Monday, January 17, 2022
Homeराजनीतिबादल के मिसगाइडेड मिसाइल बताने पर भड़के सिद्धू, कहा- निशाना आप, आपके करप्ट बिजनेस...

बादल के मिसगाइडेड मिसाइल बताने पर भड़के सिद्धू, कहा- निशाना आप, आपके करप्ट बिजनेस को तबाह कर दूँगा

''नवजोत सिंह सिद्धू एक गुमराह करने वाली मिसाइल हैं, जो किसी के भी नियंत्रण में नहीं हैं और खुद सहित किसी भी दिशा में हिट कर सकती है।''

पंजाब कॉन्ग्रेस में चल रही घमासान के बीच बुधवार (30 जून 2021) को शिरोमणि अकाली दल के प्रधान सुखबीर सिंह बादल और नवजोत सिद्धू आमने-सामने आ गए। अकाली दल के नेता बादल ने कॉन्ग्रेस के दोनों नेताओं सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह और सिद्धू के बीच चल रही खींचतान पर टिप्पणी करते हुए कहा, ”नवजोत सिंह सिद्धू एक गुमराह करने वाली मिसाइल हैं, जो किसी के भी नियंत्रण में नहीं हैं और खुद सहित किसी भी दिशा में हिट कर सकती है।” उन्होंने कहा कि आज पंजाब को अभिनय करने वाले की नहीं, बल्कि राज्य के विकास के बारे में सोचने वाले की जरूरत है।

ऐसे में नवजोत सिंह सिद्धू भी कहाँ रुकने वाले वाले थे। उन्होंने तुरंत ट्वीट कर बादल की टिप्पणी का जवाब दिया। सिद्धू ने कहा कि इस मिसाइल का निशाना आप हैं। आपके करप्ट बिजनेस को तबाह कर दूँगा। जब तक पंजाब के खंडहरों पर बने आपके सुख विलास को राज्य के गरीबों की सेवा के लिए एक पब्लिक स्कूल और सार्वजनिक अस्पताल में नहीं बदला जाता, मैं नहीं झुकूँगा। 

सिद्धू बादल और पंजाब के सीएम दोनों पर एक साथ हमला बोलते रहे हैं। इससे पहले उन्होंने दावा किया था कि पंजाब का शो बादल परिवार चला रहा है, कॉन्ग्रेस सरकार नहीं। उन्होंने बीते दिनों आरोप लगाया था, “नौकरशाही और पुलिस बादल परिवार की इच्छा के अनुसार काम करती है, हमारे विधायकों और पार्टी कार्यकर्ताओं की अनदेखी की जाती है।”

सिद्धू के नेतृत्व में असंतुष्ट कॉन्ग्रेस खेमा कई मुद्दों को लेकर सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह से खासा नाराज है। ऐसे में वह वर्ष 2015 में गुरु ग्रंथ साहिब के बेअदबी मामले, उसके बाद कोटकपूरा की पुलिस फायरिंग के मामले, कथित ड्रग माफिया पर नकेल कसने, बिजली खरीद समझौतों पर फिर से बातचीत करने जैसे विभिन्न मुद्दों को लेकर सीएम पर निशाना साधते रहे हैं।

नवजोत सिंह सिद्धू ने कहा था कि बेअदबी मामले को लेकर बादल सरकार और बाद में कॉन्ग्रेस सरकार के दौरान कोई न्याय नहीं हुआ। उन्होंने 26 जून को सुखबीर सिंह बादल के एक ट्वीट का जवाब देते हुए लिखा था, ”श्री गुरु ग्रंथ साहिब की बेअदबी के मामले को छह साल बीत गए हैं न तो आपके दो साल में इंसाफ मिला है न पिछले साढ़े चार साल में इस पर कोई इंसाफ हुआ है। अब नई एसआईटी जब इस काम को निपटा रही है, तो आप इसे राजनीतिक हस्तक्षेप बता रहे हैं। राजनीतिक हस्तक्षेप यह नहीं है, बल्कि वह था जिसमें छह साल से बेअदबी मामले में लोगों को इंसाफ नहीं मिला।”

सिद्धू ने आरोप लगाया कि बेअदबी की घटना के लिए बादल जिम्मेदार हैं। उन्होंने कहा था कि प्रकाश सिंह बादल सरकार ने ही कोटकपूरा में गोलीबारी का आदेश दिया था।

सिद्धू ने कहा था कि सिख समुदाय बादल को इन घटनाओं के लिए जिम्मेदार ठहराते हुए उनका विरोध कर रहा है। बता दें कि नवजोत सिंह सिद्धू ने आज दिल्ली में प्रियंका गाँधी वाड्रा से मुलाकात की।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘ये हिन्दू संस्कृति में ही संभव’: जिस बाघिन के कारण ‘टाइगर स्टेट’ बन गया मध्य प्रदेश, उसका सनातन रीति-रिवाज से हुआ अंतिम संस्कार

मध्य प्रदेश के पेंच नेशनल पार्क की ‘कॉलरवाली बाघिन’ के नाम से मशहूर बाघिन का हिंदू रीति-रिवाज से अंतिम संस्कार किया गया।

‘नहीं करने देंगे PM मोदी सुरक्षा चूक की जाँच’: जस्टिस इंदु मल्होत्रा को SFJ की धमकी, वकीलों से कहा – तुम सब खतरे में...

सुप्रीम कोर्ट ने पीएम मोदी की सुरक्षा चूक की जाँच के लिए जस्टिस इंदु मल्होत्रा के नेतृत्व में एक समिति का गठन किया था। SFJ ने उन्हें धमकी दी है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
151,731FollowersFollow
413,000SubscribersSubscribe