Monday, June 17, 2024
Homeराजनीतिराहुल गाँधी से मिल हरीश रावत बोले- उत्तराखंड में मैं कॉन्ग्रेस का चेहरा, देहरादून...

राहुल गाँधी से मिल हरीश रावत बोले- उत्तराखंड में मैं कॉन्ग्रेस का चेहरा, देहरादून में उनके समर्थकों ने पार्टी नेता को पीटा

"जिनके आदेश पर तैरना है, उनके नुमाइंदे मेरे हाथ-पाँव बाँध रहे हैं। मन में बहुत बार विचार आ रहा है कि हरीश रावत अब बहुत हो गया, बहुत तैर लिए, अब विश्राम का समय है!”

उत्तराखंड (Uttarakhand) में अगले साल 2022 में विधानसभा चुनाव (Assembly election) होने हैं और कॉन्ग्रेस (congress) में अंदरूनी कलह उभर कर सामने आ रही है। राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत (Harish rawat) तो खुलकर पार्टी के खिलाफ अपनी नाराजगी व्यक्त कर चुके हैं। लेकिन अब वो राहुल गाँधी से मिले हैं। दिल्ली में राहुल से मिलने के बाद रावत कॉन्ग्रेस के ही गुण गाते दिखे हैं।

रिपोर्ट के मुताबिक, हरीश रावत के नाराजगी के बीच पार्टी आलाकमान ने उन्हें दिल्ली बुलाया। वो शुक्रवार (24 दिसंबर 2021) को दिल्ली में राहुल गाँधी (Rahul Gandhi) से मिले। राहुल से मिलने के बाद उनके सुर अचानक से बदले नजर आए। रावत ने गाना गाते हुए कहा, “कदम-कदम बढ़ाए जा कॉन्ग्रेस के गीत गाए जा, ये जिंदगी है उत्तराखंड के वास्ते, उत्तराखंड पर लुटाए जा।” रावत का कहना है कि वो कॉन्ग्रेस में ही रहेंगे और उसी के गीत भी गाएँगे।

एएनआई की रिपोर्ट के मुताबिक, रावत ने कहा है कि दिल्ली में उत्तराखंड विधानसभा चुनाव के मुद्दे पर राहुल गाँधी के साथ उनकी बैठक हुई है। इसमें ये तय हुआ है कि मैं आगामी चुनाव में कैंपेन कमेटी का अध्यक्ष रहूँगा। रावत ने ये स्पष्ट किया है कि चुनाव में कॉन्ग्रेस के सीएम फेस वही रहेंगे। उन्होंने ये भी कहा कि कॉन्ग्रेस में हमेशा से विशेषाधिकार पार्टी के प्रेसिडेंट के पास रहा है और नेता का चयन वही करते हैं।

लेकिन इससे पहले हाल ही में हरीश रावत ने पार्टी आलाकमान के खिलाफ कुलकर अपनी नाराजगी व्यक्त करते हुए कहा था, “जिनके आदेश पर तैरना है, उनके नुमाइंदे मेरे हाथ-पाँव बाँध रहे हैं। मन में बहुत बार विचार आ रहा है कि हरीश रावत अब बहुत हो गया, बहुत तैर लिए, अब विश्राम का समय है!”

यूथ कॉन्ग्रेस ने रावत को कहा बेईमान

भले ही रावत राहुल गाँधी से मिलने के बाद कॉन्ग्रेस के गुण गा रहे हों, लेकिन उधर उत्तराखंड में यूथ कॉन्ग्रेस उन्हें बेईमान कह रही है। उनके नाम के पोस्टर लगाए गए हैं। इन पोस्टरों में कहा गया है कि हरीश रावत का ईमान डोल गया है, उनके मन में बेईमान बैठा है। इसके साथ ही उत्तराखंड की कमान युवाओं के हाथ में देने की माँग राहुल गाँधी से की गई है।

साभार: न्यूज 18

रावत समर्थकों ने महामंत्री राजेंद्र शाह को पीटा

कॉन्ग्रेस में जारी अंदरूनी कलह का इस बात से भी अंदाजा लगाया जा सकता है कि शुक्रवार (24 दिसंबर 2021) को देहरादून स्थित कॉन्ग्रेस मुख्यालय में हरीश रावत को लेकर टिप्पणी करने पर उनके समर्थकों ने पार्टी के ही महामंत्री राजेंद्र शाह (Rajendra shah) को पीट दिया।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

पावागढ़ की पहाड़ी पर ध्वस्त हुईं तीर्थंकरों की जो प्रतिमाएँ, उन्हें फिर से करेंगे स्थापित: गुजरात के गृह मंत्री का आश्वासन, महाकाली मंदिर ने...

गुजरात के गृह मंत्री हर्ष संघवी ने कहा कि किसी भी ट्रस्ट, संस्था या व्यक्ति को अधिकार नहीं है कि इस पवित्र स्थल पर जैन तीर्थंकरों की ऐतिहासिक प्रतिमाओं को ध्वस्त करे।

रेड सिग्नल पार करने वाली ट्रेनों को भी रोक देता है कवच, फिर क्यों कंचनजंगा एक्सप्रेस से भिड़ गई मालगाड़ी: जानिए सब कुछ

न्यू जलपाई गुड़ी में हुए रेल हादसे के बाद कवच पर चर्चा चालू हो गई है। जिस रूट पर हादसा हुआ है, वहाँ अभी कवच सिस्टम नहीं लगा था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -