Saturday, November 27, 2021
Homeदेश-समाजटिकरी बॉर्डर पर जिस लड़की का हुआ था 'शोषण' उसकी कोरोना से मौत, किसान...

टिकरी बॉर्डर पर जिस लड़की का हुआ था ‘शोषण’ उसकी कोरोना से मौत, किसान नेता खुद कर रहे ‘छानबीन’

किसान नेता मनदीप नाथवानी ने कहा है कि उन्हें इस घटना की जानकारी है और इसकी छानबीन हो रही है।

देशभर में कोरोना के कहर के बीच केंद्र सरकार के तीन कृषि कानूनों के विरोध में कथित किसान दिल्ली की सीमाओं पर प्रदर्शन कर रहे हैं। इस बीच हरियाणा पुलिस के सूत्रों के हवाले से सीएनएन-न्यूज 18 ने जानकारी दी है कि हाल ही में कोरोना के कारण जान गँवाने वाली एक लड़की के साथ टिकरी बॉर्डर पर किसानों के प्रदर्शन स्थल पर छेड़छाड़ हुई थी। इस मामले में लड़की ने शिकायत भी दर्ज कराई थी।

जानकारी के मुताबिक 26 अप्रैल, 2021 को प्रदर्शन के दौरान COVID-19 के लक्षणों का पता चलने के बाद लड़की को बहादुरगढ़ के सिविल अस्पताल में भर्ती कराया गया था। वहीं CNN-News18 को दिए एक इंटरव्यू में किसान नेता मनदीप नाथवानी ने यह स्पष्ट किया कि उन्हें इस घटना की जानकारी है और किसान नेता इसकी छानबीन कर रहे हैं। नाथवानी ने कहा कि उन्हें मिली जानकारी के मुताबिक, जिस लड़की के साथ यह वारदात हुई थी, कोरोना के कारण उसकी मौत हो गई है।

साक्षात्कार में नथवानी ने कहा, “हम लगातार संयुक्त मोर्चा के बड़े नेताओं के संपर्क में हैं और यह पता लगाने की कोशिश कर रहे हैं कि लड़की के साथ वास्तव में क्या हुआ।” उन्होंने कहा कि यह स्पष्ट नहीं है कि लड़की के साथ बलात्कार हुआ था या नहीं, इसकी जाँच की आवश्यकता है।

इस साक्षात्कार से इस बात की अटकलें तेज हो गई हैं कि मरने वाली अज्ञात लड़की पश्चिम बंगाल की 25 वर्षीय महिला हो सकती है, जिसकी हाल ही में कोरोना से मौत हो गई थी। इन अटकलों को इसलिए बल मिलता है कि जिस लड़की की मौत हुई है और 25 वर्षीय बंगाली महिला दोनों को बीते 26 अप्रैल को कोरोना के लक्षणों के चलते बहादुरगढ़ के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया था।

हालाँकि, दोनों ही मामलों में एक विरोधाभास दिखाई देता है जो ये है कि CNN-News18 की रिपोर्टिंग के मुताबिक जिस लड़की का शोषण हुआ था उसे बहादुरगढ़ के सिविल अस्पताल में भर्ती कराया गया था, जबकि बंगाल की महिला के बारे में रिपोर्ट बताती है कि उसे एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया था। इसलिए, यह केवल अटकलें मात्र प्रतीत होती हैं। CNN-News18 की रिपोर्ट के अनुसार, हरियाणा पुलिस मामले की छानबीन कर सबूतों को जुटाने की कोशिश कर रही है।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

48 घंटों तक होटल के बाहर खड़े रहे, अंदर आतंकियों ने बहन और जीजा को मार डाला: 26/11 हमले को याद कर रो पड़ता...

'धमाल' सीरीज में 'बोमन' का किरदार निभाने वाले बॉलीवुड अभिनेता आशीष चौधरी की बहन और जीजा भी 26/11 मुंबई आतंकी हमले में मारे गए थे।

29 नवंबर को किसान नहीं करेंगे ट्रैक्टर मार्च: 9 सदस्यों वाली कमिटी की बैठक, संयुक्त किसान मोर्चा का फैसला

किसानों ने 29 नवंबर को होने वाला ट्रैक्टर मार्च स्थगित कर दिया है। संयुक्त किसान मोर्चा (SKM) की बैठक में इस पर फैसला लिया गया।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
139,961FollowersFollow
412,000SubscribersSubscribe