Monday, July 15, 2024
Homeराजनीतिनिशिकांत दुबे के बाद अब BJP सांसद रवि किशन ने दानिश अली के खिलाफ...

निशिकांत दुबे के बाद अब BJP सांसद रवि किशन ने दानिश अली के खिलाफ लिखा पत्र, कहा- जनसंख्या कानून को लेकर की थी आपत्तिजनक टिप्पणी

रवि किशन से पहले भाजपा सांसद निशिकांत दुबे ने भी दानिश अली की संसद में की जाने वाली हरकतों को आपत्तिजनक बताया था। उन्होंने दानिश अली के आचरण की भी जाँच की माँग की है। भाजपा सांसद बृजभूषण शरण सिंह ने भी दानिश अली को सदन में हर किसी को बेवजह टोकने वाला सदस्य बताया है।

भाजपा के लोकसभा सांसद रमेश बिधूड़ी और बसपा सांसद दानिश अली के बीच चल रहे विवाद में अब भाजपा सांसद रवि किशन शुक्ला की इंट्री हुई है। रवि किशन ने लोकसभा अध्यक्ष ओम बिड़ला को पत्र लिखा है। रवि किशन ने अपने पत्र में दानिश अली पर सभी सांसदों को अनावश्यक तौर पर टोकने का आरोप लगाया है।

रवि किशन के मुताबिक, दानिश अली ने साल 2022 में उन पर व्यक्तिगत और आपत्तिजनक टिप्पणी की थी। रवि किशन का कहना है कि उस समय वो एक प्राइवेट बिल को सदन में रख रहे थे। रविवार (24 सितंबर 2023) को लिखे गए इस पत्र में रवि किशन ने ओम बिड़ला से माँग की है कि वो अपनी जाँच में उनके द्वारा दी गई जानकारियों को भी शामिल करें।

भाजपा नेता अमित मालवीय ने सांसद रवि किशन के इस पत्र को शेयर किया है। रवि किशन ने इस पत्र में 9 दिसंबर 2022 की तारीख का जिक्र किया है। इस दिन सदन में उन्होंने जनसंख्या नियंत्रण कानून 2019 का प्राइवेट बिल पेश किया था। सांसद का आरोप है कि तब बसपा सांसद दानिश अली ने उन पर आपत्तिजनक और व्यक्तिगत टिप्पणी की थी। दानिश ने भरे सदन में कहा था, “जनसंख्या नियंत्रण कानून बिल वो संसद सदस्य पेश कर रहे हैं, जिनके खुद के 4 बच्चे हैं।”

रवि किशन ने रमेश बिधूड़ी और दानिश अली के बीच चल रहे विवाद पर अपनी राय भी रखी है। उन्होंने कहा कि इस मामले को जिस तरह से दानिश अली तोड़-मरोड़ कर पेश कर रहे हैं, वह उनके द्वारा मीडिया में कवरेज पाने का हथकंडा लग रहा है। किशन ने लोकसभा अध्यक्ष ओम बिड़ला से निवेदन किया है कि वो अपनी जाँच में उनके पत्र में लिखी बातों को भी शामिल करें।

अमित मालवीय ने भी यह पत्र शेयर करते हुए लिखा, “जिस प्रकार से दानिश अली के ख़िलाफ़ एक के बाद एक सांसद पत्र लिख रहे हैं, उससे ऐसा लगता है कि दानिश अली के लोकसभा पटल पर इस्तीफ़ा देकर कॉन्ग्रेस में शामिल होने के मंसूबे को बड़ा धक्का लगा है। साथ ही, राहुल गाँधी की ‘मोहब्बत की दुकान’ पर ताला भी लग गया है।”

बताते चलें कि रवि किशन से पहले भाजपा सांसद निशिकांत दुबे ने भी दानिश अली की संसद में की जाने वाली हरकतों को आपत्तिजनक बताया था। उन्होंने दानिश अली के आचरण की भी जाँच की माँग की है। भाजपा सांसद बृजभूषण शरण सिंह ने भी दानिश अली को सदन में हर किसी को बेवजह टोकने वाला सदस्य बताया है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘बैकफुट पर आने की जरूरत नहीं, 2027 भी जीतेंगे’: लोकसभा चुनावों के बाद हुई पार्टी की पहली बैठक में CM योगी ने भरा जोश,...

लोकसभा चुनावों के बाद पहली बार भाजपा प्रदेश कार्यसमिति की लखनऊ में आयोजित बैठक में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कार्यकर्ताओं में जोश भरा।

जिसने चलाई डोनाल्ड ट्रंप पर गोली, उसने दिया था बाइडेन की पार्टी को चंदा: FBI लगा रही उसके मकसद का पता

पेंसिल्वेनिया के मतदाता डेटाबेस के मुताबिक, डोनाल्ड ट्रंप पर हमला करने वाला थॉमस मैथ्यू क्रूक्स रिपब्लिकन के मतदाता के रूप में पंजीकृत था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -