Tuesday, July 23, 2024
Homeदेश-समाज'हाथ मा झाड़ू लीलू लीलू, AAP-मुस्लिम इलू-इलू' : गुजरात में 'मुस्लिम फाइटर्स क्लब' ने...

‘हाथ मा झाड़ू लीलू लीलू, AAP-मुस्लिम इलू-इलू’ : गुजरात में ‘मुस्लिम फाइटर्स क्लब’ ने दिया केजरीवाल को समर्थन, नमाज के बाद गूँजे अल्लाह-हू-अकबर के नारे

मुस्लिम फाइटर्स क्लब के इमरानभाई ने कहा, “आज हम घोषणा करते हैं कि हमारे पास केवल एक नेता है, अरविंद केजरीवाल। वही हमें आगे ले जा सकते हैं। आज 'मुस्लिम फाइटर्स क्लब' में 3,000 परिवार हैं, कल 30,000 और फिर 3,00,000 होंगे। लेकिन हम घोषणा कर रहे हैं कि हम आखिरी साँस तक आम आदमी पार्टी को वोट देंगे।"

अहमदाबाद के जुहापुरा स्थित ‘मुस्लिम फाइटर्स क्लब’ ने गुजरात विधानसभा चुनाव (Gujarat Assembly Election) से एक सप्ताह पहले रविवार (27 नवंबर, 2022) को एक मीटिंग की। इस मीटिंग में करीब 3,000 मुस्लिम परिवारों ने अरविंद केजरीवाल के नेतृत्व वाली आम आदमी पार्टी के प्रति अपनी निष्ठा की कसम खाई। इस्लामिक आयतें पढ़ने वाले एक मौलाना की मौजूदगी में ‘नारा-ए-तकबीर-अल्लाहु अकबर’ के नारों के बीच ‘मुस्लिम फाइटर्स क्लब’ ने अरविंद केजरीवाल को अपना समर्थन दिया।

‘मुस्लिम फाइटर्स क्लब’ ने इस बैठक में केजरीवाल के पक्ष में नारे भी लगाए। इसमें से एक नारा, “हाथ मा झाड़ू लीलू लीलू, आप-मुस्लिम इलू-इलू” था। इस नारे में, हाथ में झाड़ू आम आदमी पार्टी के चुनाव चिन्ह के लिए उपयोग किया गया था। वहीं, आप और मुसलमानों के लिए इलू-इलू का मतलब ‘आई लव यू’ था। दरअसल, इलू का उपयोग ‘आई लव यू’ के लिए किया जाता है। वहीं, दूसरा नारा ‘वोट फॉर मैगी’ था। इस नारे में मैगी का मतलब मनीष सिसोदिया (म), अरविंद केजरीवाल (अ), गोपाल इटालिया (ग) और इसुदन गढ़वी (ई) है।

इस मीटिंग में इकट्ठा हुए मुस्लिम समुदाय ने कॉन्ग्रेस पर मुसलमानों का फायदा उठाने का आरोप लगाया। ‘मुस्लिम फाइटर्स क्लब’ चलाने वाले इमरानभाई ने कहा, “मुस्लिम समुदाय हमेशा नफरत का शिकार रहा है और सिर्फ केजरीवाल ही मुसलमानों के सच्चे हितैषी हैं। मैंने दिल्ली में अपने मुस्लिम भाइयों से बात की है और उन्होंने कहा है कि उनकी स्थिति में सुधार हुआ है। अरविंद केजरीवाल दुनिया के हर हिस्से के मुसलमानों का ख्याल रखते हैं।” उन्होंने यह भी कहा है केजरीवाल मुस्लिम शरणार्थियों का भी ख्याल रखते हैं। हालाँकि, उन्होंने यह नहीं बताया कि मुस्लिम शरणार्थियों से उनका क्या आशय था।

गौरतलब है कि जनवरी 2020 में यह खबर सामने आई थी कि आम आदमी पार्टी के अमानतुल्लाह खान और अरविंद केजरीवाल की दिल्ली सरकार व्यवस्थित रूप से दिल्ली में अवैध रोहिंग्या मुसलमानों को बसा रही थी। इसके अलावा, रोहिंग्या उत्तर प्रदेश सरकार के सिंचाई विभाग की करीब 5.2 एकड़ जमीन पर भी बसे हुए हैं। इस जमीन का खसरा नंबर 612 है। इस जमीन पर रोहिंग्या और बांग्लादेशी मुस्लिम अवैध रूप से रह रहे हैं।

ऑपइंडिया ने एक रिपोर्ट में बताया था कि ओखला के गरीबों ने अमानतुल्लाह खान के निर्वाचन क्षेत्र में राशन वितरण में धार्मिक भेदभाव का आरोप लगाया था। स्थानीय लोगों का कहना था कि वह हिन्दू हैं और उन्होंने आम आदमी पार्टी को वोट नहीं दिया इसलिए उन्हें राशन नहीं दिया जा रहा।

इमरानभाई ने आगे कहा, “आज हम घोषणा करते हैं कि हमारे पास केवल एक नेता है, अरविंद केजरीवाल। वही हमें आगे ले जा सकते हैं। आज ‘मुस्लिम फाइटर्स क्लब’ में 3,000 परिवार हैं, कल 30,000 और फिर 3,00,000 होंगे। लेकिन हम घोषणा कर रहे हैं कि हम आखिरी साँस तक आम आदमी पार्टी को वोट देंगे।”

इस मीटिंग में 2002 की रेप पीड़िता बिलकिस बानो भी मौजूद थीं। बिलकिस ने कहा कि केजरीवाल एक शिक्षित नेता हैं और उन्होंने शिक्षा के क्षेत्र में अच्छा काम किया है। इसलिए, मुसलमानों को AAP को वोट देना चाहिए।

आप उम्मीदवार भोलूभाई पटेल के चचेरे भाई पराग पटेल भी इस मीटिंग के दौरान मौजूद थे। उन्होंने कहा, “मुस्लिम समुदाय को समर्थन देने के लिए धन्यवाद दिया। हम हिंदू-मुस्लिम भाई-भाई हैं और हमें हमेशा एक-दूसरे की जरूरत रहेगी।” इस मीटिंग के बाद, मंच पर मौजूद मौलाना ने इस्लामिक नमाज पढ़ी और अल्लाहु अकबर के नारे लगाए।

क्या है मुस्लिम फाइटर्स क्लब…

मुस्लिम फाइटर्स क्लब के इमरानभाई का दावा है कि यह लगभग 3,000 परिवारों का एक समूह है जो मुसलमानों के अधिकारों के लिए लड़ता है और शादियों और ऐसी अन्य स्थितियों में एक दूसरे की मदद करता है। क्लब लंबे समय से आम आदमी पार्टी का समर्थक रहा है लेकिन चुनाव से पहले वे खुलकर आप के समर्थन में आ गए हैं। उन्होंने दावा किया कि उनके क्लब के सदस्यों का गुजरात के 7-8 निर्वाचन क्षेत्रों पर प्रभाव है। उन्होंने गुजरात के सभी मुसलमानों से आप को वोट देने की अपील की है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘कोई भी कार्रवाई हो तो हमारे पास आइए’: हाईकोर्ट ने 6 संपत्तियों को लेकर वक्फ बोर्ड को दी राहत, सेन्ट्रल विस्टा के तहत इन्हें...

दिसंबर 2021 में सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने हाईकोर्ट को आश्वासन दिया था कि वक्फ बोर्ड की संपत्तियों को कोई नुकसान नहीं पहुँचाया जाएगा।

‘कागज़ पर नहीं, UCC को जमीन पर उतारिए’: हाईकोर्ट ने ‘तीन तलाक’ को बताया अंधविश्वास, कहा – ऐसी रूढ़िवादी प्रथाओं पर लगे लगाम

मध्य प्रदेश हाई कोर्ट ने कहा है कि समान नागरिक संहिता (UCC) को कागजों की जगह अब जमीन पर उतारने की जरूरत है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -