Friday, July 12, 2024
Homeदेश-समाजमुस्लिम दोस्त के साथ चेन्नई गया दलित रंजीत, मुस्लिम बनकर लौटा: अब घर वालों...

मुस्लिम दोस्त के साथ चेन्नई गया दलित रंजीत, मुस्लिम बनकर लौटा: अब घर वालों पर डाल रहा इस्लाम कबूलने का दबाव, राकिब रजा के नाम से बनवाया आधार

रिपोर्ट में बताया गया है कि रंजीत के पास से 2 आधार कार्ड मिले हैं। पहला आधार रंजीत के ही नाम पर है। दूसरे आधार पर नाम राकिब रजा और पिता के तौर पर सलमान के अब्बा का नाम लिखा हुआ है।

उत्तर प्रदेश के चित्रकूट जिले का एक दलित युवक कमाने के लिए मुस्लिम दोस्त के साथ चेन्नई गया। जब घर लौटा तो वह खुद मुस्लिम बन चुका था। कथित तौर पर अब वह अपने परिजनों पर इस्लाम कबूलने का दबाव डाल रहा है। पीड़ित परिवार की शिकायत के बाद युवक के दोस्त सलमान को गिरफ्तार किया गया है।

इस मामले में 15 सितंबर 2023 को एफआईआर दर्ज कराई गई थी। इसकी कॉपी ऑपइंडिया के पास मौजूद है। इसमें पीड़ित परिवार ने बताया है कि रंजीत को बहला-फुसला और पैसों का लालच देकर सलमान खान ने ने राशिद खान बना दिया। इसके बाद से रंजीत और सलमान उनके पूरे परिवार धर्मांतरण का दबाव डाल रहे हैं।

यह मामला चित्रकूट जिले के कर्वी थाना क्षेत्र के सीतापुर कस्बे का है। यहाँ रहने वाली केरनिया नाम की वृद्धा महिला ने पुलिस में शिकायत दर्ज करवाई है। शिकायत में पीड़िता ने अपने नाती रंजीत के धर्मान्तरण का आरोप अली वकस के बेटे सलमान पर लगाया है। सलमान भी चित्रकूट के खोही क्षेत्र में रहता है। केरनिया ने आरोप लगाया है कि अब सलमान और रंजीत मिल कर पूरे परिवार पर इस्लाम कबूलने का दबाव बना रहे हैं।

पीड़िता ने यह भी आरोप लगाया है कि धर्म परिवर्तन न करने पर रंजीत और सलमान पूरे परिवार को जान से मार डालने की धमकी दे रहे है। शिकायत में आरोपितों पर कठोर कार्रवाई की माँग की गई है। पुलिस ने इस मामले में सलमान के खिलाफ उत्तर प्रदेश विधि विरुद्ध धर्म संपरिवर्तन प्रतिषेध अधिनियम की धारा 3/5(1) के तहत केस दर्ज कर लिया है। मामले की जाँच शुरू कर दी गई है।

न्यूज़ 18 के मुताबिक 22 वर्षीय दलित युवक रंजीत अपने मित्र सलमान के साथ कुछ साल पहले कमाने के लिए चेन्नई गया था। वहाँ से वह फोन पर परिजनों से इस्लाम कबूलने को कहने लगा। इसके बाद उसे घर बुला लिया गया। लेकिन घर लौटने के बाद भी उसे समझाने की सारी कोशिश नाकाम रही। एक बार तो उसने जहर खा कर जान देने की कोशिश भी की।

रिपोर्ट में बताया गया है कि रंजीत के पास से 2 आधार कार्ड मिले हैं। पहला आधार रंजीत के ही नाम पर है। दूसरे आधार पर नाम राकिब रजा और पिता के तौर पर सलमान के अब्बा का नाम लिखा हुआ है। रंजीत का यह भी कहना है कि सलमान बेगुनाह है। उसने अपनी मर्जी से इस्लाम कबूला है। मजार जाने के दौरान इस्लाम से प्रभावित होने की बात उसने कही है।

सलमान के अनुसार रंजीत की तबियत अक्सर खराब रहती थी। इसके चलते वह मजार जाने लगा। वहाँ उसे फायदा हुआ और वो इस्लाम की तरफ झुक गया। हालाँकि रंजीत के परिजनों ने सलमान को ही धर्मान्तरण का कर्ता-धर्ता बताया है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

उधर कॉन्ग्रेसी बक रहे गाली पर गाली, इधर राहुल गाँधी कह रहे – स्मृति ईरानी अभद्र पोस्ट मत करो: नेटीजन्स बोले – 98 चूहे...

सवाल हो रहा है कि अगर वाकई राहुल गाँधी को नैतिकता का इतना ज्ञान है तो फिर उन्होंने अपने समर्थकों के खिलाफ कभी कार्रवाई क्यों नहीं की।

अब से हर साल 25 जून होगा ‘संविधान हत्या दिवस’: मोदी सरकार ने जारी की अधिसूचना, अमित शाह बोले – तानाशाही मानसिकता से घोंटा...

अमित शाह ने याद किया कि कैसे इंदिरा गाँधी ने बेशर्मी से तानाशाही मानसिकता का परिचय देते हुए हमारे लोकतंत्र की आत्मा का गला घोंट दिया था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -