Tuesday, July 23, 2024
Homeराजनीति2022 में गुजरात की सभी 182 सीटों पर लड़ेगी AAP, 2017 में कई सीटों...

2022 में गुजरात की सभी 182 सीटों पर लड़ेगी AAP, 2017 में कई सीटों पर 100 वोट लाने में भी छूट गए थे पसीने

अपनी स्थापना के बाद से ही आप कई राज्यों में जोर-शोर से चुनाव लड़ती रही है। लेकिन दिल्ली के अलावा केवल पंजाब में ही उसे अब तक सफलता मिल पाई है।

गुजरात में अगले साल विधानसभा चुनाव होने हैं। आम आदमी पार्टी (AAP) राज्य की सभी 182 विधानसभा सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारेगी। इसका ऐलान गुजरात के दौरे पर पहुॅंचे पार्टी सुप्रीमो और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सोमवार (14 जून 2021) को की।

दैनिक भास्कर की रिपोर्ट के अनुसार आप की नजर हार्दिक पटेल पर है जो कॉन्ग्रेस में उपेक्षा से नाराज बताए जा रहे हैं। केजरीवाल ने 2022 के चुनावों को ध्यान में रखते हुए दिल्ली की तर्ज पर गुजरात के लोगों को भी फ्री बिजली का लॉलीपॉप दिखाते हुए कहा कि यहाँ के लोग सोचते हैं कि अगर दिल्ली में बिजली फ्री हो सकती है तो यहाँ क्यों नहीं? उन्होंने दावा किया कि बीते 70 साल से गुजरात के अस्पतालों की हालत पूरी तरह से बदहाल है। लेकिन, अब इसकी सूरत बदलने वाली है।

केजरीवाल ने कहा कि पिछले 27 साल से प्रदेश में एक ही पार्टी की सरकार है और ये बीजेपी और कॉन्ग्रेस के बीच दोस्ती की कहानी है। आम आदमी पार्टी के नेता ने कॉन्ग्रेस को बीजेपी की जेब में बताया और कहा कि जब बीजेपी को जरूरत होती है तो कॉन्ग्रेस उसे सप्लाई करती है। केजरीवाल ने कहा कि वो दिल्ली की तरह ही गुजरात का एक अलग मॉडल विकसित करेंगे, जहाँ AAP गुजरात के लोगों के मुद्दों को लेकर राजनीति करेगी।

केजरीवाल देश की आजादी में गुजरातियों के योगदान को महत्वपूर्ण बताते हुए कहा कि आजादी दिलाने में ने यहाँ के लोगों का बड़ा योगदान रहा है। AAP नेता ने सरदार बल्लभ भाई पटेल के योगदान का जिक्र किया और कहा कि सरदार ने 500 रियासतों का एकीकरण करके भारत को एकजुट किया। उनके बिना भारत संभव नहीं होता।

2022 के चुनावों को लेकर अभी से भले आप बड़े बड़े दावे कर रही हो, लेकिन 2017 के विधानसभा चुनावों में गुजरात की जनता ने उसे भाव नहीं दिया था। पार्टी ने उस चुनाव में 30 सीटों पर उम्मीदवार उतारे थे इनमें से किसी की जमानत नहीं बची थी। कई तो नोटा से भी पिछड़ गए थे।

उन चुनावों में छोटा उदयपुर से उम्मीदवार रहे अर्जुन भाई वरसिंहभाई को 4500 वोट मिले थे। यह गुजरात में पार्टी का सबसे अच्छा परफॉर्मेंस था। इसके बाद वाँकानेर विधानसभा सीट से पार्टी उम्मीदवार शेरसिया उस्मानगनी हुसैन पटेल 3000 वोट मिल थे। इंडिया टुडे की रिपोर्ट के मुताबिक, कई सीटों पर आप उम्मीदवार 100 वोट का आँकड़ा पार करने में भी कामयाब नहीं रहे थे।

गौरतलब है कि अपनी स्थापना के बाद से ही आप कई राज्यों में जोर-शोर से चुनाव लड़ती रही है। लेकिन दिल्ली के अलावा केवल पंजाब में ही उसे अब तक सफलता मिल पाई है। इसके अलावा आम चुनावों के साथ साथ विधानसभा चुनावों में भी पार्टी की दुर्गति ही हुई है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

20000 महिलाओं को रेप-मौत से बचाने के लिए जब कॉन्ग्रेसी मंत्री ने RSS से माँगी थी मदद: एक पत्र में दर्ज इतिहास, जिसे छिपा...

पत्र में कहा गया था कि आरएसएस 'फील्ड वर्क' के लिए लोगों को अत्यधिक प्रशिक्षित करेगा और संघ प्रमुख श्री गोलवरकर से परामर्श लिया जा सकता है।

कागज तो दिखाना ही पड़ेगा: अमर, अकबर या एंथनी… भोले के भक्तों को बेचना है खाना, तो जरूरी है कागज दिखाना – FSSAI अब...

सुप्रीम कोर्ट ने अपने आदेश में कहा कि कांवड़ रूट में नाम दिखने पर रोक लगाई जा रही है, लेकिन कागज दिखाने पर कोई रोक नहीं है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -