Saturday, July 20, 2024
Homeदेश-समाज'मेरे कंधे पर हाथ फेरे...गंदी गालियाँ बकीं' : 2 कॉन्ग्रेसी विधायकों पर ट्रेन में...

‘मेरे कंधे पर हाथ फेरे…गंदी गालियाँ बकीं’ : 2 कॉन्ग्रेसी विधायकों पर ट्रेन में महिला को छेड़ने के आरोप, FIR होने पर बोले- इल्जाम गलत है, हमने उसकी शक्ल भी नहीं देखी

महिला द्वारा शिकायत देने के बाद एक कॉन्ग्रेस विधायक ने कहा कि महिला ऐसा बोलकर पाप कर रही है क्योंकि उन्होंने तो महिला के पास बच्चे को सोता देख वहाँ की लाइट तक नहीं जलाई। वहीं दूसरे ने कहा कि उन्होंने तो महिला का चेहरा तक नहीं देखा। बच्चा सो रहा था इसलिए खाना भी कम लाइट में खाया।

मध्यप्रदेश में कॉन्ग्रेस के दो नेताओं के ऊपर ट्रेन में एक महिला यात्री से बदसलूकी करने के आरोप लगे हैं। कॉन्ग्रेसी नेताओं के नाम सिद्धार्थ कुशवाहा (सतना विधायक) और सुनील सर्राफ (कोतमा) है। महिला का आरोप है कि ये दोनों नेता नशे में धुत उनकी बर्थ के पास आए और उनसे बदसलूकी की गई।

महिला की शिकायत

शिकायत में महिला ने बताया कि वह 6 अक्टूबर 2022 को रेवांचल एक्सप्रेस से रीवा स्टेशन से रानी कमलापति स्टेशन जा रही थी। उसकी रिजर्वेशन एसी कोच में थी जहाँ वह अपने 7 माह के बच्चे के साथ बैठी थीं। महिला के मुताबिक, रात के करीब 11.50 पर सामने वाली बर्थ पर दोनों विधायक आए और फिर साइड वाली बर्थ पर बैठकर खाना खाया। इसके बाद दोनों बात करते हुए गंदी-गंदी गालियाँ देने लगे।

दैनिक भास्कर की रिपोर्ट के अनुसार, महिला ने आगे शिकायत में कहा, “उन्होंने मेरे कंधे को टच करके मुझे उठाया। कहने लगे मैडम आपने खाना खाया है या नहीं। मैंने कुछ नहीं कहा। वे दोनों नशे की हालत में बुरी नीयत से देख रहे थे। मेरे कंधे पर हाथ फेरते हुए बकवास कर रहे थे। मैंने कहा कि मेरा बेटा सो रहा है, गाली-गलौज मत करिए। उन्होंने जब मेरी बात नहीं सुनी तो मैंने अपने पति को कॉल कर पूरी घटना बताई।”

इसके बाद महिला के पति ने घटना की शिकायत सागर पुलिस में और रेल मंत्री को ट्वीट करके दी। शिकायत पर संज्ञान लेते हुए सागर पुलिस ने देर रात महिला के पास जीआरपी को भेजा और उन्हें दूसरी सीट पर ट्रांसफर किया गया।

पीड़िता के अनुसार, जब वह जा रही थीं तब भी सुनील सर्राफ ने कहा, “आप क्यों जा रही हो, क्यों परेशान हो रही हो।” महिला ने उनकी शिकायत TTE और सागर पुलिस से की। उन्होंने अपील की कि उन लोगों को ट्रेन से नीचे उतारकर कार्रवाई की जाए। हालाँकि उस समय ऐसा नहीं हुआ।

कॉन्ग्रेस नेताओं ने दी सफाई

बता दें कि पूरे घटनाक्रम में शिकायत होने के बाद सतना विधायक सिद्धार्थ कुशवाहा ने कहा, “नशे में धुत रहने के जो आरोप मुझ पर लगाए गए हैं, वह गलत हैं, ऐसा कुछ भी नहीं है। मेरे जानने वाले बता देंगे कि मैं शराब नहीं पीता। उस दिन भी हम नशे में नहीं थे। हमने तो अपने कंपार्टमेंट की लाइट तक भी नहीं जलाई थी, क्योंकि बच्चा सो रहा था। हमने उन्हें अपनी सीट भी दी थी।”

वहीं सुनील सर्राफ ने बताया कि महिला खुद सिद्धार्थ कुशवाहा की बर्थ पर लेटी थी। ऐसी में उन्होंने बस ये पूछा कि उनकी बर्थ कौन सी है। इसके अलावा उन्होंने कुछ नहीं पूछा। वह कहते हैं कि उनका ट्रेन में सफर रोज होता है, उनकी उम्र 50 की हो गई है, विधायक होकर ये सब करेंगे क्या। उनके मुताबिक महिला का बच्चा सो रहा था इसलिए उन लोगों ने छोटी लाइट में खाना खाया।

विधायक सुनील सर्राफ के मुताबिक, “महिला अगर ऐसा कह रही है तो यह पाप है। हम लोगों ने तो उसका चेहरा भी नहीं देखा। ये सब साजिश लग रहा है वरना महिला ने शिकायत देते हुए हमारी उम्र,और हमारा विधानसभा क्षेत्र तक लिखवाया है। उसे कैसे पता चला कि हम लोगों की उम्र क्या है। कौन सा विधानसभा क्षेत्र है।”

भाजपा ने कॉन्ग्रेस के चरित्र पर सवाल उठाए

उल्लेखनीय है कि इस मामले में शिकायत के बाद सागर थाने में आईपीसी की धारा 354 के तहत छेड़खानी का मुकदमा दर्ज हुआ है। आगे कार्रवाई चल रही है। इस बीच भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष ने कॉन्ग्रेस पर निशाना साधा है। उन्होंने कहा है कि कॉन्ग्रेस विधायकों ने ट्रेन में एक बहन के साथ छेड़छाड़ की है। प्रियंका गाँधी इस पर जवाब दें कि वो अब क्यों उस बेटी के लिए आगे नहीं आ रहीं। उन्होंने कहा कि पार्टी का असली चेहरा ही यही है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

टीम से बाहर होने पर मोहम्मद शमी का वायरल वीडियो, कहा – किसी के बाप से कुछ नहीं लेता हूँ, बल्कि देता हूँ

"मुझे मौका दोगे तभी तो मैं अपनी स्किल दिखाऊँगा, जब आप हाथ में गेंद दोगे। मैं सवाल नहीं पूछता। जिसे मेरी ज़रूरत है, वो मुझे मौका देगा।"

थूक लगी रोटी सोनू सूद को कबूल है, कबूल है, कबूल है! खुद की तुलना भगवान राम से, खाने में थूकने वाले उनके लिए...

“हमारे श्री राम जी ने शबरी के जूठे बेर खाए थे तो मैं क्यों नहीं खा सकता। बस मानवता बरकरार रहनी चाहिए। जय श्री राम।” - सोनू सूद

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -