Friday, May 20, 2022
Homeराजनीति'प्रज्ञा ठाकुर कभी MP आई तो उसका पुतला नहीं बल्कि उसे पूरा का पूरा...

‘प्रज्ञा ठाकुर कभी MP आई तो उसका पुतला नहीं बल्कि उसे पूरा का पूरा जिंदा जला देंगे’

विधायक की यह धमकी एसपीजी विधेयक पर संसद में चर्चा के दौरान साध्वी प्रज्ञा की टिप्पणी के बाद आई है। शायद कॉन्ग्रेसी विधायक को अपने 'आका' पर की गई टिप्पणी पसंद न आई हो और...

मध्य प्रदेश के एक कॉन्ग्रेस विधायक ने भोपाल की भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की सांसद साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर को धमकी दी है। धमकी छोटी-मोटी नहीं। जिंदा जला डालने की धमकी। विधायक ने कहा – प्रज्ञा ठाकुर राज्य में प्रवेश करेंगी तो उन्हें ज़िंदा जला दिया जाएगा।

साध्वी प्रज्ञा के ख़िलाफ़ ज़हर उगलने वाले बियोरा के कॉन्ग्रेसी विधायक गोवर्धन दांगी ने गुरुवार (28 नवंबर) को यह धमकी दी है। विधायक की यह धमकी विशेष सुरक्षा समूह (एसपीजी) विधेयक पर संसद में चर्चा के दौरान संसद में प्रज्ञा ठाकुर की टिप्पणी के बाद आई है। शायद कॉन्ग्रेसी विधायक को अपने ‘आका’ पर की गई टिप्पणी पसंद न आई हो और उन्होंने अपनी मर्दवादी सोच के तहत एक महिला सांसद को धमकी दे डाली – “प्रज्ञा ठाकुर कभी आई तो उसका पुतला नहीं बल्कि उसे पूरा का पूरा जिंदा जला भी देंगे।”

हालाँकि कॉन्ग्रेस विधायक दांगी ने ‘गाँधी परिवार भक्ति’ से किनारा करते हुए महात्मा गाँधी और गोडसे पर साध्वी प्रज्ञा के कथित कमेंट को लेकर गुस्सा जाहिर किया। उन्होंने कहा कि एक तरफ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने महात्मा गाँधी की जयंती पर कई तरह के कार्यक्रम आयोजित किए और पूरे देश में शांति का संदेश दिया। वहीं, दूसरी तरफ भाजपा की सांसद संसद में बैठकर महात्मा गाँधी के हत्यारे को देशभक्त कह रही हैं, यह दोहरी नीति है।

लोकसभा सांसद द्वारा संसद में नाथूराम गोडसे का ज़िक्र किए जाने के एक दिन बाद भाजपा ने प्रज्ञा सिंह ठाकुर को शीतकालीन सत्र के बाकी दिनों के लिए सभी संसदीय दल की बैठकों में भाग लेने से रोक दिया।

दरअसल, भोपाल की सांसद साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर के लोकसभा में दिए गए बयान से संसद में काफ़ी हंगामा मच गया था। गुरुवार को उनकी संसदीय सीट भोपाल में साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर के ख़िलाफ़ प्रदर्शन हुए। जानकारी के अनुसार, सदन में द्रमुक सदस्य ए राजा ने चर्चा में भाग लेते हुए नकारात्मक मानसिकता को लेकर गोडसे का उदाहरण दिया तो प्रज्ञा ठाकुर अपने स्थान पर खड़ी हो गईं और कहा कि ‘देशभक्तों का उदाहरण मत दीजिए’।

इसके बाद प्रज्ञा ठाकुर ने ट्वीट किया, “कभी-कभी झूठ का बवंडर इतना गहरा होता है कि दिन में भी रात लगने लगती है. किंतु सूर्य अपना प्रकाश नहीं खोता, पलभर के बवंडर में लोग भ्रमित न हों, सूर्य का प्रकाश स्थाई है। सत्य यही है कि कल मैंने ऊधम सिंह जी का अपमान नहीं सहा, बस।”

यह भी पढ़ें: गाँधी को गोली मारने से गोडसे की देशभक्ति गायब हो जाती है? समय है इस पर खुली चर्चा का

यह भी पढ़ें: साध्वी प्रज्ञा: जिसने टूटी रीढ़ के साथ हिन्दू टेरर के नैरेटिव को छिन्न-भिन्न कर दिया

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

कॉन्ग्रेस पर प्रशांत किशोर का डायरेक्ट वार: चिंतन शिविर पर उठाए सवाल, कहा- गुजरात-हिमाचल में भी होगी हार

चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर ने कॉन्ग्रेस पर तंज कसते हुए कहा कि इस चिंतन शिविर से पार्टी में कुछ बदलाव नहीं आने वाला है।

औरंगजेब मंदिर विध्वंस का चैंपियन, जमीन आज भी देवता के नाम: सुप्रीम कोर्ट को बताया क्यों ज्ञानवापी हिंदुओं का, कैसे लागू नहीं होता वर्शिप...

सुप्रीम कोर्ट में जवाबी याचिका में हिंदू पक्ष ने ज्ञानवापी मामले में कहा कि औरंगजेब ने मंदिर ध्वस्त कर भूमि को किसी को सौंपा नहीं था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
187,460FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe