Tuesday, October 27, 2020
Home विचार राजनैतिक मुद्दे 86 साल बाद निर्मली और भपटियाही का 'मिलन', पर आत्मनिर्भर बिहार कब बनेगा

86 साल बाद निर्मली और भपटियाही का ‘मिलन’, पर आत्मनिर्भर बिहार कब बनेगा

इस काम में भाजपा सरकार के केंद्र में दुबारा आने पर फिर से तेजी आई और आख़िरकार ये पुल बनकर तैयार हो गया। इस पुल को पूरा करने में उन प्रवासी मजदूरों का भी प्रबल योगदान रहा जो कोविड-19 नाम के चीन से शुरू हुए वायरस के कारण घर लौट आने को मजबूर हो गए थे।

निर्मली और भपटियाही मेरे लिए नए नाम नहीं थे। इन इलाकों का नाम करीब-करीब हमेशा से सुन रखा था। जब सुनाई दिया कि यहाँ कोसी रेल मेगा ब्रिज बनने से कोई 86 साल पुराना सपना पूरा हो रहा है तो हमने सोचा कौन सा सपना? भारत नेपाल के पास 516 करोड़ की लगत से बने इस 1.9 किलोमीटर लम्बे पुल से सीमाओं को जोड़ने का महत्व तो हमें समझ में आता था, लेकिन आखिर ये इतना पुराना सपना कैसे होगा? ठीक है एक अलग मिथिलांचल राज्य की माँग का मुद्दा करीब सौ वर्ष पुराना है, लेकिन रेल?

थोड़ी पूछताछ करते ही बुजुर्गों ने पुराने किस्से सुनाने शुरू किए। करीब सवा सौ वर्ष पहले 1887 में ही इस इलाके में रेल आ गई थी। जैसे पटना जंक्शन 1861 का होता है वैसे ही निर्मली और भपटियाही के बीच मीटर गेज की रेल 1887 में बनी थी। फिर सन 1934 में एक भयावह भूकंप और फिर बाढ़ आई। ये भूकंप ऐसा था कि आज भी बुजुर्ग अपने जन्म की तारीख भूकंप के इतने वर्ष बाद के जरिए बताते हैं। इस भूकंप और फिर बाढ़ से ये रेल संपर्क टूटकर बह गया। तबसे लेकर आज तक इस इलाके को दोबारा रेल संपर्क देने की किसी ने नहीं सोची। 2003-04 में केन्द्रीय सरकार ने इसे मँजूरी दे दी।

फिर सरकार बदली और काम धीमा पड़ गया। हर बार की तरह मिथिलांचल वासियों ने मान लिया कि उनके साथ छल हुआ है। कुछ लोगों के पास मगध का मुख्यमंत्री, मिथिलांचल को नहीं देखता का रटा-रटाया जवाब भी था। खैर, इस काम में भाजपा सरकार के केंद्र में दुबारा आने पर फिर से तेजी आई और आख़िरकार ये पुल बनकर तैयार हो गया। इस पुल को पूरा करने में उन प्रवासी मजदूरों का भी प्रबल योगदान रहा जो कोविड-19 नाम के चीन से शुरू हुए वायरस के कारण घर लौट आने को मजबूर हो गए थे। यद्यपि राज्य सरकार विस्थापन पर विशेष ध्यान नहीं देती, मगर केंद्र सरकार के वक्तव्य में उनका भी जिक्र है।

इसके साथ ही प्रधानमंत्री मोदी ने मुजफ्फरपुर-सीतामढ़ी, कटिहार-न्यू जलपाईगुड़ी, समस्तीपुर-दरभंगा-जयनगर, समस्तीपुर-खगड़िया और भागलपुर-शिवनारायणपुर के रेल मार्ग के इलेक्ट्रिफिकेशन को भी हरी झंडी दिखा दी। इसके अलावा भी दो नए रेल प्रोजेक्ट का उद्घाटन हुआ है और बाढ़-बख्तियारपुर के बीच तीसरी रेल लाइन को भी शुरू किया गया है। जब रेल मंत्री बिहार का ना हो, तब इतना कुछ बिहार को मिले, ऐसी कल्पना नहीं की जा रही होती। जहाँ तक नए रेल पुल का सवाल है, ये सुपौल, अररिया और सहरसा के लोगों को कोलकाता, दिल्ली और मुंबई जैसी जगहों तक पहुँचने के लिए ढेरों सुविधाएँ देता है।

रेलवे से जुड़े होने पर जहाँ एक तरफ कई जगहों तक लोगों का पहुँचना आसान होता है, वहीं दूसरे कई बदलाव भी आते हैं। सबसे पहला बदलाव तो ये आता है कि रेलवे से महानगरों के जुड़े होने पर बिहार से माल बड़े शहरों तक पहुँचना आसान हो जाएगा। कृषि पर निर्भरता वाले राज्य बिहार के लिए ये फलों-सब्जियों के लिए कई नए बाजार खोल देगा। फोर-लेन सड़क के पास होने के कारण भपटियाही में विकास पहले ही रफ़्तार पकड़ चुका था। अब रेल से जुड़ने के बाद कृषि उत्पादों के लिए ये एक नई मंडी के तरह भी जगह बना सकता है। पुराने दौर में जहाँ राजधानी पटना से करीब तीन सौ किलोमीटर दूर होने के कारण ये अनजान सी जगह थी, अब सहरसा-सुपौल जैसे इलाके भी विकास के कदम से कदम मिलकर आगे बढ़ेंगे।

बाकी सवाल ये है कि दिल्ली, कोलकाता या मुंबई जाना ही क्यों पड़ता है? आखिर आत्मनिर्भर बिहार कब बनेगा जहाँ के लोग रोजगार के लिए पलायन करने के बदले रोजगार देने वाले बनें? बिहार में बदलावों की जैसी शुरुआत हो रही है, लगता नहीं कि ये सवाल ज्यादा दिन बाकी रहेगा।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

Anand Kumarhttp://www.baklol.co
Tread cautiously, here sentiments may get hurt!

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

जौनपुर की जामा मस्जिद में मिस्र शैली की नक्काशी है या अटाला देवी मंदिर के विध्वंस की छाप?

सुल्तान ने निर्देश दिए थे कि अटाला देवी मंदिर को तोड़कर उसकी जगह मस्जिद की नींव रखी जाए। 1408 ई में मस्जिद का काम पूरा हुआ। आज भी खंबों पर मूर्ति में हुई नक्काशी को ध्वस्त करने के निशान मिलते हैं।

‘मुस्लिम बन जा, निकाह कर लूँगा’: तौफीक बना रहा था निकिता पर धर्मांतरण का दबाव- मृतका के परिवार का दावा

तौफीक लड़की से कहता था, 'मुस्लिम बन जा हम निकाह कर लेंगे' मगर जब लड़की ने उसकी बात नहीं सुनी तो उसकी गोली मार कर हत्या कर दी।

बाबा का ढाबा स्कैम: वीडियो वायरल करने वाले यूट्यूबर पर डोनेशन के रूपए गबन करने के आरोप

ऑनलाइन स्कैमिंग पर बनाई गई वीडियो में लक्ष्य चौधरी ने समझाया कि कैसे लोग इसी तरह की इमोशनल वीडियो बना कर पैसे ऐंठते हैं।

अपहरण के प्रयास में तौफीक ने निकिता तोमर को गोलियों से भूना, 1 माह पहले ही की थी उत्पीड़न की शिकायत

तौफीक ने छात्रा पर कई बार दोस्ती और धर्मांतरण के लिए दबाव भी बनाया था। इससे इनकार करने पर तौफीक ने 2018 में एक बार निकिता का अपहरण भी कर लिया था।

केरल: 2 दलित नाबालिग बेटियों की यौन शोषण के बाद हत्या, आरोपित CPI(M) कार्यकर्ता बरी, माँ सत्याग्रह पर: पुलिस की भूमिका संदिग्ध

महिला का आरोप है कि इस केस को कमजोर करने वाले अधिकारियों का प्रमोशन हुआ। पुलिस ने सौतेले पिता को जिम्मेदारी लेने को भी कहा।

दाढ़ी कटाना इस्लाम विरोधी.. नौकरी छोड़ देते, शरीयत में ये गुनाह है: SI इंतसार अली को देवबंदी उलेमा ने दिया ज्ञान

दारुल उलूम देवबंद के उलेमा का कहना है कि दरोगा को दाढ़ी नहीं कटवानी चाहिए थी चाहे तो वह नौकरी छोड़ देते। शरीयत के हिसाब से उन्होंने बहुत बड़ा जुर्म किया है।

प्रचलित ख़बरें

IAS अधिकारी ने जबरन हवन करवाकर पंडितों को पढ़ाया ‘समानता का पाठ’, लोगों ने पूछा- मस्जिद में मौलवियों को भी ज्ञान देंगी?

क्या पंडितों को 'समानता का पाठ' पढ़ाने वाले IAS अधिकारी मौलवियों को ये पाठ पढ़ाएँगे? चर्चों में जाकर पादिरयों द्वारा यौन शोषण की आई कई खबरों का जिक्र करते हुए ज्ञान देंगे?

अपहरण के प्रयास में तौफीक ने निकिता तोमर को गोलियों से भूना, 1 माह पहले ही की थी उत्पीड़न की शिकायत

तौफीक ने छात्रा पर कई बार दोस्ती और धर्मांतरण के लिए दबाव भी बनाया था। इससे इनकार करने पर तौफीक ने 2018 में एक बार निकिता का अपहरण भी कर लिया था।

मदद की अपील अक्टूबर में, नाम लिख लिया था सितम्बर में: लोगों ने पूछा- सोनू सूद अंतर्यामी हैं क्या?

"मदद की गुहार लगाए जाने से 1 महीने पहले ही सोनू सूद ने मरीज के नाम की एक्सेल शीट तैयार कर ली थी, क्या वो अंतर्यामी हैं?" - जानिए क्या है माजरा।

जब रावण ने पत्थर पर लिटा कर अपनी बहू का ही बलात्कार किया… वो श्राप जो हमेशा उसके साथ रहा

जानिए वाल्मीकि रामायण की उस कहानी के बारे में, जो 'रावण ने सीता को छुआ तक नहीं' वाले नैरेटिव को ध्वस्त करती है। रावण विद्वान था, संगीत का ज्ञानी था और शिवभक्त था। लेकिन, उसने स्त्रियों को कभी सम्मान नहीं दिया और उन्हें उपभोग की वस्तु समझा।

नवरात्र में ‘हिंदू देवी’ की गोद में शराब और हाथ में गाँजा, फोटोग्राफर डिया जॉन ने कहा – ‘महिला आजादी दिखाना था मकसद’

“महिलाओं को देवी माना जाता है लेकिन उनके साथ किस तरह का व्यवहार किया जाता है? उनके व्यक्तित्व को निर्वस्त्र किया जाता है।"

एक ही रात में 3 अलग-अलग जगह लड़कियों के साथ छेड़छाड़ करने वाला लालू का 2 बेटा: अब मिलेगी बिहार की गद्दी?

आज से लगभग 13 साल पहले ऐसा समय भी आया था, जब राजद सुप्रीमो लालू यादव के दोनों बेटों तेज प्रताप और तेजस्वी यादव पर छेड़खानी के आरोप लगे थे।
- विज्ञापन -

जम्मू-कश्मीर, लद्दाख में अब कोई भी खरीद सकेगा जमीन, नहीं छिनेगा बेटियों का हक़: मोदी सरकार का बड़ा फैसला

जम्मू-कश्मीर में अब देश का कोई भी व्यक्ति जमीन खरीद सकता है और वहाँ पर बस सकता है। गृह मंत्रालय द्वारा मंगलवार को इसके तहत नया नोटिफिकेशन जारी किया गया है।

जौनपुर की जामा मस्जिद में मिस्र शैली की नक्काशी है या अटाला देवी मंदिर के विध्वंस की छाप?

सुल्तान ने निर्देश दिए थे कि अटाला देवी मंदिर को तोड़कर उसकी जगह मस्जिद की नींव रखी जाए। 1408 ई में मस्जिद का काम पूरा हुआ। आज भी खंबों पर मूर्ति में हुई नक्काशी को ध्वस्त करने के निशान मिलते हैं।

₹1.70 लाख करोड़ की गरीब कल्याण योजना से आत्मनिर्भर बन रहे रेहड़ी-पटरी वाले: PM मोदी ने यूपी के ठेले वालों से किया संवाद

पीएम 'स्वनिधि योजना' में ऋण आसानी से उपलब्ध है और समय से अदायगी करने पर ब्याज में 7% की छूट भी मिलेगी। अगर आप डिजिटल लेने-देन करेंगे तो एक महीने में 100 रुपए तक कैशबैक के तौर पर वापस पैसे आपके खाते में जमा होंगे।

‘मुस्लिम बन जा, निकाह कर लूँगा’: तौफीक बना रहा था निकिता पर धर्मांतरण का दबाव- मृतका के परिवार का दावा

तौफीक लड़की से कहता था, 'मुस्लिम बन जा हम निकाह कर लेंगे' मगर जब लड़की ने उसकी बात नहीं सुनी तो उसकी गोली मार कर हत्या कर दी।

मुंगेर में दुर्गा पूजा विसर्जन: पुलिस-पब्लिक भिडंत में युवक की मौत, SP लिपि सिंह ने कहा- ‘बदमाशों’ ने चलाई गोलियाँ

मुंगेर एसपी और JDU सांसद RCP सिंह की बेटी लिपि सिंह ने दावा किया है कि प्रतिमा विसर्जन के दौरान असामाजिक तत्वों ने पुलिस पर पथराव किया और गोलीबारी की

गाँव में 1 मुस्लिम के लिए भी बड़ा कब्रिस्तान, हिन्दू हैं मेड़ किनारे अंतिम संस्कार करने को विवश: साक्षी महाराज

साक्षी महाराज ने याद दिलाया कि शमसान और कब्रिस्तान के इस मुद्दे को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी उठाया था।

पेशावर: मदरसे में कुरान पढ़ाते वक़्त बम धमाका- 7 की मौत 72 घायल, अधिकतर बच्चे

जहाँ बम धमाका हुआ, स्पीन जमात मस्जिद है, जो मदरसे के रूप में भी काम करता है। मस्जिद में जहाँ नमाज पढ़ी जाती थी, उस जगह को खासा नुकसान पहुँचा है।

बाबा का ढाबा स्कैम: वीडियो वायरल करने वाले यूट्यूबर पर डोनेशन के रूपए गबन करने के आरोप

ऑनलाइन स्कैमिंग पर बनाई गई वीडियो में लक्ष्य चौधरी ने समझाया कि कैसे लोग इसी तरह की इमोशनल वीडियो बना कर पैसे ऐंठते हैं।

अपहरण के प्रयास में तौफीक ने निकिता तोमर को गोलियों से भूना, 1 माह पहले ही की थी उत्पीड़न की शिकायत

तौफीक ने छात्रा पर कई बार दोस्ती और धर्मांतरण के लिए दबाव भी बनाया था। इससे इनकार करने पर तौफीक ने 2018 में एक बार निकिता का अपहरण भी कर लिया था।

केरल: 2 दलित नाबालिग बेटियों की यौन शोषण के बाद हत्या, आरोपित CPI(M) कार्यकर्ता बरी, माँ सत्याग्रह पर: पुलिस की भूमिका संदिग्ध

महिला का आरोप है कि इस केस को कमजोर करने वाले अधिकारियों का प्रमोशन हुआ। पुलिस ने सौतेले पिता को जिम्मेदारी लेने को भी कहा।

हमसे जुड़ें

272,571FansLike
79,331FollowersFollow
338,000SubscribersSubscribe