Saturday, July 20, 2024
Homeराजनीतिलोकसभा चुनाव: चिराग पासवान की LJP-रामविलास ने घोषित किए 5 प्रत्याशी, चाचा पशुपति पारस...

लोकसभा चुनाव: चिराग पासवान की LJP-रामविलास ने घोषित किए 5 प्रत्याशी, चाचा पशुपति पारस बोले – ‘मोदी जी हमारे नेता, NDA में ही रहेगी रालोजपा’

लोकसभा चुनाव 2024 में लोक जनशक्ति पार्टी के दोनों धड़े एनडीए में ही रहेंगे। लोजपा-रामविलास को एनडीए के टिकट बंटवारे में 5 सीटें मिली थी, जिसके बाद रालोजपा ने तेवर दिखाए थे। थे हालाँकि अब लोजपा-रामविलास ने अपने कोटे की सभी 5 सीटों पर उम्मीदवारों की घोषणा कर दी है, तो रालोजपा के अध्यक्ष पशुपति पारस ने कहा है कि वो एनडीए का ही हिस्सा रहेंगे। उन्होंने कहा कि पीएम मोदी ही उनके नेता हैं और वो एनडीए से अलग नहीं हो रहे हैं।

लोकसभा चुनाव 2024 में लोक जनशक्ति पार्टी के दोनों धड़े एनडीए में ही रहेंगे। लोजपा-रामविलास को एनडीए के टिकट बंटवारे में 5 सीटें मिली थी, जिसके बाद रालोजपा ने तेवर दिखाए थे। थे हालाँकि अब लोजपा-रामविलास ने अपने कोटे की सभी 5 सीटों पर उम्मीदवारों की घोषणा कर दी है, तो रालोजपा के अध्यक्ष पशुपति पारस ने कहा है कि वो एनडीए का ही हिस्सा रहेंगे। उन्होंने कहा कि पीएम मोदी ही उनके नेता हैं और वो एनडीए से अलग नहीं हो रहे हैं।

लोजपा-रामविलास ने घोषित किए 5 उम्मीदवारों के नाम

इस बीच, चिराग पासवान ने अपनी पार्टी के पाँच उम्मीदवारों की आधिकारिक तौर पर घोषणा कर दी है। एनडीए में सीट बंटवारे में चिराग पासवान को पाँच सीट मिली थी। इनमें हाजीपुर, समस्तीपुर, वैशाली, खगड़िया और जमुई शामिल है। लोजपा-रामविलास की सीटों पर परिवार के 2 सदस्य चुनाव लड़ रहे हैं। खुद चिराग पासवान हाजीपुर से चुनाव लड़ रहे हैं, तो उनके जीता अरुण भारती चिराग पासवान की सीट जमुई से मैदान में हैं।

इस लिस्ट में सांसद वीणा देवी का भी नाम है, उन्हें फिर से वैशाली में मौका मिला है। वैसे, चिराग पासवान वीणा देवी को लेकर खुले मंच से यह बात कहते रहे हैं कि गद्दारों को मौका नहीं देंगे, लेकिन उन्होंने वीणा को मैदान में उतारा है। इस लिस्ट में खगड़िया से राजेश वर्मा और समस्तीपुर से शांभवी चौधरी का नाम है। शांभवी चौधरी बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के करीबी मंत्री अशोक चौधरी की बेटी हैं।

पशुपति पारस के तेवर पड़े ढीले, एनडीए में ही रहेंगे

एक तरफ चिराग पासवान ने अपने उम्मीजवारों की घोषणा कर दी है, तो दूसरी तरफ पशुपति पारस के भी तेवर ढीले पड़ते दिख रहे हैं। पशुपति पारस ने चुप्पी तोड़ते हुए कहा कि हमारी पार्टी रालोजपा, एनडीए का अभिन्न अंग है। पीएम मोदी हमारे नेता है। उनके नेतृत्व में एनडीए पूरे देश में 400+ सीट जीतेगा और तीसरी बार रिकॉर्ड तोड़ बहुमत से एनडीए की सरकार बनेगी।

बता दें कि एनडीए में एक भी सीट न मिलने के बाद पशुपति पारस ने केंद्रीय मंत्री पद से इस्तीफा दे दिया था। उन्होंने कहा था कि ‘मेरे और मेरी पार्टी के साथ नाइंसाफी हुई। हमें एक भी सीट नहीं दी गई।’ इस्तीफा देने के पहले तक पशुपति पारस मोदी सरकार में खाद्य और प्रसंस्करण मंत्री थे। हालाँकि अब उन्होंने साफ कर दिया है कि वो और उनकी पार्टी एनडीए में ही रहेगी।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

फैक्ट चेक’ की आड़ लेकर भारत में ‘प्रोपेगेंडा’ फैलाने की तैयारी कर रहा अमेरिका, 1.67 करोड़ रुपए ‘फूँक’ तैयार कर रहा ‘सोशल मीडिया इन्फ्लूएंसर्स’...

अमेरिका कथित 'फैक्ट चेकर्स' की फौज को तैयार करने की योजना को चतुराई से 'डिजिटल लिटरेसी' का नाम दे रहा है, लेकिन इनका काम होगा भारत में अमेरिकी नरेटिव को बढ़ावा देना।

मुस्लिम फल विक्रेताओं एवं काँवड़ियों वाले विवाद में ‘थूक’ व ‘हलाल’ के अलावा एक और पहलू: समझिए सच्चर कमिटी की रिपोर्ट और असंगठित क्षेत्र...

काँवड़ियों के पास ये विकल्प क्यों नहीं होना चाहिए, अगर वो सिर्फ हिन्दू विक्रेताओं से ही सामान खरीदना चाहते हैं तो? मुस्लिम भी तो लेते हैं हलाल?

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -