मेरी जगह CM बनना चाहते हैं ‘वो’, बिगाड़ रहे हैं कॉन्ग्रेस की छवि: कैप्टेन अमरिंदर

सिद्धू की पत्नी ने कहा था कि कैप्टेन के कारण उन्हें लोकसभा चुनाव में टिकट नहीं दिया गया। अपनी पत्नी का बचाव करते हुए सिद्धू ने कहा कि वे कभी झूठ नहीं बोलतीं।

पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टेन अमरिंदर सिंह ने अपने कैबिनेट मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू पर बड़ा आरोप लगाया है। इसके साथ ही पंजाब कॉन्ग्रेस की कलह सतह पर आती दिख रही है। हाल ही में नवजोत सिंह सिद्धू की पत्नी ने कहा था कि कैप्टेन के कारण उन्हें लोकसभा चुनाव में टिकट नहीं दिया गया। अपनी पत्नी का बचाव करते हुए सिद्धू ने कहा कि वे कभी झूठ नहीं बोलतीं। पंजाब के पर्यटन एवं संस्कृति मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू से जब उनकी पत्नी के आरोपों के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि मेरी पत्नी नैतिक रूप से इतनी मजबूत हैं कि वह कभी झूठ नहीं बोल सकती हैं। हालाँकि, मुख्यमंत्री ने पटियाला में इन आरोपों को खारिज करते हुए कहा कि उन्हें अमृतसर या बठिंडा सीट से कॉन्ग्रेस के टिकट की पेशकश की गई लेकिन उन्होंने इनकार कर दिया था।

अब नवजोत सिंह सिद्धू पर हमला बोलते हुए मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने कहा, “सिद्धू मेरी जगह सीएम बनना चाहते हैं। सिद्धू कॉन्ग्रेस की छवि बिगाड़ रहे हैं, पार्टी को उनके ख़िलाफ़ कार्रवाई करनी चाहिए। अगर वह असली कॉन्ग्रेसी होते तो वह अपनी शिकायतों के लिए पंजाब चुनाव का वक्त नहीं चुनते।” कैप्टेन ने साथ ही कॉन्ग्रेस आलाकमान कर अनुशासनहीनता बर्दाश्त न करने की सलाह दी। उन्होंने कहा कि यह पार्टी हाईकमान तय करेगा कि क्या कार्रवाई करनी है? सिद्धू को बचपन से जानने की बात करते हुए कैप्टेन ने कहा कि उन्हें सिद्धू से कोई निजी दुश्मनी नहीं है। कैप्टेन ने कहा कि सिद्धू संभवतः महत्वकांक्षी हैं और वो मुख्यमंत्री बनना चाहते हैं।

कैप्टेन अमरिंदर सिंह ने पटियाला में वोट डालने के बाद मीडिया से अनौपचारिक बातचीत करते हुए ये बातें कही। चुनाव से पहले भाजपा छोड़ कर कॉन्ग्रेस में गए सिद्धू चुनाव परिणाम कॉन्ग्रेस के पक्ष में आने के बाद उप-मुख्यमंत्री बनना चाहते थे लेकिन उन्हें पर्यटन एवं सांस्कृतिक मंत्रालय दिया गया। नवजोत सिंह सिद्धू की पत्नी ने कहा था कि कैप्टेन सोचते हैं कि वह पिछले वर्ष 2018 में अमृतसर में हुए ट्रेन हादसे की वजह से नहीं जीत पाएँगी। नवजोत कौर ने पार्टी की पंजाब मामलों की प्रभारी आशा कुमारी को भी अपने आरोपों के लपेटे में लिया।

- विज्ञापन - - लेख आगे पढ़ें -

कैप्टेन अमरिंदर सिंह ने अपने मताधिकार का प्रयोग करने के बाद मीडिया से बातचीत करते हुए आगे कहा कि राज्य में क़ानून व्यवस्था शांतिपूर्ण है और कॉन्ग्रेस अकाली-भाजपा को शिकस्त देगी। अमृतसर में कॉन्ग्रेस पार्टी ने वर्तमान सांसद गुरजीत सिंह को शिरोमणि अकाली दल-भारतीय जनता पार्टी के उम्मीदवार हरदीप सिंह पुरी के सामने उतारा है। हरदीप सिंह पुरी वर्तमान मोदी सरकार में केंद्रीय आवासन एवं शहरी कार्य राज्यमंत्री हैं। पंजाब में आज सोमवार (मई 19, 2019) को लोकसभा चुनाव के अंतिम और सातवें चरण के तहत मतदान चल रहा है। दोपहर 1 बजे तक राज्य में 38% मतदान की ख़बर है।

शेयर करें, मदद करें:
Support OpIndia by paying for content

बड़ी ख़बर

SC और अयोध्या मामला
"1985 में राम जन्मभूमि न्यास बना और 1989 में केस दाखिल किया गया। इसके बाद सोची समझी नीति के तहत कार सेवकों का आंदोलन चला। विश्व हिंदू परिषद ने माहौल बनाया जिसके कारण 1992 में बाबरी मस्जिद गिरा दी गई।"

ज़्यादा पढ़ी गईं ख़बरें

ताज़ा ख़बरें

हमसे जुड़ें

91,623फैंसलाइक करें
15,413फॉलोवर्सफॉलो करें
98,200सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

ज़रूर पढ़ें

Advertisements
शेयर करें, मदद करें: