Sunday, May 29, 2022
Homeराजनीतिकन्हैया कुमार पर कॉन्ग्रेस दफ्तर में ही फेंकी गई स्याही, समर्थकों का दावा -...

कन्हैया कुमार पर कॉन्ग्रेस दफ्तर में ही फेंकी गई स्याही, समर्थकों का दावा – एसिड है; सदफ ज़फर के लिए प्रचार करने पहुँचे थे यूपी

कन्हैया कुमार मंगलवार (1 फरवरी, 2022) को लखनऊ सेंट्रल की प्रत्याशी सदफ जफर के लिए प्रचार-प्रसार करने पहुँचे थे।

उत्तर प्रदेश में अपनी पार्टी के लिए प्रचार करने पहुँचे कॉन्ग्रेस नेता कन्हैया कुमार पर स्याही फेंकी गई है। ये घटना कॉन्ग्रेस के ही लखनऊ मुख्यालय में हुई। इस घटना का वीडियो भी वायरल हो रहा है, जिसमें देखा जा सकता है कि कॉन्ग्रेस के दफ्तर में धक्का-मुक्की चल रही है और कन्हैया कुमार के समर्थन किसी तरह उन्हें बचा कर ले जा रहे हैं। कन्हैया कुमार मंगलवार (1 फरवरी, 2022) को लखनऊ सेंट्रल की प्रत्याशी सदफ जफर के लिए प्रचार-प्रसार करने पहुँचे थे।

कॉन्ग्रेस पार्टी ने कन्हैया कुमार का नाम उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के लिए अपने ‘स्टार प्रचारकों’ की सूची में भी रखा हुआ है। कन्हैया कुमार के समर्थकों ने स्याही फेंकने वाले युवक के साथ धक्का-मुक्की भी की। जबकि कॉन्ग्रेस नेताओं का दावा है कि ये स्याही नहीं, बल्कि एसिड है। हालाँकि, स्याही कन्हैया कुमार पर तो नहीं पड़ी लेकिन आसपास खड़े उनके कुछ समर्थकों के ऊपर इसकी कुछ बूँदें पड़ी थीं। स्याही फेंकने वाले युवक ने अब तक कुछ बताया नहीं है।

कन्हैया कुमार उत्तर प्रदेश में कॉन्ग्रेस पार्टी के लिए ‘डोर टू डोर’ कैम्पेन चलाने के लिए पहुँचे थे। उन्हें लखनऊ की गलियों में लोगों से हाथ जोड़ कर कॉन्ग्रेस प्रत्याशी के लिए वोट माँगते हुए भी देखा गया। उन्होंने बाकी पार्टियों पर सब कुछ वर्चुअल करने का आरोप लगाते हुए कहा कि कॉन्ग्रेस पार्टी शुरू से ही जनता के साथ सड़क पर है। वरिष्ठ कॉन्ग्रेस नेताओं द्वारा पार्टी छोड़ने पर उन्होंने कहा कि पुराने नेता छोड़ रहे हैं, क्योंकि अब पार्टी नई हो रही है। उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर देश बेचने का आरोप लगाते हुए कहा कि कॉन्ग्रेस अबकी दिखा देगी और भाजपा को उखाड़ फेंकेगी।

हालाँकि, उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के सम्बन्ध में कन्हैया कुमार ने कहा कि जनता जनार्दन का जो भी फैसला होगा, ये उन्हें मंजूर होगा। उन्होंने कहा कि ये चुनाव उनकी पार्टी प्रियंका गाँधी वाड्रा के नेतृत्व में लड़ रही है और इसीलिए ये बड़ा हो गया है। हाथरस, उन्नाव और लखीमपुर खीरी में हुई घटनाओं की चर्चा करते हुए उन्होंने कहा कि तभी से कॉन्ग्रेस पार्टी लोगों के साथ सड़कों पर संघर्ष कर रही है। उन्होंने दावा किया कि कॉन्ग्रेस ने देश बनाया है, इसीलिए वो इसे बिकने से बचा रही है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

नूपुर शर्मा का सिर कलम करने वाले को ₹20 लाख इनाम का ऐलान, बताया ‘गुस्ताख़-ए-रसूल’: मुस्लिमों को उकसा रहा AltNews वाला जुबैर

तहरीक-ए-लब्बैक (TLP) वही समूह है जिसने कुछ दिनों सियालकोट में पहले श्रीलंकाई नागरिक की हत्या कर दी थी। अब नूपुर शर्मा का सिर कलम करने पर रखा इनाम।

‘शरिया लॉ में बदलाव कबूल नहीं’: UCC के विरोध में देवबंद के मौलवियों की बैठक, कहा – ‘सब सह कर हम 10 साल से...

देवबंद में आयोजित 'जमीयत उलेमा ए हिन्द' की बैठक में UCC का विरोध किया गया। मौलवियों ने सरकार पर डराने का आरोप लगाया। कहा - ये देश हमारा है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
189,861FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe