Wednesday, July 24, 2024
Homeदेश-समाजशाहिद खान ने 'मनीष' बन हिन्दू छात्रा को फाँसा, नशीला पदार्थ खिला खींची अश्लील...

शाहिद खान ने ‘मनीष’ बन हिन्दू छात्रा को फाँसा, नशीला पदार्थ खिला खींची अश्लील तस्वीरें: अब कर रहा था ब्लैकमेल

उसके असली नाम के बारे में तब पता चला जब वो भीलवाड़ा के पंचवटी स्थित मकान पर उसे लेकर गया। इसने मनीष के नाम से कमरा किराए पर ले रखा था। लेकिन...

राजस्थान के भीलवाड़ा के कोतवाली क्षेत्र में एक मोबाइल नेटवर्क कंपनी के मैनेजर ने अपना मजहब बदलकर और मनीष नाम से फेक आईडी बनाकर पहले कॉलेज की हिन्दू छात्रा से दोस्ती की। बाद में नशीला पदार्थ पिलाकर अश्लील तस्वीरें खींचकर ब्लैकमेल करने का मामला सामने आया है।

छात्रा को जब पता चला कि यह मनीष नहीं बल्कि शाहिद खान है तो उसने पूरे मामले में छेड़छाड़ और ब्लैकमेल करने के आरोप में भीलवाड़ा के कोतवाली थाना क्षेत्र में शिकायत दर्ज कराई।

वहीं इस मामले में जानकारी देते हुए NBT की रिपोर्ट के अनुसार, कोतवाली थाना प्रभारी मुकेश कुमार वर्मा ने बताया, “कॉलेज छात्रा ने एक मुकदमा दर्ज करवाया है। साथ ही पूरे मामले की जानकारी दी है। पीड़िता का कहना है युवक उसे ब्लैकमेल कर रहा है। धमकी दे रहा है कि उसने उसका अश्लील फोटो खींच ली है। युवती ने बताया कि इस धमकी का आधार पर ही वो उसे जबरन अपने कमरे में ले गया था। यहाँ उसे पता चला कि वह लड़का मनीष नहीं बल्कि शाहिद खान है। युवती ने यह सारी बात अपने परिजनों को बताकर पुलिस में एफआईआर दर्ज करवाई है। इसके बाद कोतवाली पुलिस ने शाहिद को गिरफ्तार कर लिया है।”

गिरफ़्तारी के बाद पुलिस पूछताछ में आरोपित का नाम शाहिद खान निकलकर सामने आया। उसने मनीष सेन के नाम से सोशल मीडिया पर फर्जी आईडी बनाने की बात स्वीकार ली है। इस आईडी के जरिए उसने लड़की से दोस्ती की। वहीं पुलिस अब इस बात की भी जाँच कर रही है कहीं आरोपित ने और भी युवतियों को तो नहीं फँसा रखा है।

ऐसे खुला भेद

पीड़िता ने पुलिस को बताया कि उसे उसके असली नाम के बारे में तब पता चला जब वो भीलवाड़ा के पंचवटी स्थित मकान पर उसे लेकर गया। इसने मनीष के नाम से कमरा किराए पर ले रखा था। लेकिन मकान मालिक ने उससे ID देने को कहा तो वह टालमटोल करने लगा। इसी दौरान उसके असली नाम का खुलासा हुआ।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

औरतें और बच्चियाँ सेक्स का खिलौना नहीं… कट्टर इस्लामी मानसिकता पर बैन लगाओ, OpIndia पर नहीं: हज पर यौन शोषण की खबरें 100% सच

हज पर मुस्लिम महिलाओं और बच्चियों का यौन शोषण होता है, यह खबर 100% सत्य है। BBC, Washington Post और अरब देश की मीडिया में भी यह छपा है।

‘मेरे बेटे को मार डाला’: आधुनिक पश्चिमी सभ्यता ने दुनिया के सबसे अमीर शख्स को भी दे दिया ऐसा दर्द, कहा – Woke वाले...

लिंग-परिवर्तन कराने वाले को उसके पुराने नाम से पुकारना 'Deadnaming' कहलाता है। उन्होंने कहा कि इसका अर्थ है कि उनका बेटा मर चुका है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -