Saturday, July 20, 2024
Homeराजनीति'रामचरितमानस में कूड़ा-कचरा, आगे भी बोलूँगा': बिहार के शिक्षा मंत्री ने हिन्दू धर्म के...

‘रामचरितमानस में कूड़ा-कचरा, आगे भी बोलूँगा’: बिहार के शिक्षा मंत्री ने हिन्दू धर्म के खिलाफ फिर उगला ज़हर, जदयू MLA ने कहा – इतनी दिक्कत है तो धर्म बदल लो

रामचरितमानस को कूड़ा-कचरा कहने पर जब उनसे सवाल किया गया तो उन्होंने कहा, "ऐसा मैंने नहीं, बल्कि डॉ. लोहिया ने कहा है। मैं तो केवल उनकी बातों को दोहरा रहा हूँ।"

रामचरितमानस (Ramcharitmanas) को अपमानित करने के मामले थमने का नाम नहीं ले रहे हैं। बिहार के शिक्षा मंत्री चंद्रशेखर यादव के एक बार फिर रामचरितमानस पर विवादित बयान दिया है। उन्होंने बजट सत्र के दौरान विधानसभा के बाहर मंगलवार (28 फरवरी, 2023) को कहा, “मैं अपने पुराने बयान पर कायम हूँ। रामचरितमानस में जो भी कूड़ा-कचरा है, उसकी सफाई होनी चाहिए। अभी तो कुछ ही दोहों पर सवाल किया है, दर्जनों दोहे ऐसे हैं, जिसे बदलने की जरूरत है। मैं रामचरितमानस पर चुप रहने वाला नहीं हूँ। इसमें कई ऐसे दोहे हैं, जिस पर आगे भी सवाल उठाता रहूँगा।”

इस पर जदयू विधायक डॉ. संजीव ने उनका विरोध जताते हुए कहा है कि अगर आपको इतनी ही परेशानी है, तो अपना धर्म-परिवर्तन कर लें।

रामचरितमानस को कूड़ा-कचरा कहने पर जब उनसे सवाल किया गया तो उन्होंने कहा, “ऐसा मैंने नहीं, बल्कि डॉ. लोहिया ने कहा है। मैं तो केवल उनकी बातों को दोहरा रहा हूँ। विधानसभा में किसी की हिम्मत नहीं कि मेरे बयान पर सवाल खड़ा कर सके। मैं आज भी कह रहा हूँ कि रामचरितमानस में शूद्रों का अपमान किया गया है। लोहिया और आंबेडकर की नजर से मैं इसे पढ़ता हूँ। आज का शूद्र पढ़ा-लिखा है। उसे बेवकूफ नहीं बनाया जा सकता है।”

चंद्रशेखर के विवादास्पद बयान पर जदयू विधायक डॉ. संजीव ने विरोध जताया है। उन्होंने कहा कि वह सस्ती लोकप्रियता पाने के लिए ऐसा कह रहे हैं। इन्हें इलाज कराने की जरूरत है। रामचरितमानस पर कोई सवाल नहीं खड़ा कर सकता है। शिक्षा मंत्री बताएँ उनका धर्म क्या है? इतनी परेशानी है, तो चंद्रशेखर अपना धर्म-परिवर्तन कर लें। इतनी हिम्मत है, तो दूसरे धर्मों के बारे में बयान देकर सड़क पर चलकर दिखाएँ। यह तो हिंदू धर्म की महानता है कि वह अभी तक इस तरह का बयान दे रहे हैं।

गौरतलब है कि इससे पहले भी चंद्रशेखर ने रामचरितमानस को लेकर विवादित बयान दिया था। पार्टी के बिहार प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह ने चंद्रशेखर का और उनके बयान का समर्थन किया था। उन्होंने कहा था कि सभी समाजवादी आपके साथ हैं। चंद्रशेखर ने राममनोहर लोहिया के हवाले से कहा कि रामचरितमानस में हीरा-मोती भी है और कूड़ा-कचरा भी है, इसलिए हम कूड़ा साफ करेंगे और हीरा-मोती को रखेंगे।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

फैक्ट चेक’ की आड़ लेकर भारत में ‘प्रोपेगेंडा’ फैलाने की तैयारी कर रहा अमेरिका, 1.67 करोड़ रुपए ‘फूँक’ तैयार कर रहा ‘सोशल मीडिया इन्फ्लूएंसर्स’...

अमेरिका कथित 'फैक्ट चेकर्स' की फौज को तैयार करने की योजना को चतुराई से 'डिजिटल लिटरेसी' का नाम दे रहा है, लेकिन इनका काम होगा भारत में अमेरिकी नरेटिव को बढ़ावा देना।

मुस्लिम फल विक्रेताओं एवं काँवड़ियों वाले विवाद में ‘थूक’ व ‘हलाल’ के अलावा एक और पहलू: समझिए सच्चर कमिटी की रिपोर्ट और असंगठित क्षेत्र...

काँवड़ियों के पास ये विकल्प क्यों नहीं होना चाहिए, अगर वो सिर्फ हिन्दू विक्रेताओं से ही सामान खरीदना चाहते हैं तो? मुस्लिम भी तो लेते हैं हलाल?

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -