Friday, July 19, 2024
Homeदेश-समाजगाय ने चबाया विस्फोटक, धमाके में पूरा जबड़ा उड़ा: कानपुर में हुए ब्लास्ट की...

गाय ने चबाया विस्फोटक, धमाके में पूरा जबड़ा उड़ा: कानपुर में हुए ब्लास्ट की होगी फॉरेंसिक जाँच, माहौल बिगाड़ने वालों पर UP पुलिस का शक

पुलिस कमिश्नर बीपी जोगदंड का कहना है कि प्राथमिक जाँच में सामने आया है कि कूड़े के ढेर पर बम पड़ा रहा होगा। जिसे गाय ने धोखे से उसे चबा लिया और उसके मुँह में ही तेज धमाका हुआ जिससे उसका जबड़ा उड़ गया। हालाँकि, यह भी जाँच की जा रही है कि यह माहौल बिगाड़ने के लिए किसी की शरारत तो नहीं है।

उत्तर प्रदेश के कानपुर में गुरुवार (27 अक्टूबर 2022) को एक गाय के मुँह में बम फट गया जिससे उसका जबड़ा बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गया। गाय को घायल अवस्था में पशु चिकित्सालय में भर्ती कराया गया। इस मामले में, पुलिस अज्ञात लोगों के खिलाफ पशु क्रूरता अधिनियम के तहत मामला दर्ज कर जाँच कर रही है। पुलिस को शक है कि माहौल बिगाड़ने की कोशिश के चलते यह हरकत की गई होगी। इसलिए, इलाके के सीसीटीवी फुटेज खँगाले जा रहे हैं।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, कानपुर के काकादेव थाना अंतर्गत नवीन नगर में तेज धमाके के बाद एक गाय के चिल्लाने की आवाज सुनकर स्थनीय लोग इकट्ठे हो गए। जहाँ, लोगों ने देखा कि कूड़े के ढेर के पास खड़ी गाय का जबड़ा बुरी तरह से क्षतिग्रस्त हो चुका है। यह ऐसा लग रहा था जैसे किसी ने बम से उड़ा दिया हो। घटना का वीडियो वायरल होने के बाद पुलिस ने सक्रियता दिखाते हुए मामला दर्ज कर जाँच शुरू कर दी है। पुलिस का कहना है कि आरोपितों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

साथ ही, घटना की जानकारी मिलते ही नगर निगम के मुख्य पशु चिकित्साधिकारी डॉ. आरके निरंजन ने इसकी जानकारी एसपीसीए इंचार्ज को दी। जिसके बाद, पशु चिकित्सालय से एक एंबुलेंस भेजी गई और गाय को रायपुरवा स्थित सोसायटी फार प्रीवेंशन ऑफ क्रुएलिटी अगेंस्ट एनिमल अस्पताल ले जाया गया। जहाँ, उसका इलाज किया जा रहा है। डॉक्टर्स का कहना है कि मुँह के अंदर हुए तेज विस्फोट से गाय के जबड़े का अधिकांश हिस्सा उड़ चुका है।

इस मामले में पुलिस कमिश्नर बीपी जोगदंड का कहना है कि काकादेव पुलिस की प्राथमिक जाँच में सामने आया है कि कूड़े के ढेर पर बम पड़ा रहा होगा। जिसे गाय ने धोखे से उसे चबा लिया और उसके मुँह में ही तेज धमाका हुआ जिससे उसका जबड़ा उड़ गया। हालाँकि, अब भी यह जाँच की जा रही है कि यह माहौल बिगाड़ने के लिए किसी की शरारत तो नहीं है। इसके लिए एक टीम सीसीटीवी फुटेज से लेकर एक-एक पहलू की जाँच कर रही है। जाँच के आधार पतो ही मामले की कार्रवाई की जाएगी।

उन्होंने यह भी कहा है कि कूड़े के ढेर की फॉरेंसिक जाँच भी कराई जा रही है। इस जाँच से यह बात क्लियर हो जाएगी कि यह हादसा पटाखे के विस्फोट से हुआ है या फिर किसी तरह की साजिश है। अब तक हुई जाँच में कूड़े के ढेर पर कई सारे पटाखों के जले हुए टुकड़े मिले हैं। इससे यह अनुमान लगाया जा रहा है कि कोई बम जिंदा रहा होगा जिसे गाय ने चबा लिया जिससे विस्फोट हुआ और यह हादसा हो गया।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

पुरी के जगन्नाथ मंदिर का 46 साल बाद खुला रत्न भंडार: 7 अलमारी-संदूकों में भरे मिले सोने-चाँदी, जानिए कहाँ से आए इतने रत्न एवं...

ओडिशा के पुरी स्थित महाप्रभु जगन्नाथ मंदिर के भीतरी रत्न भंडार में रखा खजाना गुरुवार (18 जुलाई) को महाराजा गजपति की निगरानी में निकाल गया।

1 साल में बढ़े 80 हजार वोटर, जिनमें 70 हजार का मजहब ‘इस्लाम’, क्या याद है आपको मंगलदोई? डेमोग्राफी चेंज के खिलाफ असम के...

असम के मुख्यमंत्री हिमंता बिस्वा सरमा ने तथ्यों को आधार बनाते हुए चिंता जाहिर की है कि राज्य 2044 नहीं तो 2051 तक मुस्लिम बहुल हो जाएगा।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -