्थियों के परिणाम स्थगित करने का निर्णय लिया गया है, वहीं 54 छात्रों को अगले 3 साल के लिए प्रतिबंधित किया गया है।

अब तक NEET UG पेपर लीक को लेकर 16 FIR दर्ज की गई है। पटना और सवाई माधोपुर में पेपर लीक होने के दावों का भी NTA ने जवाब दिया है। 67 छात्रों को पूर्ण अंक यानी 720 मार्क्स मिलने के संबंध में कहा कि 6 को ग्रेस मार्क्स दिए गए थे तभी उन्हें इतने अंक मिले, ग्रेस मार्क्स रद्द कर रिटेस्ट लिया गया तो अब ये आँकड़ा 61 है। वहीं उत्तर कुंजी के पुनः परीक्षण के बाद केवल 17 छात्र ही हैं, जिन्हें 720 मार्क्स मिले हैं।

NTA ने बताया है कि 32 अलग-अलग स्कूल बोर्ड्स के प्रतिनिधियों वाली विशेषज्ञ समिति की सलाह पर पिछले साल के मुकाबले इस बार NEET UG के सिलेबस में 22-25% की कटौती की गई है। शीर्ष 100 अभ्यर्थियों के संबंध में NTA ने बताया कि ये 18 प्रदेशों के 56 शहरों और 95 परीक्षा केंद्रों से ताल्लुक रखते हैं। NTA ने ये बताने की चेष्टा की है कि शीर्ष 100 टॉपर एक ही जगह से नहीं हैं। इससे पहले सुप्रीम कोर्ट ने कहा था कि इसमें कोई शक नहीं है कि परीक्षा में धाँधली हुई है। अब इस मामले की अगली सुनवाई 18 जुलाई को होगी।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

साथियों ने हाथ-पाँव पकड़ा, काज़िम अंसारी ने ताबतोड़ घोंपा चाकू… धराया VIP अध्यक्ष मुकेश सहनी के पिता का हत्यारा, रात के डेढ़ बजे घर...

घटना की रात काज़िम अंसारी ने 10-11 बजे के बीच रेकी भी की थी जो CCTV में कैद है। रात के करीब डेढ़ बजे ये लोग पीछे के दरवाजे से घर में घुसे।

प्राइवेट नौकरियों में 75% आरक्षण वाले बिल पर कॉन्ग्रेस सरकार का U-टर्न, वापस लिया फैसला: IT कंपनियों ने दी थी कर्नाटक छोड़ने की धमकी

सिद्धारमैया के फैसले का भारी विरोध भी हो रहा था, जिसकी वजह से कॉन्ग्रेसी सरकार बुरी तरह से घिर गई थी। यही नहीं, इस फैसले की जानकारी देने वाले ट्वीट को भी मुख्यमंत्री को डिलीट करना पड़ा था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -