Tuesday, July 23, 2024
Homeदेश-समाज'हिंदुओं को फाँसने के मिलते हैं पैसे, ये कौम का काम': रिजवान ने करन...

‘हिंदुओं को फाँसने के मिलते हैं पैसे, ये कौम का काम’: रिजवान ने करन बनकर हिंदू लड़की को फाँसा, धर्मांतरण और दो बच्चे पैदा करने के बाद खोला राज

रिजवान ने कहा, "मुझे अभी और पैसों की जरूरत है और हम जितनी ज्यादा हिंदू लड़कियाँ लाएँगे, इस्लाम का उतना ही ज्यादा प्रचार होगा। यह कौम की मजबूती का काम।"

गुजरात के सूरत से लव जिहाद का नया मामला सामने आया है। यहाँ रिजवान गफ्फार खान नाम के मुस्लिम युवक ने खुद को करन बताकर एक हिंदू लड़की को अपने जाल में फाँस लिया। वो उसे दिल्ली लेकर गया और फिर पोल खुलने के डर से उसने लड़की को डरा धमकाकर मुस्लिम बना लिया, लेकिन इससे पहले ही उसने हिंदू रीति-रिवाज से लड़की से शादी की थी। शादी के बाद वो उसे दिल्ली लेकर आया और लड़की को अपने मुस्लिम होने की जानकारी दी, फिर उसका धर्म परिवर्तन कराकर निकाह भी कर लिया। वो उसे अपने गाँव लेकर गया और पूरी तरह से मुस्लिमों की तरह घर की चारदीवारी तक ही सीमित कर दिया।

इन सबके बीच उसके दो बच्चे भी हो गए। इसके कई साल बाद वो दूसरी हिंदू लड़कियों को इंस्टाग्राम के माध्यम से जाल में फँसाने लगा, तो हिंदू से मुस्लिम बनी पहली लड़की ने ऐतराज जताया। इसके बाद रिजवान ने जो खुलासा किया वो चौंकाने वाला है। रिजवान ने बताया कि वो ‘कौम का काम’ कर रहा है। उसे पैसों की जरूरत है। ऐसे में वो एक और हिंदू लड़की को फाँस कर ले आएगा, तो उसे पैसे मिलेंगे। इसके बाद लड़की किसी तरह से उसके चंगुल से भागकर सूरत पहुँची और पूरा वाकया घर वालों को बताया, जिसके बाद मामला दर्ज कराया गया।

ये पूरा मामला सूरत के पांडेसरा थाना इलाके का है। पीड़ित लड़की की शिकायत के आधार पर मामला दर्ज कराने के बाद सूरत पुलिस ने आरोपित रिजवान को गिरफ्तार कर लिया है और उससे पूछताछ की जा रही है। इस मामले को लेकर सूरत पुलिस के एसीपी एमडी उपाध्याय ने मीडिया को जानकारी दी।

जानकारी के मुताबिक, पीड़ित लड़की साल 2018 में आरोपित रिजवान गफ्फार शाह के संपर्क में आई थी। उस समय उसकी उम्र 17 साल थी और रिजवान उसे करन के तौर पर मिला था। पीड़ित लड़की एक फैक्ट्री में काम करती थी और आरोपित ऑटोरिक्शा चलाता था और लड़की को लाने और छोड़ने का काम करता था। कुछ समय बाद दोनों के बीच दोस्ती हुई जो ‘प्रेम संबंध’ में बदल गई। इस दौरान उन दोनों ने शादी कर ली। शादी के समय लड़की नाबालिग थी। उसके बाद वो उसे दिल्ली लेकर चला गया। दिल्ली में उसने बताया कि उसका असली नाम रिजवान है। लेकिन तबतक पीड़िता गर्भवती हो गई थी। इसी वजह से वो रिजवान के साथ ही रहने लगी।

मूर्ति पूजा पर लगाया बैन, मुस्लिम बनाकर ले गया गाँव

पीड़िता की शिकायत है कि रिजवान ने उससे कहा कि वे (मुस्लिम) मूर्ति पूजा में विश्वास नहीं करते हैं और इसलिए लड़की को पूजा नहीं करनी चाहिए। इसके साथ ही आरोपित ने उस पर इस्लाम धर्म अपनाने का दबाव बनाया। इसके बाद लड़की को जबरन इस्लाम में परिवर्तित कर दिया गया और रिजवान उसे उत्तर प्रदेश में अपने परिवार के पास ले गया। यूपी जाकर पीड़िता ने एक बेटी को जन्म दिया। आरोप है कि इसके बाद रिजवान ने पीड़िता से यह कहते हुए मारपीट की कि उसे बेटा चाहिए। लड़की ने शिकायत में यह भी कहा कि यूपी में उसे बुर्का पहनने के लिए मजबूर किया गया और घर से निकलने पर भी रोक लगा दी गई।

इसी बीच लड़की दूसरी बार गर्भवती हो गई और उसे एक और बच्चा हुआ। पीड़ित ने बताया कि काफी बाद में उसे पता चला कि रिजवान अन्य हिंदू लड़कियों के भी संपर्क में था। जिसके बारे में पूछताछ करने पर रिजवान ने उसे बताया कि वह जितनी अधिक हिंदू लड़कियों को बहकाता है, उन्हें उतने ही अधिक पैसे दिए जाते हैं। उसने कहा, “मुझे अभी और पैसों की जरूरत है और हम जितनी ज्यादा हिंदू लड़कियाँ लाएँगे, इस्लाम का उतना ही ज्यादा प्रचार होगा। यह कौम की मजबूती का काम।”

आखिरकार जब प्रताड़ना असहनीय हो गई तो लड़की ने अपने परिजनों को इसकी जानकारी दी और सूरत आकर पांडेसरा पुलिस स्टेशन में शिकायत दर्ज कराई। इसके आधार पर सूरत पुलिस ने केस दर्ज कर लव जिहाद के आरोपित रिजवान गफ्फार शाह को गिरफ्तार कर लिया।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘एंजेल टैक्स’ खत्म होने का श्रेय लूट रहे P चिदंबरम, भूल गए कौन लेकर आया था: जानिए क्या है ये, कैसे 1.27 लाख StartUps...

P चिदंबरम ने इसके खत्म होने का श्रेय तो ले लिया, लेकिन वो इस दौरान ये बताना भूल गए कि आखिर ये 'एंजेल टैक्स' लेकर कौन आया था। चलिए 12 साल पीछे।

पत्रकार प्रदीप भंडारी बने BJP के राष्ट्रीय प्रवक्ता: ‘जन की बात’ के जरिए दिखा चुके हैं राजनीतिक समझ, रिपोर्टिंग से हिला दी थी उद्धव...

उन्होंने कर्नाटक स्थित 'मणिपाल इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी' (MIT) से इलेक्ट्रॉनिक एवं कम्युनिकेशंस में इंजीनियरिंग कर रखा है। स्कूल में पढ़ाया भी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -