Monday, July 22, 2024
Homeदेश-समाजछत्तीसगढ़ में जनजातीय समाज की लड़की की हत्या: रिपोर्ट में दावा - शाहबाज़ ने...

छत्तीसगढ़ में जनजातीय समाज की लड़की की हत्या: रिपोर्ट में दावा – शाहबाज़ ने 51 बार पेचकस से गोदा, तकिए से मुँह दबाया, छाती तक चीर डाला

लड़की की लाश के पास से फ्लाइट की टिकटें बरामद हुईं हैं, जो 2 दिन पुरानी हैं। घटना के बाद से शाहबाज फरार चल रहा है, जिसकी तलाश पुलिस कर रही है।

छत्तीसगढ़ के कोरबा में एक लड़की की निर्मम हत्या का मामला सामने आया है। बताया जा रहा है कि नीलकुसुम नाम की इस 21 वर्षीया मृतका को पेचकस से 51 बार गोदा गया है। नीलकुसुम ने जनजातीय समुदाय में जन्म लेने के बाद ईसाई मत अपना लिया था। इस मामले में ‘लव जिहाद’ के एंगल का भी दावा किया जा रहा है। आरोपित का नाम शाहबाज़ बताया जा रहा है। घटना शनिवार (24 दिसंबर, 2022) की बताई जा रही है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, मामला साउथ ईस्टर्न कोलफील्ड्स लिमिटेड की पंप हाउस कालोनी का है। मृतका के भाई का कहना है कि उनकी बहन पहले मदनपुर के स्कूल में पढ़ाई करती थीं। उस समय एक बस कंडक्टर उनकी बहन का पीछा किया करता था। बीच में कंडक्टर से लड़की के घर वालों के विवाद का भी दावा किया जा रहा है। हालाँकि, अभी तक कातिल की आधिकारिक पुष्टि नहीं हो पाई है।

घटना के दिन लड़की घर में अकेली थी। परिवार के बाकी सदस्य कहीं बाहर गए थे। लड़की का भाई सुबह लगभग 11 बजे जब वापस लौट कर आया तब उसने पीछे का दरवाजा खुला देखा। अंदर आने के बाद उसने देखा कि उसकी बहन की हत्या हो गई है और वो बिस्तर पर मृत पड़ी है। लड़की के चेहरे पर खून के छींटे थें और उसका मुँह तकिए से दबा दिया गया था। उसके भाई ने देखा तो लड़की का शरीर ठंडा पड़ चुका था। लड़के ने फौरन ही अपने घर वालों को सूचना दी।

शक जताया जा रहा है कि पीछे से खुले दरवाजे से प्रेमी अंदर आया होगा। हालाँकि अभी तक पुलिस किसी अंतिम निष्कर्ष पर नहीं पहुँची है।

कातिल का नाम शाहबाज़

वही ‘दैनिक जागरण’ व कुछ अन्य मीडिया रिपोर्ट्स में दावा किया गया है कि युवती की हत्या का आरोपित शाहबाज़ नाम का युवक है। बताया गया है कि हत्या की वजह मृतका द्वारा खुद को अनदेखा करना है। शाहबाज़ गुजरात में रहता है जो लड़की को मारने के लिए फ्लाइट पकड़ कर छत्तीसगढ़ आया था। दावा किया जा रहा है कि लड़की की लाश के पास से फ्लाइट की टिकटें बरामद हुईं हैं, जो 2 दिन पुरानी हैं। घटना के बाद से शाहबाज फरार चल रहा है, जिसकी तलाश पुलिस कर रही है।

रिपोर्ट्स के अनुसार, शाहबाज़ ने नीलकुसुम की हत्या बड़ी निर्ममता से की। पेचकस से मृतका पर 51 वार किए गए। लड़की की चीख किसी को सुनाई न दे इसके लिए तकिए से उसका मुँह दबा दिया गया। इस दौरान लड़की के सीने पर 34, पीठ पर 16 और बगल में एक बार पेचकस घोंपा गया। एक पेचकस हृदय में घाव करता हुआ निकल गया था। फिलहाल शाहबाज़ की गिरफ्तारी के लिए पुलिस की 4 टीमें बनाई गईं हैं

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

आम सैनिकों जैसी ड्यूटी, सेम वर्दी, भारतीय सेना में शामिल हो चुके हैं 1 लाख अग्निवीर: आरक्षण और नौकरी भी

भारतीय सेना में शामिल अग्निवीरों की संख्या 1 लाख के पार हो गई है, 50 हजार अग्निवीरों की भर्ती की जा रही है।

भारत के ओलंपिक खिलाड़ियों को मिला BCCI का साथ, जय शाह ने किया ₹8.50 करोड़ मदद का ऐलान: पेरिस में पदकों का रिकॉर्ड तोड़ने...

बीसीसीआई के सचिव जय शाह ने बताया कि ओलंपिक अभियान के लिए इंडियन ओलंपिक एसोसिएशन (IOA) को बीसीसीआई 8.5 करोड़ रुपए दे रही है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -