Monday, July 15, 2024
Homeदेश-समाजयूपी में छेड़खानी का विरोध करने पर नाबालिग छात्रा को ट्रेन के आगे फेंका,...

यूपी में छेड़खानी का विरोध करने पर नाबालिग छात्रा को ट्रेन के आगे फेंका, दोनों पैर और एक हाथ कटे: CM योगी ने ₹5 लाख दिए

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस घटना का संज्ञान लिया है। उन्होंने छात्रा का बेहतर इलाज कराने के निर्देश दिए हैं। शासन की तरफ से इलाज के लिए 5 लाख रुपए की राशि भी मंजूर हुई है। घायल पीड़िता का एक निजी अस्पताल में इलाज चल रहा है। फिलहाल लड़की की हालात गंभीर बताई जा रही है।

उत्तर प्रदेश के बरेली में एक छात्रा को चलती ट्रेन के आगे फेंकने का मामला सामने आया है। इस घटना में छात्रा के दोनों पैर कट गए हैं। लड़की के पिता ने घटना के पीछे छेड़खानी करने वाले शोहदों के होने का आरोप लगाया है। शासन ने घटना का संज्ञान लेते हुए छात्रा का बेहतर इलाज करवाने के साथ ही 5 लाख रुपए की राहत राशि देने का आदेश दिया है। अभी तक 2 आरोपितों को गिरफ्तार किया गया है। स्थानीय SHO सहित 3 पुलिसकर्मियों को सस्पेंड कर दिया है। घटना मंगलवार (10 अक्टूबर 2023) की है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, घटना बरेली के थाना क्षेत्र सीबीगंज की है। यहाँ क्लास 12 की एक छात्रा सीबीगंज बाजार में कोचिंग करने जाया करती थी। इस बीच उसे गाँव का ही एक युवक आते-जाते छेड़ा करता था। आरोपित का नाम विजय मौर्य है। पीड़िता के परिजनों का आरोप है कि उन्होंने विजय मौर्य के घरवालों से इस बात की शिकायत की थी। फिर भी विजय मौर्य नहीं माना। मंगलवार को लड़की खड़ौआ रेलवे क्रॉसिंग के पास लहुलुहान हालत में मिली। लड़की के दोनों पैर कट चुके थे। कई हड्डियाँ भी टूटी मिलीं।

छात्रा के परिजनों का आरोप है कि विजय मौर्य और उसके एक साथी ने छात्रा से छेड़खानी की। जब पीड़िता ने इसका विरोध किया तो उसे ट्रेन के आगे धकेल दे दिया। इस मामले की थाने में तहरीर दी गई है। तहरीर के बाद पुलिस ने कार्रवाई करते हुए आरोपित विजय मौर्य सहित एक अन्य व्यक्ति को गिरफ्तार कर लिया है। पकड़े गए आरोपितों से पूछताछ की जा रही है। इन सभी के घटनास्थल पर मौजूदगी आदि के बारे में इलेक्ट्रॉनिक सबूतों के आधार पर जाँच की जा रही है।

वहीं, केस में लापरवाही बरतने के आरोप में SHO सीबीगंज के साथ एक सब इंस्पेक्टर और एक सिपाही को सस्पेंड कर दिया गया है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस घटना का संज्ञान लिया है। उन्होंने छात्रा का बेहतर इलाज कराने के निर्देश दिए हैं। शासन की तरफ से इलाज के लिए 5 लाख रुपए की राशि भी मंजूर हुई है। घायल पीड़िता का एक निजी अस्पताल में इलाज चल रहा है। फिलहाल लड़की की हालात गंभीर बताई जा रही है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

कॉन्ग्रेस के चुनावी चोचले ने KSRTC का भट्टा बिठाया, ₹295 करोड़ का घाटा: पहले महिलाओं के लिए बस सेवा फ्री, अब 15-20% किराया बढ़ाने...

कर्नाटक में फ्री बस सेवा देने का वादा करना कॉन्ग्रेस के लिए आसान था लेकिन इसे लागू करना कठिन। यही वजह है कि KSRTC करोड़ों के नुकसान में है।

‘बैकफुट पर आने की जरूरत नहीं, 2027 भी जीतेंगे’: लोकसभा चुनावों के बाद हुई पार्टी की पहली बैठक में CM योगी ने भरा जोश,...

लोकसभा चुनावों के बाद पहली बार भाजपा प्रदेश कार्यसमिति की लखनऊ में आयोजित बैठक में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कार्यकर्ताओं में जोश भरा।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -