Monday, November 29, 2021
Homeराजनीतिलोंगेवाला पोस्ट से चीन पर PM मोदी का वार, सियाचिन से जैसलमेर तक हर...

लोंगेवाला पोस्ट से चीन पर PM मोदी का वार, सियाचिन से जैसलमेर तक हर साल जवानों संग मनाई दीवाली

पीएम मोदी का लोंगेवाला पोस्ट पहुँचना इस लिहाज से भी महत्वपूर्ण है कि 1971 के युद्ध में यहाँ पाकिस्तान को करारी शिकस्त मिली थी और संघर्षविराम उल्लंघन के कारण सीमा पर तनाव बना हुआ है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शनिवार (नवंबर 14, 2020) को राजस्‍थान के जैसलमेर स्‍थित लोंगेवाला (Longewala) में तैनात सीमा सुरक्षा बल के जवानों के साथ दीवाली मनाई। जवानों के साथ दीवाली मनाने की परंपरा को कायम रखते हुए प्रधानमंत्री मोदी जैसलमेर बॉर्डर पहुँच गए हैं। उनके साथ चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ बिपिन रावत, आर्मी चीफ एमएम नरवने और सीमा सुरक्षा बल (BSF) के डायरेक्‍टर जनरल राकेश अस्‍थाना भी हैं।

पीएम ने अपने संबोधन की शुरुआत में कहा, “मैं आज आपके बीच प्रत्येक भारतवासी की शुभकामनाएँ लेकर आया हूँ। आपके लिए प्यार लेकर आया हूँ, आशीष लेकर आया हूँ। मैं आज उन वीर माताओं-बहनों और बच्चों को भी दीपावली की हार्दिक शुभकामनाएँ देता हूँ, उनके त्याग को नमन करता हूँ, जिनके अपने सरहद पर हैं।”

इस दौरान पीएम ने चीन पर निशाना साधते हुए कहा कि आज पूरा विश्व विस्तारवादी ताकतों से परेशान हैं। विस्तारवाद, एक तरह से मानसिक विकृति है और अठ्ठारहवीं शताब्दी की सोच को दर्शाती है। इस सोच के खिलाफ भी भारत प्रखर आवाज बन रहा है।

पीएम ने जवानों को संबोधित करते हुए कहा, “आज दुनिया ये जान रही है, समझ रही है कि ये देश अपने हितों से किसी भी कीमत पर रत्ती भर भी समझौता करने वाला नहीं है। भारत का ये रुतबा, ये कद आपकी शक्ति और आपके पराक्रम के ही कारण है। आपने देश को सुरक्षित किया हुआ है इसीलिए आज भारत वैश्विक मंचों पर प्रखरता से अपनी बात रखता है।”

उन्‍होंने कहा, “आपके शौर्य को नमन करते हुए आज भारत के 130 करोड़ देशवासी आपके साथ मजबूती से खड़े हैं। आज हर भारतवासी को अपने सैनिकों की ताकत और शौर्य पर गर्व है। उन्हें आपकी अजेयता पर, आपकी अपराजेयता पर गर्व है।”

देशवासियों को दी शुभकामनाएँ

प्रधानमंत्री ने दीपावली के शुभ अवसर पर देशवासियों को शुभकामनाएँ भी दी। उन्‍होंने ट्वीट कर लिखा, “सभी देशवासियों को दीपावली की हार्दिक मंगलकामनाएँ। यह त्‍योहार लोगों की जिंदगी में खुशहाली लाए और सभी स्‍वस्‍थ व समृद्ध रहें।”

शुक्रवार (नवंबर 13, 2020) को ही प्रधानमंत्री ने ट्वीट कर कहा था, “इस दीपावली हम सभी एक दीया उन सैनिकों के सम्मान में जलाएँ जो निडर होकर देश की रक्षा करते हैं। सैनिकों की अनुकरणीय बहादुरी के लिए उनके प्रति शब्दों से कृतज्ञता ज्ञापित करने की भावना न्याय नहीं कर सकती। हम सीमाओं पर डटे सैनिकों के परिवार वालों के प्रति भी कृतज्ञ हैं।”

उन्होंने कहा, “हमें अपने उन जांबाज सैनिकों को भी याद रखना है, जो इन त्योहारों पर भी सीमाओं पर डटे हैं। भारत माता की सेवा और सुरक्षा कर रहे हैं। हमें उनको याद करके ही अपने त्योहार मनाने हैं। हमें घर में एक दीया भारत माता के इन वीर बेटे-बेटियों के सम्मान में भी जलाना है। मैं अपने वीर जवानों से भी कहना चाहता हूँ कि भले ही आप सीमा पर हैं, लेकिन पूरा देश आपके साथ है, आपके लिए कामना कर रहा है। मैं उन परिवारों के त्याग को भी नमन करता हूँ, जिनके बेटे-बेटियाँ आज सरहद पर हैं। हर वो व्यक्ति जो देश से जुड़ी किसी न किसी जिम्मेदारी की वजह से अपने घर पर नहीं है, अपने परिवार से दूर है, मैं हृदय से उनका आभार प्रकट करता हूँ।”

पिछले 6 सालों में पीएम मोदी ने कहाँ-कहाँ मनाई दिवाली?

2014 में प्रधानमंत्री पद की शपथ लेने के बाद से मोदी हर साल दीवाली जवानों के साथ मनाते रहे हैं। पहली बार वे सियाचिन में जवानों के बीच पहुँचे थे। इस बार कोरोना आपदा के बावजूद उन्होंने यह परंपरा कायम रखी है। उनका लोंगेवाला पोस्ट पहुँचना इस लिहाज से भी महत्वपूर्ण है कि 1971 के युद्ध में यहाँ पाकिस्तान को करारी शिकस्त मिली थी और संघर्षविराम उल्लंघन के कारण सीमा पर तनाव बना हुआ है।

सियाचिन में जवानों के बीच दिवाली मनाते पीएम मोदी

2014: पीएम मोदी ने सियाचिन में जवानों के बीच दिवाली मनाई थी।

अमृतसर (पंजाब) बॉर्डर पर जवानों के बीच दिवाली मनाते पीएम मोदी

2015: प्रधानमंत्री ने अमृतसर (पंजाब) बॉर्डर पर जवानों के साथ दिवाली मनाई थी।

चीन बॉर्डर के पास इंडो-तिब्बत बॉर्डर पुलिस (ITBP) के जवानों के साथ दिवाली मनाते पीएम मोदी

2016: मोदी ने हिमाचल प्रदेश से लगे चीन बॉर्डर के पास इंडो-तिब्बत बॉर्डर पुलिस (ITBP) के जवानों के साथ दिवाली मनाई

म्मू-कश्मीर के गुरेज सेक्टर में सैनिकों के साथ दिवाली मनाते पीएम मोदी

2017: इस साल मोदी ने दिवाली का जश्न जम्मू-कश्मीर के गुरेज सेक्टर में सैनिकों के साथ मनाया।

उत्तराखंड में सैनिकों के साथ दिवाली मनाते पीएम मोदी

2018: प्रधानमंत्री दिवाली के मौके पर उत्तराखंड में केदारनाथ मंदिर के दर्शन के लिए गए थे। यहाँ उन्होंने चीन बॉर्डर के पास हरसिल गाँव के केंट इलाके में भारतीय सशस्त्र बल और ITBP के जवानों से मुलाकात की थी। यहाँ कहा था, “बर्फीले इलाके में आपका ड्यूटी के लिए समर्पण देश को मजबूती प्रदान करता है। आपके चलते ही सवा सौ करोड़ लोगों के सपने सुरक्षित हैं।”

जम्मू-कश्मीर के राजौरी में सैनिकों के साथ दिवाली मनाते पीएम मोदी

2019: मोदी जम्मू-कश्मीर के राजौरी में नियंत्रण रेखा (LoC) पर तैनात जवानों के साथ दिवाली मनाने के लिए राजौरी पहुँचे थे। पीएम ने कहा था, “युद्ध हो या घुसपैठ हो, इस क्षेत्र को सबसे ज्यादा परेशानियों का सामना करना पड़ता है, लेकिन यह जगह हमेशा उन परेशानियों से निकल आती है। यह ऐसा क्षेत्र है, जिसने कभी हार नहीं देखी।”

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

राजस्थान के मंत्री का स्वागत कर रहे थे कॉन्ग्रेस कार्यकर्ता, तभी इमरान ने जड़ दिया एक मुक्का: बाद में कहा – ये मेरे आशीर्वाद...

राजस्थान में एक अजोबोग़रीब वाकया हुआ, जब मंत्री और कॉन्ग्रेस नेता भँवर सिंह भाटी को एक युवक ने मुक्का जड़ दिया।

‘मीलॉर्ड्स, आलोचक ट्रोल्स नहीं होते’: भारत के मुख्य न्यायाधीश के नाम एक बिना नाम और बिना चेहरा वाले ट्रोल का पत्र

हमें ट्रोल्स ही क्यों कहा जाता है, आलोचक क्यों नहीं? ऐसा इसलिए, क्योंकि हम उन लोगों की आलोचना करते हैं जो अपनी आलोचना पसंद नहीं करते।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
140,346FollowersFollow
412,000SubscribersSubscribe