Friday, June 14, 2024
Homeराजनीतिसुशांत के हत्यारों और ड्रग्स स्कैंडल से आदित्य ठाकरे का है कनेक्शन: कंगना का...

सुशांत के हत्यारों और ड्रग्स स्कैंडल से आदित्य ठाकरे का है कनेक्शन: कंगना का दावा- इसलिए उद्धव उन्हें बना रहे निशाना

“महाराष्ट्र के सीएम की मूल समस्या यह है कि मैंने फिल्म माफिया, सुशांत सिंह राजपूत के हत्यारों और उसके ड्रग रैकेट का पर्दाफाश किया, जो उनके प्यारे बेटे आदित्य ठाकरे के साथ हैं। यह मेरा बड़ा अपराध है, इसलिए अब वे मुझे फिक्स करना चाहते हैं, ठीक है, देखते हैं कि कौन किसे फिक्स करता है।”

शिवसेना के नेतृत्व वाली महाराष्ट्र सरकार और अभिनेत्री कंगना रनौत के बीच विवाद शांत होता नहीं दिख रहा है। कंगना ने दावा किया है कि अपने बेटे आदित्य ठाकरे को बचाने के लिए मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे उन्हें निशाना बना रहे हैं। कंगना की माने तो बॉलीवुड माफिया, सुशांत सिंह राजपूत के हत्यारों और ड्रग्स रैकेट का आदित्य से कनेक्शन है।

उन्होंने ट्वीट कर कहा है, “महाराष्ट्र के सीएम की मूल समस्या यह है कि मैंने फिल्म माफिया, सुशांत सिंह राजपूत के हत्यारों और उसके ड्रग रैकेट का पर्दाफाश किया, जो उनके प्यारे बेटे आदित्य ठाकरे के साथ हैं। यह मेरा बड़ा अपराध है, इसलिए अब वे मुझे फिक्स करना चाहते हैं, ठीक है, देखते हैं कि कौन किसे फिक्स करता है।”

गौरतलब है कि मुंबई में 5 दिन बिताने के बाद कंगना रनौत सोमवार (सितंबर 14, 2020) को बहन रंगोली के साथ मनाली पहुँच गईं। उन्होंने चंडीगढ़ पहुँचते ही एक ट्वीट किया और बताया कि उन्हें पहले मुंबई में कैसा महसूस होता था और अब कैसा महसूस किया।

उन्होंने लिखा, “चंडीगढ़ मे उतरते ही मेरी सिक्योरिटी नाम मात्र रह गई है। लोग ख़ुशी से बधाई दे रहे हैं। लगता है इस बार मैं बच गई। एक दिन था जब मुंबई में माँ के आँचल की शीतलता महसूस होती थी। आज वो दिन है जब जान बची तो लाखों पाए। शिव सेना से सोनिया सेना होते ही मुंबई में आतंकी प्रशासन का बोल-बाला।”

इस ट्वीट से पहले कंगना ने अपने एक ट्वीट में बताया था कि वह भारी मन से वापस जा रही हैं। उन्होंने लिखा, “भारी मन से मुंबई से वापस लौट रही हूँ। जिस तरह मुझे इन दिनों परेशान किया गया, मेरे ऊपर अटैक किया गया, मुझे गलत चीजें बोली गईं, मेरा घर तोड़ने की धमकी दी गई और मेरा ऑफिस तोड़ा, सिक्योरिटी को हथियार के साथ मेरे आसपास रहने के लिए कहा गया, मुझे लगता है POK से तुलना करना सही था।”

बता दें कि कंगना रनौत 9 सितंबर को मुंबई आई थीं। उनके मुंबई पहुॅंचने से पहले बीएमसी ने उनके ऑफिस पर ‘अवैध निर्माण’ के चलते बुलडोजर चला दिया था। हालांकि, बॉम्बे हाई कोर्ट ने उसी दिन कंगना के ऑफिस में तोड़फोड़ पर रोक लगा दी थी, लेकिन उससे पहले ही बीएमसी काफी तोड़फोड़ कर चुकी थी।

गौरतलब है कि सुशांत सिंह राजपूत की मौत के बाद से ही कंगना लगातार बॉलीवुड में भाई-भतीजावाद और माफिया को लेकर मुखर हैं। मुंबई पुलिस पर उनके सवाल उठाने के बाद शिवसेना उन पर लगातार हमलावर हैं। पहले उन्हें मुंबई नहीं आने की धमकी दी गई। इसके बाद उनके ऑफिस पर कार्रवाई की गई। कंगना ने दावा किया था कि उनका घर गिराने की धमकी भी दी जा रही है। इसके बाद से ही यह वह लगातार शिवसेना और मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे पर हमलावर हैं।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

अरुंधति रॉय पर UAPA के तहत चलेगा मुकदमा: दिल्ली LG ने दी मंजूरी, कश्मीरी अलगाववादियों के साथ दिया था भड़काऊ भाषण

सम्मेलन में जिन मुद्दों पर चर्चा की गई और बात की गई, उनमें 'कश्मीर को भारत से अलग करने' का प्रचार किया गया था।

मेलोनी को किया नमस्ते, पोप से गले मिले… इंग्लैंड से सेमीकंडक्टर, यूक्रेन से ‘Black Sea’ और फ्रांस से ‘ब्लू इकोनॉमी’ पर बातचीत, G7 में...

रक्षा, सुरक्षा, तकनीक, AI, ब्लू इकॉनमी और कई अन्य विषयों पर फ्रांस से चर्चा हुई। इंग्लैंड से सेमीकंडक्टर पर भी बात हुई। यूक्रेन से 'ब्लैक सी एक्सपोर्ट कॉरिडोर' पर बातचीत।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -