Sunday, July 14, 2024
Homeराजनीतितमिलनाडु के मंत्री अनीता राधाकृष्णन ने PM मोदी को दी गाली: BJP बोली- द्रमुक...

तमिलनाडु के मंत्री अनीता राधाकृष्णन ने PM मोदी को दी गाली: BJP बोली- द्रमुक नेता का ये ‘घृणित कृत्य’, चुनाव आयोग और DGP से करेंगे शिकायत

इस बयान पर भाजपा ने कड़ी आपत्ति जताई है। केंद्रीय मंत्री अनुराग सिंह ठाकुर ने कहा, “हम तमिलनाडु के मंत्री द्वारा उनकी पार्टी की महिला सांसद के सामने देश के 140 करोड़ लोगों के प्रधानमंत्री के खिलाफ दिए गए बयानों का कड़ा विरोध करते हैं। लोकतंत्र में ऐसी भाषा का कोई स्थान नहीं है। यह घृणित और निंदनीय है। I.N.D.I. गठबंधन को माफ़ी माँगनी चाहिए।"

तमिलनाडु की द्रविड़ मुनेत्र कड़गम (DMK) सरकार में मंत्री अनीता राधाकृष्णन ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को अपशब्द कहा है। इस पर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने सरकार और राधाकृष्णन की कड़ी आलोचना करते हुए इसे एक घिनौना कृत्य बताया। तमिलनाडु भाजपा ने कहा कि विपक्षी गठबंधन की अंतरात्मा मर चुकी है।

दरअसल, तमिलनाडु की मत्स्य एवं पशुपालन मंत्री अनीता राधाकृष्णन ने एक चुनावी रैली में कहा कि प्रधानमंत्री मोदी ने वोट हासिल करने के लिए सरदार वल्लभाई पटेल और कामराज जैसे नेताओं को सम्मानित किया है। उन्होंने कहा, “पटेल समुदाय का वोट लेने के लिए सरदार वल्लभाई पटेल की मूर्ति बनवाई। ऐसी घृणित रणनीति का इस्तेमाल प्रधानमंत्री मोदी करते हैं।”

द्रमुक नेता ने पिछले हफ्ते तमिलनाडु के सेलम में पीएम मोदी द्वारा दिए गए भाषण पर भी टिप्पणी की। उन्होंने कहा, “मैं पूछ रहा हूँ कि सेलम में बोलते समय उन्होंने (पीएम मोदी) कामराजार के बारे में ऐसे बोला जैसे कामराजार ने उन्हें गले लगाया हो। मा***द, हम जानते हैं कि तुम लोगों ने क्या किया है। जब वे दिल्ली में थे तो तुम लोगों ने उन्हें मारने की कोशिश की।”

इस बयान पर भाजपा ने कड़ी आपत्ति जताई है। केंद्रीय मंत्री अनुराग सिंह ठाकुर ने कहा, “हम तमिलनाडु के मंत्री द्वारा उनकी पार्टी की महिला सांसद के सामने देश के 140 करोड़ लोगों के प्रधानमंत्री के खिलाफ दिए गए बयानों का कड़ा विरोध करते हैं। लोकतंत्र में ऐसी भाषा का कोई स्थान नहीं है। यह घृणित और निंदनीय है। I.N.D.I. गठबंधन को माफ़ी माँगनी चाहिए।”

पार्टी ने अपने X पोस्ट में लिखा, “कड़ी निंदा! डीएमके मंत्री अनीता राधाकृष्णन ने हमारे प्रिय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, जो एक साधारण पृष्ठभूमि से आते हैं और जिन्होंने अपना पूरा जीवन भारत के लोगों के लिए समर्पित कर दिया है, के बारे में घृणित बात कही है। डीएमके सांसद कनिमोझी इस घृणित कृत्य की गवाह बनी है! लेकिन, यह आश्चर्य की बात नहीं है!”

पार्टी ने आगे लिखा, “वास्तव में यह घृणित और अशिष्ट राजनीतिक संस्कृति द्रमुक के डीएनए में है! इससे खराब और क्या होगा? इस अश्लील बयान की निंदा किए बिना कनिमोझी मंच पर भाषण का आनंद लेती हैं। इससे उनका छद्म नारीवाद उजागर होता है! लोग डीएमके और इंडी गठबंधन को सबक सिखाएँगे। कानून भी अपना काम करेगा! इस बार ‘उगता सूरज’ (DMK का चुनाव चिह्न) क्षितिज से नीचे चला जाएगा!”

तमिलनाडु भाजपा के अध्यक्ष के अन्नामलाई ने कहा कि इस मामले को वो चुनाव आयोग और DGP के पास ले जाएँगे और आरोपितों के खिलाफ कड़े कदम उठाने की माँग करेंगे। उन्होंने कहा कि डीएमके नेता पीएम मोदी के खिलाफ भद्दी टिप्पणी और अक्षम्य सार्वजनिक बयान देकर अपने आचरण के सबसे निचले स्तर पर पहुँच गए हैं। उनके पास आलोचना करने के लिए कुछ नहीं है, वे इस स्तर तक गिर गए।

अन्नामलाई ने कहा, “डीएमके सांसद श्रीमती कनिमोझी मंच पर मौजूद थीं और उन्होंने अपने सहयोगी को रोकने की जहमत भी नहीं उठाई। तमिलनाडु भाजपा इस मामले को चुनाव आयोग और तमिलनाडु राज्य पुलिस के डीजीपी के साथ उठा रही है। हम डीएमके मंत्री अनीता राधाकृष्णन के खिलाफ सख्त और तत्काल कार्रवाई की माँग कर रहे हैं।”

तमिलनाडु भाजपा के नेता कार्तिक गोपीनाथ ने द्रमुक राजनेता के शर्मनाक बयानों की निंदा की और कहा, “तमिलनाडु राज्य के मंत्री अनीता राधाकृष्णन प्रधानमंत्री को गाली देते हैं और यह राज्य पुलिस मूकदर्शक बनी हुई है। इस आदतन अपराधी को मुख्यमंत्री एमके स्टालिनन को उनके मंत्री पद से बाहर कर देना चाहिए।”

उन्होंने पहले की घटनाओं का भी जिक्र किया, जिनमें विपक्षी दल के नेताओं ने प्रधानमंत्री का अपमान किया था। उन्होंने कहा कि सोनिया गाँधी, राहुल गाँधी और मल्लिकार्जुन खड़गे ने इस मामले पर कोई प्रतिक्रिया नहीं दी। उन्होंने पूछा, “मैं आपसे पूछना चाहता हूँ कि क्या आप ऐसे लोगों की रक्षा कर रहे हैं।”

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

NITI आयोग की रिपोर्ट में टॉप पर उत्तराखंड, यूपी ने भी लगाई बड़ी छलाँग: 9 साल में 24 करोड़ भारतीय गरीबी से बाहर निकले

NITI आयोग ने सस्टेनेबल डेवलपमेंट गोल्स (SDG) इंडेक्स 2023-24 जारी की है। देश में विकास का स्तर बताने वाली इस रिपोर्ट में उत्तराखंड टॉप पर है।

लैंड जिहाद की जिस ‘मासूमियत’ को देख आगे बढ़ जाते हैं हम, उससे रोज लड़ते हैं प्रीत सिंह सिरोही: दिल्ली को 2000+ मजार-मस्जिद जैसी...

प्रीत सिरोही का कहना है कि वह इन अवैध इमारतों को खाली करवाएँगे। इन खाली हुई जमीनों पर वह स्कूल और अस्पताल बनाने का प्रयास करेंगे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -