Wednesday, July 17, 2024
Homeदेश-समाजराजस्थान में खाकी पस्त, अपराधी मस्त: कॉन्स्टेबल को गोली मारी, फिर 3 बार कार...

राजस्थान में खाकी पस्त, अपराधी मस्त: कॉन्स्टेबल को गोली मारी, फिर 3 बार कार से कुचला… सब कुछ चेकपोस्ट के सामने

कॉन्स्टेबल सुजान सिंह पर कार में बैठे एक तस्कर ने गोली चलाई। इसके बाद अपराधियों ने 3 बार उन पर कार चढ़ाई। उनके कॉलर बोन और पैर की हड्डी टूट गई। यह सब हुआ राजस्थान पुलिस के अंतर्गत आने वाले चेकपोस्ट के सामने।

राजस्थान में पुलिस महकमा ही सुरक्षित नहीं तो आम लोगों की सुरक्षा के तो क्या ही कहने? दरअसल राज्य के बाराँ जिले की वन चौकी में तैनात एक पुलिसकर्मी ने मादक पदार्थों की तस्करी रोकने की कोशिश की। नतीजा क्या हुआ? ड्रग तस्करों ने न केवल उन्हें गोली मारी बल्कि उनको तीन बार गाड़ी से भी कुचला।

पुलिसकर्मी की जान तो बच गई लेकिन इस दौरान उनके पैरों और गले में चोट आई है। अस्पताल में उनका इलाज चल रहा है। पूरी वारदात के दौरान आपाधापी में तस्कर मौके पर अपना गाड़ी और 241 किलोग्राम मादक पदार्थ वहीं छोड़कर फरार हो गए। ये जानकारी शुक्रवार (22 सितंबर) को सारथल के एक पुलिस अधिकारी ने दी।

गोली लगने के बाद भी नहीं बख्शा

राजस्थान पुलिस के मुताबिक, ये घटना गुरुवार (21-22 सितंबर) रात की है। बाराँ जिले की वन चौकी के कॉन्स्टेबल सुजान सिंह ने इस क्षेत्र में पातालपानी गाँव की तरफ से आ रही एक कार को देख उसे रुकने का इशारा किया। इसके बाद कार में बैठे दो तस्करों ने कार की रफ्तार कम की और एक ने खिड़की से कॉन्स्टेबल सिंह पर गोली चला दी।

ये गोली उनकी कमर के ऊपरी हिस्से में जा लगी और वो जमीन पर गिर पड़े। इतने पर भी तस्करों ने उन्हें नहीं बख्शा। इसके बाद उन्होंने तीन बार उन पर कार चढ़ाई। इससे उनके कॉलर बोन और पैर की हड्डी में फैक्चर आ गया। इसके बावजूद उन्होंने सारथल स्टेशन हाउस ऑफिसर (एसएचओ) महावीर किराड को इस बारे में सूचना दी।

प्लास्टिक की थैली में ड्रग छोड़ हुए फरार

कॉन्स्टेबल सुजान सिंह की सूचना के बाद पास की चेकपोस्ट से एक टीम को घटनास्थल की तरफ रवाना किया गया। तस्करों ने पुलिस टीम को आते देख लिया। इसके बाद वो अपनी कार छोड़कर जंगलों में भाग खड़े हुए। एसएचओ महावीर किराड के मुताबिक, कार की तलाशी लेने पर प्लास्टिक की थैलियों में करीब 241 किलोग्राम ड्रग्स मिली।

ड्रग्स के अलावा एक देशी पिस्तौल, पिस्तौल की एक गोली भी बरामद हुई है। पुलिस को सूचना मिली थी कि एक काली कार में मादक पदार्थों की तस्करी की जा रही है। एसएचओ किराड ने बताया कि घायल कॉन्स्टेबल का एकलेरा शहर के एक अस्पताल में इलाज चल रहा है, उनकी हालत स्थिर है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

अमेरिकी राजनीति में नहीं थम रहा नस्लवाद और हिंदू घृणा: विवेक रामास्वामी और तुलसी गबार्ड के बाद अब ऊषा चिलुकुरी बनीं नई शिकार

अमेरिका में भारतीय मूल के हिंदू नेताओं को निशाना बनाया जाना कोई नई बात नहीं है। निक्की हेली, विवेक रामास्वामी, तुलसी गबार्ड जैसे मशहूर लोग हिंदूफोबिया झेल चुके हैं।

आज भी फैसले की प्रतीक्षा में कन्हैयालाल का परिवार, नूपुर शर्मा पर भी खतरा; पर ‘सर तन से जुदा’ की नारेबाजी वाले हो गए...

रिपोर्ट में यह भी कहा गया था कि गौहर चिश्ती 17 जून 2022 को उदयपुर भी गया था। वहाँ उसने 'सर कलम करने' के नारे लगवाए थे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -