Tuesday, July 16, 2024
Homeदेश-समाजकोठियाँ, लग्जरी गाड़ियाँ और अकूत संपत्ति: बसपा के पूर्व मंत्री हाजी याकूब की ₹9...

कोठियाँ, लग्जरी गाड़ियाँ और अकूत संपत्ति: बसपा के पूर्व मंत्री हाजी याकूब की ₹9 करोड़ की संपत्ति जब्त, अलीगढ़ में जहीर के ठिकानों पर 150 अधिकारियों का छापा

हाजी जहीर का मीट के अलावा रीयल एस्टेट का भी कारोबार बताया जा रहा है। कहा जा रहा है कि जहीर के अलावा उसकी बीवी और बेटों के नाम पर भी कंपनियाँ हैं, जो मनी लॉन्ड्रिंग के काम में लगी हुई हैं। हाल ही में जहीर की फैक्ट्री में गैस रिसाव के चलते 50 से ज्यादा मजदूर बेहोश हो गए थे।

उत्तर प्रदेश में मीट कारोबारियों पर यूपी सरकार का ऐक्शन जारी है। बसपा नेता और मीट माफिया हाजी याकूब कुरैशी की 9 करोड़ रुपए की संपत्ति को कुर्क किया गया है। इसके साथ ही 31 करोड़ की अन्य अवैध संपत्ति को भी चिह्नित किया गया है। वहीं, अलीगढ़ के मीट कारोबारी हाजी जहीर के घर आयकर विभाग का छापा तीसरे दिन भी जारी है, जहाँ से करोड़ों रुपए की संपत्ति मिलने की बात कही जा रही है।

पहले बात करते हैं हाजी याकूब की। हाजी याकूब बसपा के नेता और पूर्व मंत्री रह चुके हैं। इसके साथ ही वह मीट कारोबारी हैं। मेरठ पुलिस ने गुरुवार (23 मार्च 2023) छातरपुर में याकूब के खेतों पर कुर्की की। ये दोनों याकूब की बीवी संजीदा बेगम के नाम पर है। इन खेतों की कीमत 9 करोड़ रुपए बताई जा रही है।

जेल में बंद याकूब की 31 करोड़ 77 लाख रुपए की अन्य अवैध संपत्तियाँ भी चिह्नित की गई हैं। इन पर भी जल्द ही कार्रवाई की जाएगी। सीओ किठौर रुपाली रॉय के अनुसार, याकूब की संपत्तियों का जो ब्योरा जुटाया गया है, उनमें 26 संपत्तियाँ जमीन और इमारत के रूप में हैं। 32 वाहन हैं। इसमें 24 से ज्यादा चार पहिया लग्जरी गाड़ियाँ हैं। बाकी दो पहिया वाहन हैं।

जो 26 संपत्तियाँ जमीन और इमारत के रूप में चिह्नित की गई हैं, उनमें 7 आलीशान कोठियाँ शामिल हैं। ये कोठियाँ मेरठ में अलग-अलग जगह पर हैं।पुलिस ने याकूब का हापुड़ रोड का स्कूल, अस्पताल, मीट फैक्टरी, प्लॉट, सराय बहलीम स्थित दो मकान समेत अन्य जगहों पर अवैध संपत्ति को चिह्नित किया है।

याकूब कुरैशी की 10 गाँवों में जमीन मिली है। इन जगहों पर कुछ जगह निर्माण भी किया गया है। सराय बहलीम कोतवाली में 2 कोठियाँ संजीदा बेगम के नाम पर हैं। जाहिदपुर में एक कोठी और 6 जगह भवन मिले हैं।

याकूब और उनके बेटे इमरान एवं फिरोज के नाम पर मर्सिडीज, जैगुवार, रेंजर रोवर जैसी लग्जरी एवं महंगी गाड़ियों के साथ स्पोर्ट्स बाइकें मिली हैं। अलफहीम मीटेक्स कंपनी के नाम 23 गाड़ियाँ हैं, जिनमें इनोवा, पजेरो, बलेरो और 5 स्कॉर्पियो शामिल हैं।

हाजी याकूब कुरैशी 7 जनवरी 2023 से सोनभद्र जेल में बंद हैं। उनके बेटे इमरान और फिरोज इस वक्त जमानत हैं। याकूब कुरैशी और उनके बेटों पर अवैध ढंग से अकूत कमाई करने और संपत्ति इकट्ठा करने का आरोप है। हाजी याकूब 1989 तक ठेले पर नींबू बेचते थे। फिर गुड़ के धंधे में हाथा लगाया। प्रॉपर्टी का काम किया। बाद में बसपा में शामिल होकर मायावती सरकार में मंत्री बन गए।

हाजी मोहम्मद जहीर

उधर अलीगढ़ के रहने वाले मीट कारोबारी हाजी मोहम्मद जहीर के खिलाफ पिछले तीन दिनों से आयकर विभाग की रेड जारी है। तीसरे दिन गुरुवार (23 मार्च 2023) को जहीर के गुरुग्राम स्थित मीट फैक्ट्रियों, कोठी और संबंधियों के ठिकानों पर यह छापेमारी की कार्रवाई की गई। इसमें 150 अधिकारियों की 5 टीमें लगी हुई हैं।

इसके पहले जहीर के दिल्ली, उत्तर प्रदेश और हरियाणा के ठि‍कानों पर छापेमारी हुई। इस छापेमारी में जहीर की कंपनी का दुबई कनेक्शन सामने आया है। इसके साथ ही अवैध तौर पर और आय से अधिक संपत्ति जमा करने का मामला सामने आया है। अलीगढ़ में जहीर की पाँच मीट फैक्ट्रियाँ हैं।

यह भी कहा जा रहा है कि जहीर ने अवैध तौर पर करोड़ों रुपए मनी लॉड्र‍िंग करके दुबई में काफी प्रॉपर्टी खरीदी है। यह नकदी के बजाय मीट देकर खरीदी गई हैं। अल हमद नाम की मीट निर्यातक कम्पनी जहीर की है और इसके कई निेदेशकों का दुबई से कनेक्शन सामने आया है।

कहा जा रहा है कि छापेमारी में पुलिस को भारी मात्रा में नकदी और आभूषण मिले हैं। इनकी चर्चा हर तरफ हो रही है। बुधवार (22 मार्च 2023) को हाजी जहीर के घर पर मिले नोट को गिनने के लिए आयकर विभाग को 10 मशीनें मँगवानी पड़ी थीं। यहाँ तक दस्तावेज भी बरामद किए गए हैं।

हाजी जहीर का मीट के अलावा रीयल एस्टेट का भी कारोबार बताया जा रहा है। कहा जा रहा है कि जहीर के अलावा उसकी बीवी और बेटों के नाम पर भी कंपनियाँ हैं, जो मनी लॉन्ड्रिंग के काम में लगी हुई हैं। हाल ही में जहीर की फैक्ट्री में गैस रिसाव के चलते 50 से ज्यादा मजदूर बेहोश हो गए थे।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

जिस भोजशाला को मुस्लिम कहते हैं कमाल मौलाना मस्जिद, वह मंदिर ही है: ASI ने हाई कोर्ट को बताया- मंदिरों के हिस्से पर बने...

मध्य प्रदेश हाई कोर्ट को सौंपी गई रिपोर्ट में ASI ने कहा है कि भोजशाला का वर्तमान परिसर यहाँ पहले मौजूद मंदिर के अवशेषों से बनाया गया था।

भारतवंशी पत्नी, हिंदू पंडित ने करवाई शादी: कौन हैं JD वेंस जिन्हें डोनाल्ड ट्रम्प ने चुना अपना उपराष्ट्रपति उम्मीदवार, हमले के बाद पूर्व अमेरिकी...

पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प को रिपब्लिकन पार्टी के नेशनल कंवेंशन में राष्ट्रपति और सीनेटर JD वेंस को उपराष्ट्रपति उम्मीदवार चुना है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -