Thursday, July 25, 2024
Homeदेश-समाजबर्थडे पार्टी में गए TMC नेता की हत्या; सिर और कान में मारी गई...

बर्थडे पार्टी में गए TMC नेता की हत्या; सिर और कान में मारी गई गोलियाँ… घटना के पीछे जमीनी विवाद की आशंका

पश्चिम बंगाल के 24 परगना जिले में सत्ताधारी तृणमूल कॉन्ग्रेस (TMC) के एक नेता की गोली मारकर हत्या कर दी गई है। हत्या की वजह जमीनी विवाद बताया जा रहा है। मृतक की पहचान 49 वर्षीय बिजन दास के रूप में हुई है। बिजन दास अपने दोस्त के घर जन्मदिन की पार्टी में शामिल होने गए थे। इसी दौरान हमलावरों ने उन्हें गोली मार दी।

पश्चिम बंगाल के 24 परगना जिले में सत्ताधारी तृणमूल कॉन्ग्रेस (TMC) के एक नेता की गोली मारकर हत्या कर दी गई है। हत्या की वजह जमीनी विवाद बताया जा रहा है। मृतक की पहचान 49 वर्षीय बिजन दास के रूप में हुई है। बिजन दास अपने दोस्त के घर जन्मदिन की पार्टी में शामिल होने गए थे। इसी दौरान हमलावरों ने उन्हें गोली मार दी। पुलिस आरोपित की तलाश में छापेमारी कर रही है।

रिपोर्ट्स के मुताबिक, घटना अशोक नगर थाना क्षेत्र की है। रविवार (25 फरवरी 2024) की रात लगभग 11 बजे बिजन दास अपने दोस्त के घर पार्टी में गए थे। इस पार्टी में बिजन की बहस गौतम दास नाम के एक जमीन कारोबारी से होने लगी। यही बहस बाद में नोक-झोंक में बदल गई। इसी दौरान पार्टी में ही शामिल एक अन्य व्यक्ति ने बिजन दास पर गोलियाँ बरसानी शुरू कर दीं।

बिजन दास को 2 गोलियाँ लगीं। पहली गोली उनके सिर में लगी और दूसरी गोली उनके कान के पास लगी। घायल बिजन दास को लोगों ने स्थानीय बारासात अस्पताल पहुँचाया। यहाँ पर डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। घटना के बाद हमलावर फरार हो गए। पुलिस ने मामला दर्ज कर के फरार आरोपित की तलाश शुरू कर दी है।

पुलिस का दावा है कि हमलावर की पहचान कर ली गई है और जल्द ही उसे गिरफ्तार कर लिया जाएगा। बारासात की सांसद काकोली घोष दस्तीदार ने बिजन दास की मौत पर दुःख प्रकट किया है। उन्होंने बताया कि मृतक बिजन दास छात्र राजनीति से ही तृणमूल कॉन्ग्रेस से जुड़े हुए थे। फ़िलहाल वह गुमा एक नंबर पंचायत के उपमुखिया थे।

कुछ रिपोर्ट्स में दावा किया गया है कि बिजन दास का पहले से गौतम दास से जमीनी विवाद चल रहा था। कहा जा रहा है कि जन्मदिन की पार्टी में किसी बात पर बिजन और गौतम में विवाद हुआ था। इसके बाद इस घटना को अंजाम दिया गया। पुलिस कुछ लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

वकील चलाता था वेश्यालय, पुलिस ने की कार्रवाई तो पहुँचा हाई कोर्ट: जज ने कहा- इसके कागज चेक करो, लगाया ₹10000 का जुर्माना

मद्रास हाई कोर्ट में एक वकील ने अपने वेश्यालय पर कार्रवाई के खिलाफ याचिका दायर की। कोर्ट ने याचिका खारिज करके ₹10,000 का जुर्माना लगा दिया।

माजिद फ्रीमैन पर आतंक का आरोप: ‘कश्मीर टाइप हिंदू कुत्तों का सफाया’ वाले पोस्ट और लेस्टर में भड़की हिंसा, इस्लामी आतंकी संगठन हमास का...

ब्रिटेन के लेस्टर में हिन्दुओं के विरुद्ध हिंसा भड़काने वाले माजिद फ्रीमैन पर सुरक्षा एजेंसियों ने आतंक को बढ़ावा देने का आरोप लगाया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -