Tuesday, October 19, 2021
Homeराजनीति'7 दिन में शांतिपुर छोड़ो, नहीं तो हत्या के जिम्मेदार खुद होगे': बीजेपी में...

‘7 दिन में शांतिपुर छोड़ो, नहीं तो हत्या के जिम्मेदार खुद होगे’: बीजेपी में गए MLA को दीवारों पर लिखकर धमकी

यह मामला ऐसे समय में सामने आया है जब भाजपा अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा नदिया से शनिवार को राजव्यापी रथ यात्रा की शुरुआत करने वाले हैं।

पश्चिम बंगाल में अगले कुछ महीनों में विधानसभा चुनाव होने हैं। उससे पहले राज्य में राजनीतिक हिंसा और सत्ताधारी तृणमूल कॉन्ग्रेस (TMC) में भगदड़ जोरों पर है। हाल ही में टीएमसी छोड़ बीजेपी में शामिल हुए विधायक अरिंदम भट्टाचार्य को खुलेआम धमकी दी जा रही है।

दीवारों पर लिखा गया है, “7 दिन में शांतिपुर छोड़ो वरना अपनी हत्या के लिए तुम खुद जिम्मेदार होगे।” अरिंदम ने इस घटना की जानकारी होने पर चुनौती स्वीकार करते हुए कहा है, “मैं शांतिपुर छोड़कर नहीं जाऊँगा।”

नदिया के शांतिपुर में दीवारों पर लिखकर भट्टाचार्य को हत्या की धमकी दी गई है। यह मामला ऐसे समय में सामने आया है जब भाजपा अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा नदिया से शनिवार (6 फरवरी 2021) को राजव्यापी परिवर्तन रथ यात्रा की शुरुआत करने वाले हैं। पार्टी ने इस तरह की घटना की निंदा की है। राज्य की स्थिति देखते हुए चुनाव आयोग से सेंट्रल फोर्स की तैनाती की माँग की है।

जानकारी के अनुसार बीजेपी के प्रतिनिधिमंडल ने राज्यसभा सांसद स्वप्नदास गुप्ता के नेतृत्व में चुनाव आयोग को पत्र लिख कर सेंट्रल फोर्स को राज्य में तैनात करने की माँग की है। चुनावों के मद्देनजर पार्टी ने यह माँग इसलिए उठाई है ताकि इलेक्शन निष्पक्षता के साथ संपन्न हों। पार्टी ने कहा है कि ऐसे पुलिस कर्मी भी पूरी प्रक्रिया से दूर रहने चाहिए जिन पर बीते समय में किसी राजनीतिक पार्टी से जुड़े होने का आरोप हो।

अरिंदम भट्टाचार्य को दी जा रही धमकी को लेकर बीजेपी महासचिव व बंगाल के प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय ने ट्वीट कर कहा है, “ये कैसी कानून-व्यवस्था। बंगाल में किस तरह का लोकतंत्र चल रहा है, ये उसी का एक नमूना है। शांतिपुर नादिया की दीवारों पर विधायक श्री अरिंदम भट्टाचार्य को खुली धमकी लिखी है, ‘7 दिन में शांतिपुर छोड़ दो, नहीं तो तुम्हारे खून के जिम्मेदार तुम खुद होगे।’ तृणमूल का जनताविहीन लोकतंत्र।”

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘बांग्लादेश का नया नाम जिहादिस्तान, हिन्दुओं के दो गाँव जल गए… बाँसुरी बजा रहीं शेख हसीना’: तस्लीमा नसरीन ने साधा निशाना

तस्लीमा नसरीन ने बांग्लादेश में हिंदुओं पर कट्टरपंथी इस्लामियों द्वारा किए जा रहे हमले पर प्रधानमंत्री शेख हसीना पर निशाना साधा है।

पीरगंज में 66 हिन्दुओं के घरों को क्षतिग्रस्त किया और 20 को आग के हवाले, खेत-खलिहान भी ख़ाक: बांग्लादेश के मंत्री ने झाड़ा पल्ला

एक फेसबुक पोस्ट के माध्यम से अफवाह फैल गई कि गाँव के एक युवा हिंदू व्यक्ति ने इस्लाम मजहब का अपमान किया है, जिसके बाद वहाँ एकतरफा दंगे शुरू हो गए।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
129,820FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe